1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. अमेरिका
  5. अमेरिकी सैनिक ने माना, जानकारियां और ड्रोन देकर की थी इस्लामिक स्टेट की मदद की कोशिश

अमेरिकी सैनिक ने माना, जानकारियां और ड्रोन देकर की थी इस्लामिक स्टेट की मदद की कोशिश

अमेरिका के हवाई राज्य के एक सैनिक ने माना है कि उसने कुख्यात आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट की मदद करने की कोशिश की थी।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: August 30, 2018 15:42 IST
US soldier pleads guilty to trying to help Islamic State | AP File- India TV
US soldier pleads guilty to trying to help Islamic State | AP File

होनोलुलु: अमेरिका के हवाई राज्य के एक सैनिक ने माना है कि उसने कुख्यात आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट की मदद करने की कोशिश की थी। प्रथम श्रेणी के सार्जेंट इकाइका कांग की इस स्वीकारोक्ति के बाद उसे 25 साल तक कैद की सजा हो सकती है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, सैनिक द्वारा इस्लामिक स्टेट के मदद की यह घटना 8 जुलाई 2017 की है। सैनिक ने माना है कि उसने इस्लामिक स्टेट के लोगों को गोपनीय सैन्य सुरक्षा जानकारी मुहैया कराई थी।

इसके साथ ही कांग ने यह भी स्वीकार किया कि उसने अमेरिकी सैनिकों की गतिविधियों का पता लगाने के लिए ड्रोन दिया, जिसके बारे में उसका मानना था कि वह आतंकवादी समूह के सदस्य हैं। कांग ने बहुत ही स्पष्ट और आत्मविश्वास भरी आवाज में जज को बताया कि उन पर पिछले साल दायर सभी 4 आरोपों में दोषी है। कांग ने कहा, 'मैंने गोपनीय, सामान्य दस्तावेज सहित ड्रोन भी इस्लामिक स्टेट को मुहैया कराए।'

कांग को सेना ने एक एयर ट्रैफिक कंट्रोलर के तौर पर ट्रेनिंग दी थी। उसने इस्लामिक स्टेट के आतंकियों को रेडियो फ्रीक्वेंसी, मिशन के तरीकों समेत अन्य कई गोपनीय जानकारियां दी थीं। एक मीटिंग में तो कांग ने इस्लामिक स्टेट के झंडे को भी चूमा था और आतंकी संगठन के प्रति अपनी प्रतिबद्धता जताई थी। बताया जाता है कि कांग को इस्लामिक स्टेट से जुड़े वीडियो देखना काफी पसंद था जिनमें संगठन के आतंकी तमाम आपराधिक कृत्यों को अंजाम देते हुए दिखाई देते थे।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। US News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Write a comment