1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. अमेरिका
  5. संयुक्त राष्ट्र के दूत ने कहा, इस्राइल और फिलीस्तीन के बीच भड़क सकती है जंग

संयुक्त राष्ट्र के दूत ने कहा, इस्राइल और फिलीस्तीन के बीच भड़क सकती है जंग

इस्राइल और फिलीस्तीन के बीच पिछले कुछ महीनों से जारी तनाव कम होने का नाम नहीं ले रहा है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: February 21, 2019 10:30 IST
Palestinian-Israeli peace hopes 'fading by the day', says UN's Middle East envoy- India TV
Palestinian-Israeli peace hopes 'fading by the day', says UN's Middle East envoy | AP Representational

संयुक्त राष्ट्र: इस्राइल और फिलीस्तीन के बीच पिछले कुछ महीनों से जारी तनाव कम होने का नाम नहीं ले रहा है। दोनों देशों के बीच एक-दूसरे के खिलाफ तल्ख बयानों का सिलसिला जारी है। वहीं, फिलीस्तीनी नागरिकों और इस्राइली सुरक्षाबलों के बीच झड़प की खबरें भी लगातार आती रही हैं। इस बीच संयुक्त राष्ट्र के पश्चिम एशिया दूत ने कहा है कि हिंसा और अतिवाद बढ़ने के कारण इस्राइल और फिलीस्तीन के बीच जंग के आसार बढ़ते जा रहे हैं।

पश्चिम एशिया के दूत निकोलय म्लादेनोव ने बुधवार को कहा कि इन दोनों देशों के बीच शांति स्थापित होने की उम्मीद ‘दिन-ब-दिन धूमिल होती जा रही है और युद्ध का खतरा बढ़ता जा रहा है।’ निकोलय म्लादेनोव ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद को बताया कि जिस द्विराष्ट्र समाधान पर बात की जा रही है, वह दूर होता जा रहा है। उन्होंने कहा, ‘सबसे पहले बदलाव के लिए आवश्यक नेतृत्व एवं राजनीतिक इच्छाशक्ति की आवश्यकता है। जब तक यह इच्छाशक्ति पैदा नहीं होती, फिलीस्तीन एवं इस्राइल लगातार खतरनाक स्थिति की ओर बढ़ते रहेंगे।’

म्लादेनोव ने कहा कि नेताओं को यह भरोसा करना होगा कि शांति वार्ता के जरिए ही संभव है। उन्होंने कहा कि नेताओं और अंतरराष्ट्रीय समुदाय को संयुक्त राष्ट्र प्रस्तावों एवं द्विपक्षीय समझौतों के आधार पर शांति समझौता करने में इस्राइल और फिलीस्तीन को समर्थन देने के लिए प्रतिबद्ध होना चाहिए। आपको बता दें कि पिछले कुछ महीनों में इस्राइली सुरक्षाबलों और फिलीस्तीनी नागरिको के बीच कई बार झड़प हुई है जिसमें दोनों पक्षों की तरफ से जानमाल का काफी नुकसान हुआ है।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। US News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Write a comment