1. You Are At:
  2. होम
  3. विदेश
  4. अमेरिका
  5. अमेरिका और चीन के बीच जल्द होगी उच्च स्तरीय बैठक

अमेरिका और चीन के बीच जल्द होगी उच्च स्तरीय बैठक

द्विपक्षीय आर्थिक संबंधों में पुन: संतुलित स्थापित करने और व्यापार मोर्चे पर जारी टकराव को समाप्त करने के उद्देश्य से अमेरिका एवं चीन के शीर्ष अधिकारी इस हफ्ते यहां एक उच्च-स्तरीय बैठक करेंगे। व्हाइट हाउस ने इसकी जानकारी दी है।

Edited by: India TV News Desk [Published on:17 May 2018, 2:11 PM IST]
US and China will soon have a high level meeting- India TV
US and China will soon have a high level meeting

वॉशिंगटन: द्विपक्षीय आर्थिक संबंधों में पुन: संतुलन स्थापित करने और व्यापार मोर्चे पर जारी टकराव को समाप्त करने के उद्देश्य से अमेरिका एवं चीन के शीर्ष अधिकारी इस हफ्ते यहां एक उच्च-स्तरीय बैठक करेंगे। व्हाइट हाउस ने इसकी जानकारी दी है। अमेरिका के वित्त मंत्री स्टीवन म्नूचिन चीनी प्रतिनिधिमंडल के साथ वार्ता करने वाले उच्च स्तरीय प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व करेंगे। चीनी प्रतिनिधिमंडल की अगुवाई उप प्रधानमंत्री लियू ही करेंगे, जो अमेरिका पहुंच चुके हैं। (हुआ खुलासा, राष्ट्रपति चुनाव के दौरान ट्रंप ने अपने वकील को दिए थे 100,000 डॉलर )

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के विशेष दूत म्नूचिन के नेतृत्व में अमेरिकी प्रतिनिधिमंडल ने तीन मई को लियू की अध्यक्षता में चीनी अधिकारियों के साथ वार्ता की थी। लियू को चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग का करीबी माना जाता है। व्हाइट हाउस ने कल कहा, "यह बैठक बीजिंग के साथ दो सप्ताह पहले हुई बैठक को जारी रखने के लिए है और यह अमेरिका-चीन के द्विपक्षीय आर्थिक संबंधों को फिर संतुलित करने पर केंद्रित होगी।"

अमेरिकी प्रतिनिधिमंडल में वाणिज्य मंत्री विल्बर रोस और अमेरिका के व्यापार प्रतिनिधि रॉबर्ट लाइटहाइजर समेत अन्य शामिल हैं। उल्लेखनीय है कि विश्व की दो सबसे बड़ी अर्थव्यवस्थाओं के बीच व्यापार टकराव उस वक्त शुरू हुआ जब अमेरिका के राष्ट्रपति ट्रंप ने चीन से आयातित एल्युमीनियम और इस्पात पर शुल्क लगाया। इसके जवाब में चीन ने भी करीब तीन अरब डॉलर के 128 अमेरिकी उत्पादों पर शुल्क लगाया था।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। US News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Web Title: US and China will soon have a high level meeting
Write a comment