1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. अमेरिका
  5. ट्रंप का नया आदेश, हवाई हमलों में मारे गए नागरिकों की संख्या बताने की जरूरत नहीं

ट्रंप का नया आदेश, हवाई हमलों में मारे गए नागरिकों की संख्या बताने की जरूरत नहीं

अमेरिकी वायुसेना द्वारा दुनिया के तमाम देशों में एयरस्ट्राइक की जाती रही हैं, जिनमें बड़ी संख्या में आम नागरिक भी मारे जाते हैं।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: March 07, 2019 16:44 IST
Donald Trump rescinds Obama-era order mandating reports on civilians killed by US airstrikes | AP Fi- India TV
Donald Trump rescinds Obama-era order mandating reports on civilians killed by US airstrikes | AP File

वॉशिंगटन: अमेरिकी वायुसेना द्वारा दुनिया के तमाम देशों में एयरस्ट्राइक की जाती रही हैं, जिनमें बड़ी संख्या में आम नागरिक भी मारे जाते हैं। इसकी वजह से कई बार अंतरराष्ट्रीय जगत में अमेरिका की निंदा भी होती है। हालांकि, अब ट्रंप सरकार ने एक ऐसा आदेश जारी किया है, जिसके बाद अमेरिकी हवाई हमलों में मारे गए नागरिकों की संख्या का खुलासा करने की जरूरत नहीं होगी। रिपोर्ट्स के मुताबिक, अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने यह नया कार्यकारी आदेश जारी किया है।

इस नए आदेश के मुताबिक अमेरिकी खुफिया अधिकारियों को अब आतंकवादियों के खिलाफ हवाई हमलों में मारे गए नागरिकों की संख्या का सार्वजनिक तौर पर खुलासा करने की आवश्यकता नहीं होगी। रिपोर्ट्स के मुताबिक, ट्रंप के बुधवार के आदेश के बाद ओबामा शासन का वह आदेश समाप्त हो गया है, जिसके अनुसार खुफिया अधिकारियों को हर साल 'हमलों की संख्या का अवर्गीकृत सारांश' और साथ ही 'उन हमलों के कारण युद्धक और गैर-युद्धक मौतों का ब्योरा' देना होता था। व्हाइट हाउस का कहना है कि इस आदेश का मकसद अमेरिकी हवाई हमलों के कारण हुई मौतों के बारे में पारदर्शिता घटाना नहीं है।

राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद के एक प्रवक्ता ने सीएनएन से एक बयान में कहा, ‘अमेरिकी सरकार सशस्त्र संघर्ष के कानून के तहत जितना संभव हो सके नागरिक मौतों को कम करने और सैन्य अभियानों के दौरान अगर दुर्भाग्यवश ऐसा होता है, तो इसके लिए जिम्मेदारी स्वीकार करने का अपना दायित्व निभाने के लिए पूरी तरह प्रतिबद्ध है।’ प्रशासन ने कहा कि सरकार अनावश्यक रिपोर्टिग करने की जरूरत को समाप्त करके प्रक्रिया को सुव्यवस्थित करने की मंशा से यह कदम उठा रही है।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। US News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Write a comment
arun-jaitley