1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. अमेरिका
  5. UNSC ने इस्लामिक स्टेट, अल कायदा से जुड़े संगठनों और व्यक्तियों पर पाबंदी लगाई

UNSC ने इस्लामिक स्टेट, अल कायदा से जुड़े संगठनों और व्यक्तियों पर पाबंदी लगाई

संयुक्त राष्ट्र की सुरक्षा परिषद ने 2 सशस्त्र समूहों, दो संस्थाओं और आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट और अल कायदा से संबंधित 4 लोगों पर प्रतिबंध लगाने संबंधी एक प्रस्ताव को सर्वसम्मति से पारित किया है।

IANS IANS
Published on: July 21, 2017 21:29 IST
Representative Image | AP Photo- India TV
Representative Image | AP Photo

संयुक्त राष्ट्र/न्यूयॉर्क: संयुक्त राष्ट्र की सुरक्षा परिषद ने 2 सशस्त्र समूहों, दो संस्थाओं और आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट और अल कायदा से संबंधित 4 लोगों पर प्रतिबंध लगाने संबंधी एक प्रस्ताव को सर्वसम्मति से पारित किया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, प्रतिबंधित किए गए 2 सशस्त्र समूह अल कायदा से संबंधित जुंद अल अक्सा और आइएस से संबंध रखने वाले जैश खालिद इब्न अल वलीद हैं। ये दोनों समूह इस समय सीरिया में लड़ रहे हैं।

आतंकियों को धन मुहैया कराने संबंधी सीरिया के दो व्यापार समूहों- हनीफा मनी एक्सजेंज ऑफिस और सेलसेलट अल थबाब के बारे में माना जाता है कि इनके आतंकी समूहों से वित्तीय संबंध हैं, इसलिए इनकों प्रतिबंधित सूची में रखा गया है। मुहम्मद बहरम नाइम अंगजीह टमटोमो, ओर्ना रोचमान, मुराद इराकफीविच मार्गोशविली और मलिक रुस्लानोविच बर्खानोएव को प्रतिबंधित सूत्री में शामिल किया गया है, क्योंकि इनकी आईएस और अल कायदा से जुड़े आतंकी हमलों में भागीदारी थी। UNSC के प्रस्ताव के अनुसार, इन प्रतिबंधो में परिसंपत्तियों पर रोक लगाना, विश्वभर में आवाजाही पर प्रतिबंध के अलावा हथियारों पर प्रतिबंध शामिल है, जो हथियारों की प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से आपूर्ति या युद्ध संबंधी सामग्रियों को व्यक्तियों और संस्थाओं तक पहुंचने पर रोक लगाता है।

गुरुवार को प्रतिबंधों को जारी करते हुए संयुक्त राष्ट्र में चीन के एम्बेसडर और जुलाई के लिए सुरक्षा परिषद के अध्यक्ष लिउ जीएयी ने कहा, ‘आतंकवाद सभी मानव जाति का शत्रु है। आतंकरोधी अभियानों को एक मानकीय होने का पालन करना चाहिए और संयुक्त राष्ट्र संघ और सुरक्षा परिषद को इन अभियानों में प्रमुख भूमिका निभाने के लिए पूरे अधिकार और सभी देशों के बीच प्रभावी सहयोग को मजबूत करने की जरूरत है।’

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। US News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Write a comment