1. You Are At:
  2. होम
  3. विदेश
  4. अमेरिका
  5. जानें, सऊदी अरब के शहजादे ने क्यों कहा, ‘मैं गांधी या मंडेला नहीं हूं’

जानें, सऊदी अरब के शहजादे ने क्यों कहा, ‘मैं गांधी या मंडेला नहीं हूं’

CBS समाचार कार्यक्रम '60 मिनट' ने रविवार को प्रिंस और सऊदी अरब को आगे ले जाने की उनकी उम्मीदों को लेकर एक एपिसोड प्रसारित किया, जिसमें उन्होंने ये बातें कहीं...

Reported by: IANS [Updated:19 Mar 2018, 9:34 PM IST]
'I am not Gandhi or Mandela', says Saudi crown prince Salman | AP Photo- India TV
'I am not Gandhi or Mandela', says Saudi crown prince Salman | AP Photo

वॉशिंगटन: सऊदी अरब के शहजादे मोहम्मद बिन सलमान ने एक समाचार कार्यक्रम में कहा है कि महिलाएं निश्चित ही पूरी तरह से पुरुषों के समान हैं। सलमान सोमवार को अमेरिका पहुंचने वाले हैं। वह राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से मुलाकात करेंगे। साथ ही वह कई अमेरिकी शहरों की यात्रा भी करेंगे। उनसे जब पूछा गया कि महिलाएं, पुरुषों के समान हैं तो क्राउन प्रिंस ने कहा, ‘बिलकुल। हम सभी इंसान हैं और हममें कोई अंतर नहीं है।’ वहीं, जब खर्च करने के उनके शाही अंदाज के बारे में सवाल किया गया तो शहजादे ने जवाब दिया, ‘मैं एक अमीर आदमी हूं, मैं गांधी या मंडेला नहीं हूं।’

भ्रष्टाचार के खिलाफ हाल में कई राजकुमारों पर कड़ी कार्रवाई करने वाले राजकुमार बिन सलमान अपने शाही खर्च के लिए आलोचना का सामना करते रहते हैं। उनका कहना है कि 'उनका निजी खर्च उनका व्यापार है।' न्यूयॉर्क टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार हाल ही में उन्होंने 45 करोड़ डालर में एक पेंटिंग खरीदी है। उनका कहना है, ‘जहां तक मेरे निजी खर्च का सवाल है तो मैं एक अमीर आदमी हूं, गरीब नहीं। मैं कोई गांधी या मंडेला नहीं हूं।’ CBS समाचार कार्यक्रम '60 मिनट' ने रविवार को प्रिंस और सऊदी अरब को आगे ले जाने की उनकी उम्मीदों को लेकर एक एपिसोड प्रसारित किया, जिसमें उन्होंने ये बातें कहीं।

न्यूयॉर्क टाइम्स की खबर के मुताबिक, उन्होंने माना कि सऊदी अरब में इस्लाम के अतिरूढ़िवादी रूप का प्रभुत्व है, जो गैर मुस्लिमों के अनुकूल नहीं है, मूल अधिकारों से महिलाओं को वंचित करता है और सामाजिक जीवन को संकीर्ण करता है। उन्होंने 1979 के बाद सऊदी अरब में फैले रूढ़िवाद के बारे में कहा, ‘हम पीड़ित हैं, विशेषकर मेरी पीढ़ी जो इससे जूझ रही है।’ युवा बिन सलमान ने शासन संभालते ही महिलाओं के परिधानों पर प्रतिंबधों में छूट दी, कामकाज में उनकी भूमिका को विस्तार दिया। उन्होंने कहा कि सरकार समान भुगतान सुनिश्चित करने के लिए नीतियों पर कार्य कर रही है। महिलाओं को गाड़ी चलाने की भी इजाजत दी गई है। यह आदेश जून से प्रभावी होगा।

इंडिया टीवी 'फ्री टू एयर' न्यूज चैनल है, चैनल देखने के लिए आपको पैसे नहीं देने होंगे, यदि आप इसे मुफ्त में नहीं देख पा रहे हैं तो अपने सर्विस प्रोवाइडर से संपर्क करें।
Write a comment
pulwama-attack
australia-tour-of-india-2019