1. You Are At:
  2. होम
  3. विदेश
  4. अमेरिका
  5. डोनाल्ड ट्रंप ने कहा, चीन बड़ी शिद्दत से अमेरिका से समझौता चाहता है

डोनाल्ड ट्रंप ने कहा, चीन बड़ी शिद्दत से अमेरिका से समझौता चाहता है

चीन-अमेरिका के बीच व्यापार मोर्चे पर चल रही बातचीत की पृष्ठभूमि में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक बेहद ही महत्वपूर्ण बयान दिया है।

Edited by: IndiaTV Hindi Desk [Published on:13 Feb 2019, 12:42 PM IST]
China wants a deal with United States very badly, says Donald Trump | AP Photo- India TV
China wants a deal with United States very badly, says Donald Trump | AP Photo

वॉशिंगटन: चीन-अमेरिका के बीच व्यापार मोर्चे पर चल रही बातचीत की पृष्ठभूमि में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक बेहद ही महत्वपूर्ण बयान दिया है। ट्रंप ने कहा है कि चीन बड़ी शिद्दत से अमेरिका के साथ समझौता करना चाहता है। ट्ंरप ने मंगलवार को मंत्रिमंडल की बैठक के बाद कहा, ‘चीन के साथ चीजें बेहतर चल रही हैं। चीन बड़ी शिद्दत से हमारे साथ समझौता करना चाहता है। मैं चाहता हूं कि यह समझौता वास्तविक हो, मैं नहीं चाहता कि यह समझौता दिखावटी हो जो सिर्फ एक साल तक अच्छा लगे। हमारे पास चीन के साथ बेहतर और वास्तविक समझौता करने का मौका है।’

व्यापार प्रतिनिधि रॉबर्ट लाइटहाइजर के नेतृत्व में उच्चस्तरीय अमेरिकी प्रतिनिधिमंडल चीन में द्विपक्षीय व्यापार समझौते के लिए चीन के प्रतिनिधिमंडल के साथ बातचीत कर रहा है। ट्रंप ने कहा कि उनकी चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग के साथ मार्च के अंत में या निकट भविष्य में मुलाकात करने की कोई योजना नहीं है। एक सवाल के जबाव में ट्रंप ने कहा, ‘हमारे लोग वहां हैं। मुझे सिर्फ एक सूचना मिली है। अमेरिका बातचीत में मजबूत स्थिति में है। इस स्थिति में हम पहले कभी नहीं रहे।’ उन्होंने कहा कि चीन इस समय दुनिया का सबसे खराब प्रदर्शन करने वाला शेयर बाजार है। यह अमेरिका के कारण है। अमेरिका सबसे बेहतर प्रदर्शन करने वाले शेयर बाजारों में से एक है।

व्यापार वार्ता पर ट्रंप ने कहा कि अमेरिका चीन में अच्छी बातचीत कर रहा है और वह किसी भी तरह से वार्ता के संभावित परिणामों से खुश हैं। आपको बता दें कि बीते कुछ महीनों में अमेरिका और चीन के रिश्ते काफी उतार-चढ़ाव भरे रहे हैं। कई मोर्चों पर तो चीन और अमेरिका के हितों में इतना टकराव था कि दोनों देश एक-दूसरे पर जमकर आरोप-प्रत्यारोप लगाने लगे थे। हालांकि, फिलहाल दोनों देश अपने रिश्ते सामान्य करने की कोशिश कर रहे हैं और इसके लिए बातचीत का दौर जारी है।

इंडिया टीवी 'फ्री टू एयर' न्यूज चैनल है, चैनल देखने के लिए आपको पैसे नहीं देने होंगे, यदि आप इसे मुफ्त में नहीं देख पा रहे हैं तो अपने सर्विस प्रोवाइडर से संपर्क करें।
Write a comment
pulwama-attack
australia-tour-of-india-2019