1. You Are At:
  2. होम
  3. विदेश
  4. अमेरिका
  5. ‘शटडाउन’ से जूझते अमेरिका को निकालने के लिए अंतिम कोशिश करेंगे सांसद!

‘शटडाउन’ से जूझते अमेरिका को निकालने के लिए अंतिम कोशिश करेंगे सांसद!

अमेरिका के सांसद बजट को लेकर बने गतिरोध को दूर करने की रविवार को अंतिम कोशिश करेंगे...

Reported by: Bhasha [Published on:21 Jan 2018, 4:42 PM IST]
Representational Image | AP Photo- India TV
Representational Image | AP Photo

वॉशिंगटन: अमेरिका के सांसद बजट को लेकर बने गतिरोध को दूर करने की रविवार को अंतिम कोशिश करेंगे। अमेरिकी सीनेट द्वारा व्यय विधेयक खारिज कर दिए जाने के कारण 5 साल में पहली बार अमेरिकी सरकार का कामकाज ठप हो गया है और सोमवार से संघीय सरकार के कर्मी बिना वेतन के अपने घर पर रहने को मजबूर होंगे। संघीय सरकार के कर्मियों के अगले सप्ताह की शुरूआत बिना वेतन के अपने घर पर करने से पहले अमेरिकी सांसद इस गतिरोध को दूर करने की कोशिश करेंगे।

इस बंद का असर शुक्रवार की मध्यरात्रि से ही शुरू हो गया लेकिन अब तक इसका असर सीमित है। यदि यह गतिरोध चलता रहा तो इसके काफी गंभीर परिणाम होंगे। आवश्यक संघीय सेवाएं और सैन्य गतिविधि जारी रहेंगी लेकिन अमेरिकी सरकार के साथ कोई समझौता नहीं होने तक डयूटी पर मौजूद सैनिकों को वेतन नहीं दिया जायेगा। वर्ष 1990 से 4 बाद सरकारी कामकाज ठप हो चुके हैं। इससे पहले सरकार का कामकाज 2013 में बंद हुआ था और 8 लाख से ज्यादा सरकारी कर्मचारियों को अस्थाई छुट्टी पर भेजा गया था। अमेरिकी सरकार के एक कर्मचारी नोइल जोल ने वॉशिंगटन में AFP को बताया कि हमें अभी केवल इंतजार करना होगा और यह काफी डरावना है।

हालांकि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कामकाज बंदी के लिए डेमोक्रेट्स को जिम्मेदार बताया। यह प्रकरण ट्रंप द्वारा देश के 45वें राष्ट्रपति के रूप में शपथ लिए जाने के ठीक एक साल बाद हुआ है। शुक्रवार की दोपहर एक समझौता होता हुआ प्रतीत हुआ था जब ट्रंप ने खुद को एक मुख्य वार्ताकार के रूप में पेश किया था। डेमोक्रेटिक सीनेट के अल्पसंख्यक नेता चक शूमेर के साथ एक समझौता होने की संभावना थी लेकिन यह नहीं हो पाया।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। US News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Web Title: US shutdown: Republicans seek key vote to reopen US government
Write a comment