1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. अमेरिका
  5. टीचर ने फेसबुक पोस्ट में बच्चों को कहा 'बंदर', छुट्टी पर भेजा

टीचर ने फेसबुक पोस्ट में बच्चों को कहा 'बंदर', छुट्टी पर भेजा

अमेरिका के एक प्राथमिक स्कूल की शिक्षिका को कथित तौर पर सशुल्क प्रशासनिक अवकाश पर भेजा गया है। शिक्षिका ने एक फेसबुक पोस्ट में अपने विद्यार्थियों की तुलना बंदर से की थी, जिसके बाद उसे अवकाश पर भेजा गया है।

IndiaTV Hindi Desk Edited by: IndiaTV Hindi Desk
Published on: January 06, 2019 18:02 IST
Representational pic- India TV
Representational pic

वॉशिंगटन: अमेरिका के एक प्राथमिक स्कूल की शिक्षिका को कथित तौर पर सशुल्क प्रशासनिक अवकाश पर भेजा गया है। शिक्षिका ने एक फेसबुक पोस्ट में अपने विद्यार्थियों की तुलना बंदर से की थी, जिसके बाद उसे अवकाश पर भेजा गया है। अरकान्सास डेमोक्रेट-गजट की रिपोर्ट के मुताबिक, सर्दियों की छुट्टियों के बाद स्कूल के फिर शुरू होने पर वाटसन एलिमेंटरी स्कूल की शिक्षिका ने फेसबुक पर लिखा "मेरे चिड़िया घर के बंदर आज वापस लौट आए।"

उन्होंने कहा, "मैं थक गई हूं! बंदरों को फिर से प्रशिक्षित करना मुश्किल है।" इस पोस्ट को बाद में डिलिट कर दिया गया है।

रिपोर्ट के मुताबिक, अरकान्सास में लिटिक रॉक जिले की प्रवक्ता पामेला स्मिथ ने पुष्टि की कि उसी पोस्ट की वजह से शिक्षिका को छुट्टी पर भेजना पड़ा। मामले में आगे की जांच लंबित है।

एक बयान में प्रवक्ता ने कहा कि जिले में इन मामलों को बहुत गंभीरता से लिया जाता है। बयान में कहा गया कि जैसे ही हमें घटना के बारे में जानकारी हुई, जिले ने इसे कार्मिक मामला बताते हुए तत्काल उचित कार्रवाई शुरू की।

आम चुनाव से जुड़ी ताजा खबरों, लोकसभा चुनाव 2019 की खबरों, चुनावों से जुड़े लाइव अपडेट्स और चुनाव परिणामों के लिए https://hindi.indiatvnews.com/elections पर बने रहें। इसके साथ ही हमें फेसबुक और ट्विटर पर लाइक करके या #ElectionsWithIndiaTV हैशटैग का इस्तेमाल करके 543 लोकसभा सीटें और विधानसभा चुनावों से जुड़े ताजा परिणाम पाएं। आप #ResultsWithRajatSharma हैशटैग का इस्तेमाल करके इंडिया टीवी के चेयरमैन एवं एडिटर-इन-चीफ रजत शर्मा के साथ 23 मई को चुनाव परिणामों की पल-पल की जानकारी हासिल कर सकते हैं।
Web Title: टीचर ने फेसबुक पोस्ट में बच्चों को कहा 'बंदर', छुट्टी पर भेजा
Write a comment
ipl-2019