1. You Are At:
  2. होम
  3. विदेश
  4. अमेरिका
  5. अमेरिका के वॉल स्ट्रीट जर्नल ने की हिलेरी क्लिंटन की आलोचना

अमेरिका के वॉल स्ट्रीट जर्नल ने की हिलेरी क्लिंटन की आलोचना

अमेरिका के शीर्ष अखबार‘ वॉल स्ट्रीट जर्नल’ ने हिलेरी क्लिंटन की उस टिप्पणी की आलोचना की, जिसमें उन्होंने चुनाव में अपनी हार के लिये‘‘ अमेरिका के पिछड़ेराज्यों’’ को जिम्मेदार ठहराया था।

Edited by: India TV News Desk [Published on:14 Mar 2018, 1:44 PM IST]
America Wall Street Journal criticized Hillary Clinton- India TV
America Wall Street Journal criticized Hillary Clinton

वाशिंगटन: अमेरिका के शीर्ष अखबार‘ वॉल स्ट्रीट जर्नल’ ने हिलेरी क्लिंटन की उस टिप्पणी की आलोचना की, जिसमें उन्होंने चुनाव में अपनी हार के लिये‘‘ अमेरिका के पिछड़ेराज्यों’’ को जिम्मेदार ठहराया था। वर्ष 2016 में अमेरिका में हुए राष्ट्रपति चुनाव में वह डोनाल्डट्रंप की प्रतिद्वंद्वी थीं। गौरतलब है कि हिलेरी ने उक्त बयान भारत की अपनी हालिया व्यक्तिगत दौरे पर दिया था। हाल में मुंबई में सम्पन्न इंडिया टुडे कॉन्क्लेव में हिलेरी ने सुझाव दिया कि उन लोगों ने ट्रंप का समर्थन इसलिए किया क्योंकि उन्हें यह पसंद नहीं कि अश्वेतों को अधिकार मिले, महिलाएं नौकरियां करें या भारतीय मूल के अमेरिकी नागरिक उनके मुकाबले अधिक प्रगति करें। इंडिया टुडे कॉन्क्लेव 2018 के दौरान हिलेरी ने कहा, ‘‘ आप जानते हैं, आपको अश्वेतों को अधिकार मिलना पसंद नहीं है। आपको पसंद नहीं है कि महिलाएं नौकरी करें। आपको यह देखना कतई पसंद नहीं है कि भारतीय मूल के अमेरिकी नागरिक उनके मुकाबले अधिक प्रगति करें। लेकिन मैं इसका समाधान करने जा रही हूं।’’ (हॉकिंग्स के निधन पर, प्रौद्योगिकी जगत के दिग्गजों में दुख की लहर)

हिलेरी क्लिंटन ने कहा, ‘‘ अगर आप अमेरिका का मानचित्र देखें तो आप देखेंगे कि जहां- जहां ट्रंप जीते हैंवह सब लाल निशान वाले हैं, जबकि मैंने तटवर्ती क्षेत्रों में जीत हासिल की है। जैसे मैं इलिनोइस में जीती और मिनीसोटा में भी जीत हासिल की।’’ उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा, ‘‘ जो बात मानचित्र आपको नहीं दर्शा रहा है, वह यह कि मैंने उन जगहों पर जीत हासिल की जो अमेरिका के सकल घरेलू उत्पादके दो तिहाईका प्रतिनिधित्व करते हैं। मैंने उन जगहों पर जीत हासिल की जो आशावादी, विविधताभरे, गतिशील, प्रगति के पथ पर बढ़ने वाले हैं। और उनका( ट्रंप का) पूरा प्रचार अभियान‘ अमेरिका को फिर से महान बनाना’ दरअसल पीछड़ेपन की ओर देख रहा था।’’

‘ वॉल स्ट्रीट जर्नल’ ने अपने संपादकीय बोर्ड में कल हिलेरी की आलोचना करते हुए इसे कई अमेरिकी नागरिकों की‘‘ अवमानना’’ करार दिया। अखबर लिखता है, ‘‘ डेमोक्रेट यहमान सकते हैं कि श्रीमान ट्रंप राष्ट्रपति बनने के योग्य नहीं लेकिन उन्हें इस बात की भी जिम्मेदारी लेनी पड़ेगी कि उन्होंने एक ऐसे व्यक्ति को राष्ट्रपति पद के लिये डेमोक्रेटिक पार्टी का उम्मीदवार बनाया जिसने कई अमेरिकी नागरिकों की ऐसी ही अवमानना की।’’ बहरहाल भारतीय मूल के अमेरिकी नागरिक एवं सिख नेता गुरिंदर सिंह खालसा ने हिलेरी की टिप्पणियों की आलोचना करते हुए कहा, ‘‘ हमलोग उनके( हिलेरी के) बयान से सहमत नहीं हैं। कारण यह है कि यह प्रशासन बहुत विविध और भारतीय मूल के अमेरिकी नागरिकों के लिये बहुत अच्छा है।’’

गुरिंदर सिंह खालसा अमेरिका के उप राष्ट्रपति माइक पेंस के करीबी मित्र हैं। उन्होंने कहा कि ट्रंप ने अपने प्रशासन में शीर्ष पदों पर भारतीय मूल के अमेरिकी नागरिकों को नियुक्त किया है। संयुक्त राष्ट्र में अमेरिकी दूत के तौर पर उन्होंने निक्की हेली को नियुक्त किया। उन्होंने व्हाइट हाउस में प्रेस उप सचिव के तौर पर राज शाह को नियुक्त किया, सीमा वर्मा को सेंटर फॉर मेडिकेयर एंड मेडिकेटेड सर्विसेज की प्रमुख और अजित पई को फेडरल कम्युनिकेशंस कमिशन का प्रमुख नियुक्त किया।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। US News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Web Title: America Wall Street Journal criticized Hillary Clinton
Write a comment