1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. अमेरिका
  5. UN के जांचकर्ताओं का दावा, म्यांमार में अभी भी हो रहा है रोहिंग्या मुसलमानों का नरसंहार

UN के जांचकर्ताओं का दावा, म्यांमार में अभी भी हो रहा है रोहिंग्या मुसलमानों का नरसंहार

संयुक्त राष्ट्र के जांचकर्ताओं की मानें तो आज भी म्यांमार में रहने वाले रोहिंग्या मुसलमानों का जीवन खतरे में है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: October 25, 2018 13:19 IST
'Ongoing genocide' underway against Rohingya Muslims in Myanmar | AP Representational- India TV
'Ongoing genocide' underway against Rohingya Muslims in Myanmar | AP Representational

संयुक्त राष्ट्र: क्या म्यांमार में रोहिंग्या मुसलमानों पर अभी भी अत्याचार हो रहा है। संयुक्त राष्ट्र के जांचकर्ताओं की मानें तो आज भी म्यांमार में रहने वाले रोहिंग्या मुसलमानों का जीवन खतरे में है। उन्होंने बुधवार को कहा कि म्यांमार में अभी भी रोंहिग्या मुसलमानों का नरसंहार हो रहा है। साथ ही जांचकर्ताओं ने कहा कि म्यांमार की सरकार लगातार यह दिखा रही है कि वहां पूरी तरह से कार्यशील लोकतंत्र को स्थापित करने में उसकी कोई रुचि नहीं है। 

म्यांमार को लेकर बने संयुक्त राष्ट्र के तथ्यान्वेषी मिशन के अध्यक्ष मार्जुकी दारूसमन ने कहा कि हजारों रोंहिग्या मुसलमान अब भी बांग्लादेश की तरफ पलायन कर रहे। उन्होंने कहा कि बौद्ध बहुल इस देश में पिछले साल के क्रूर सैन्य अभियान के बाद वहां बचे करीब ढाई से चार लाख लोगों को सबसे गंभीर प्रतिबंधों और दमन का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने बुधवार को एक एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि म्यांमार में रोहिंग्या मुसलमानों का नरसंहार अभी भी जारी है।

म्यांमार में मानवाधिकारों पर संयुक्त राष्ट्र की विशेष जांचकर्ता यांगी ली ने कहा कि उन्होंने और अंतरराष्ट्रीय समुदाय के कई अन्य लोगों ने उम्मीद की थी कि आंग सान सू ची के शासन में वहां की स्थिति पहले से काफी अलग होगी, लेकिन वास्तव में यह बहुत अलग नहीं है। इस खबर के सामने आने के बाद बांग्लादेश में शरण लिए हुए लाखों रोहिंग्या शरणार्थियों की वतन वापसी भी लंबे समय के लिए टलती दिख रही है। आपको बता दें कि बांग्लादेश के रोहिंग्या शरणार्थी फिलहाल अपने घर वापस जाने के लिए तैयार नहीं हैं।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। US News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Write a comment