1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. अमेरिका
  5. जैश-ए-मोहम्मद, लश्कर भारतीय उपमहाद्वीप में बने हुए हैं खतरा, भारत में लगातार कर रहे हैं हमले

जैश-ए-मोहम्मद, लश्कर भारतीय उपमहाद्वीप में बने हुए हैं खतरा, भारत में लगातार कर रहे हैं हमले

अमेरिका ने बुधवार को कहा कि जैश-ए-मोहम्मद और लश्कर-ए-तैयबा आतंकवादी समूह लगातार क्षेत्रीय खतरा पैदा कर रहे हैं और पाकिस्तान ने 2017 में आतंकवाद पर अमेरिका की चिंताओं पर पर्याप्त रूप से ध्यान नहीं दिया।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: September 20, 2018 8:30 IST
जैश-ए-मोहम्मद, लश्कर भारतीय उपमहाद्वीप में बने हुए हैं खतरा, भारत में लगातार कर रहे हैं हमले- India TV
जैश-ए-मोहम्मद, लश्कर भारतीय उपमहाद्वीप में बने हुए हैं खतरा, भारत में लगातार कर रहे हैं हमले

वाशिंगटन: अमेरिका ने बुधवार को कहा कि जैश-ए-मोहम्मद और लश्कर-ए-तैयबा आतंकवादी समूह लगातार क्षेत्रीय खतरा पैदा कर रहे हैं और पाकिस्तान ने 2017 में आतंकवाद पर अमेरिका की चिंताओं पर पर्याप्त रूप से ध्यान नहीं दिया। अमेरिका के विदेश विभाग ने साल 2017 के लिए आतंकवाद पर वार्षिक कंट्री रिपोर्ट में कहा कि हालांकि अफगानिस्तान और पाकिस्तान में अल-कायदा कमजोर पड़ा है लेकिन भारतीय उपमहाद्वीप में इसका क्षेत्रीय संगठन अल-कायदा क्षेत्र में अपनी गतिविधियां जारी रख रहा है।

इसमें कहा गया है, ‘‘पाकिस्तान स्थित जैश-ए-मोहम्मद और लश्कर-ए-तैयबा उपमहाद्वीप में अब भी क्षेत्रीय खतरा बने हुए हैं। पाकिस्तान ने 2017 में इन चिंताओं पर पर्याप्त रूप से ध्यान नहीं दिया।’’ रिपोर्ट में कहा गया, ‘‘भारत लगातार हमले झेलता रहा, पाकिस्तानी आतंकी संगठनों की ओर से और आदिवासी तथा माओवादियों की तरफ से भी। भारतीय अधिकारियों ने पाकिस्तान को जम्मू कश्मीर में सीमा पार से होने वाले हमलों का जिम्मेदार ठहराया।’’

अमेरिका ने बुधवार को कहा कि जैश-ए-मोहम्मद और लश्कर-ए-तैयबा आतंकवादी समूह लगातार क्षेत्रीय खतरा पैदा कर रहे हैं और पाकिस्तान ने 2017 में आतंकवाद पर अमेरिका की चिंताओं पर पर्याप्त रूप से ध्यान नहीं दिया।

इसमें कहा गया है, ‘‘पाकिस्तान स्थित जैश-ए-मोहम्मद और लश्कर-ए-तैयबा उपमहाद्वीप में अब भी क्षेत्रीय खतरा बने हुए हैं। पाकिस्तान ने 2017 में इन चिंताओं पर पर्याप्त रूप से ध्यान नहीं दिया।’’

अमेरिका के विदेश विभाग ने साल 2017 के लिए आतंकवाद पर वार्षिक कंट्री रिपोर्ट में कहा कि हालांकि अफगानिस्तान और पाकिस्तान में अल-कायदा कमजोर पड़ा है लेकिन भारतीय उपमहाद्वीप में इसका क्षेत्रीय संगठन अल-कायदा क्षेत्र में अपनी गतिविधियां जारी रख रहा है।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। US News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Write a comment
budget-2019