1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. अमेरिका
  5. जानें, भारत को महिलाओं के लिए 'सबसे खतरनाक' बताने वाले सर्वे पर शशि थरूर ने क्या कहा!

जानें, भारत को महिलाओं के लिए 'सबसे खतरनाक' बताने वाले सर्वे पर शशि थरूर ने क्या कहा!

कांग्रेस नेता शशि थरूर ने भारत को महिलाओं के लिए दुनिया का ‘सबसे खतरनाक’ देश बताने वाले नए सर्वेक्षण को सिरे से खारिज करते हुए इसे बेहद ‘हल्का बयान’ करार दिया...

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: June 28, 2018 15:58 IST
India cannot be ranked as most dangerous place for women, says Shashi Tharoor | PTI- India TV
India cannot be ranked as most dangerous place for women, says Shashi Tharoor | PTI

न्यूयॉर्क: कांग्रेस नेता शशि थरूर ने भारत को महिलाओं के लिए दुनिया का ‘सबसे खतरनाक’ देश बताने वाले नए सर्वेक्षण को सिरे से खारिज करते हुए इसे बेहद ‘हल्का बयान’ करार दिया। इसके साथ ही उन्होंने आश्चर्य जताया कि अफगानिस्तान, सीरिया और पाकिस्तान को इस सूची में भारत से बेहतर स्थिति में रखा गया है। आपको बता दें कि इस रिपोर्ट को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर हमला बोला था। थॉम्सन रॉयटर्स फाउंडेशन ने महिला मामलों के करीब 550 विशेषज्ञों के साथ बातचीत के आधार पर अपने सर्वेक्षण में भारत को महिलाओं के लिए ‘सबसे खतरनाक’ देश बताया था। हालांकि, थरूर ने यह भी कहा कि पिछले कुछ वर्षों में भारत में महिलाओं के साथ कुछ दुखद घटनाएं हुई हैं।

एक कार्यक्रम के दौरान थरूर ने कहा, ‘कुछ ऐसा जिससे प्रत्येक भारतीय शर्मिंदा है, खास तौर से भारतीय पुरुष, इसमें कोई दो राय नहीं है। लेकिन महिलाओं के लिए दुनिया का सबसे खतरनाक देश बताने जैसा ‘हल्का बयान’ पचाने लायक नहीं है।’ गैर सरकारी संगठन इंडो-अमेरिकन आर्ट्स काउंसिल ने थरूर को उनकी किताबों ‘ऐन इरा ऑफ डार्कनेस: द ब्रिटिश एंपायर इन इंडिया’ और ‘व्हाई आई एम ए हिन्दू’ पर बातचीत करने के लिए बुलाया था। थरूर ने कहा कि लैंगिक संवेदनशीलता बढ़ाने, शिक्षा, बेहतर पुलिसिंग, पुलिस बलों में महिलाओं की संख्या बढ़ाने आदि की बात कही जा रही है ताकि भारत महिलाओं के लिए सुरक्षित स्थान बन सके।

उन्होंने कहा, ‘लेकिन भारत अब भी ऐसी जगह है जहां तुलनात्मक रूप से महिलाएं ज्यादा आजाद हैं। वहां ऐसे प्रतिबंध नहीं है, जैसे कि अफगानिस्तान, सऊदी अरब वाले लगाते हैं। जैसे आने-जाने की आजादी पर रोक, काम करने पर रोक और साथ ही अन्य कई प्रतिबंध।’ थरूर ने कहा कि भारत में महिलाएं ऐसी हिंसक परिस्थितियों का सामना नहीं करती हैं, जैसा कि सीरिया में है। उन्होंने कहा, ‘मुझे बहुत आश्चर्य हो रहा है कि महिलाओं के लिए सबसे खतरनाक देशों की सूची में भारत को अफगानिस्तान, सीरिया, सऊदी अरब, पाकिस्तान और अन्य असुरक्षित देशों के मुकाबले भी खराब स्थान पर रखा गया है।’

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। US News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Write a comment