1. You Are At:
  2. होम
  3. विदेश
  4. अमेरिका
  5. चुनाव में रूसी हस्तक्षेप मामले में मूलर करना चाहते हैं ट्रंप से पूछताछ

चुनाव में रूसी हस्तक्षेप मामले में मूलर करना चाहते हैं ट्रंप से पूछताछ

अमेरिका के पिछले राष्ट्रपति चुनाव में रूस के कथित हस्तक्षेप की जांच कर रहे विशेष काउंसल एवं एफबीआई के पूर्व निदेशक रॉबर्ट मूलर इस मामले में राष्ट्रपति ट्ंरप से पूछताछ करना चाहते हैं।

Edited by: India TV News Desk [Published on:24 Jan 2018, 11:45 AM IST]
Robert Müller wants to questioned trump about russian...- India TV
Robert Müller wants to questioned trump about russian Interference in election

वाशिंगटन: अमेरिका के पिछले राष्ट्रपति चुनाव में रूस के कथित हस्तक्षेप की जांच कर रहे विशेष काउंसल एवं एफबीआई के पूर्व निदेशक रॉबर्ट मूलर इस मामले में राष्ट्रपति ट्ंरप से पूछताछ करना चाहते हैं। एक मीडिया रिपोर्ट से यह जानकारी मिली है।  वाशिंगटन पोस्ट ने मूलर की योजना से परिचित दो लोगों का हवाला देते हुए लिखा है कि विशेष काउंसल राष्ट्रपति ट्रंप से एफबीआई निदेशक जेम्स कोमे और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार मीचेल फीन को पद से हटाये जाने के संबंध में पूछताछ करना चाहते थे। (DAVOS 2018: शुक्रवार को विश्व आर्थिक मंच को संबोधित करेंगे डोनाल्ड ट्रंप )

उन्होंने समाचार पत्र को बताया है कि ट्रंप के अटॉर्नी ने राष्ट्रपति से पूछताछ संबंधी शर्तों पर मूलर की टीम के साथ काम कर रहे हैं। इसे संभवत: अगले सप्ताह मूलर के समक्ष पेश किया जाएगा। पोस्ट ने बताया, “ राष्ट्रपति के विधि दल ने आशा जताई है कि वह ट्रंप के बयान को हाइब्रीड रूप में पेश करेंगे। यानी कुछ सवालों के जवाब मौखिक साक्षात्कार के जरिए दिया जाएगा तो कुछ लिखित बयान में दिया जाएगा।”  एक दिन पहले ही अमेरिकी न्याय विभाग ने इस बात की पुष्टि की है कि अटॉर्नी जनरल जेफ सेशन से भी मूलर ने ट्रंप के राष्ट्रपति अभियान में रूस के कथित हस्तक्षेप के बारे में पूछताछ कर ली है।

मूलर इस संबंध में ट्रंप के कई सहायकों और रिश्तेदारों से पूछताछ कर चुके हैं।  ट्रंप ने इससे पहले ऐसे संकेत दिए थे कि वह मूलर को संभवत: उनसे पूछताछ करने की अनुमित नहीं देंगे।  इसी बीच व्हाइट हाउस ने आज कहा है कि वह पूरी पारदर्शिता का समर्थन करते हैं।  व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव सारा सैंडर्स ने अपने दैनिक संवाददाता सम्मेलन के दौरान बताया, “ हम निश्चित रूप से पूर्ण पारदर्शिता का समर्थन करते हैं।’’ उन्होंने इस बात पर जोर दिया है कि व्हाइट हाउस मूलर के साथ सहयोग करेगा। उन्होंने कहा कि ट्रंप इस विवाद को खत्म करना चाहते हैं।

इंडिया टीवी 'फ्री टू एयर' न्यूज चैनल है, चैनल देखने के लिए आपको पैसे नहीं देने होंगे, यदि आप इसे मुफ्त में नहीं देख पा रहे हैं तो अपने सर्विस प्रोवाइडर से संपर्क करें।
Write a comment
pulwama-attack
australia-tour-of-india-2019