1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. यूरोप
  5. BREXIT: टेरेसा मे जल्द से जल्द पहुंचना चाहती है निष्कर्ष पर

BREXIT: टेरेसा मे जल्द से जल्द पहुंचना चाहती है निष्कर्ष पर

ब्रिटेन की प्रधानमंत्री टेरेसा मे ने आज ईयू नेताओं से अपील की कि वे व्यापार को लेकर ब्रेक्जिट वार्ता को जल्द से जल्द आगे बढ़ाएं।

India TV News Desk India TV News Desk
Published on: December 15, 2017 12:04 IST
theresa may- India TV
theresa may

ब्रसेल्स: ब्रिटेन की प्रधानमंत्री टेरेसा मे ने आज ईयू नेताओं से अपील की कि वे व्यापार को लेकर ब्रेक्जिट वार्ता को जल्द से जल्द आगे बढ़ाएं। टेरीजा के 27 समकक्षों के शुक्रवार को इस बात पर सहमत होने की उम्मीद है कि वार्ता को भावी संबंधों की दिशा में आगे ले जाने के लिए आयरलैंड की सीमा और ब्रिटेन के ईयू से अलग होने के विधेयक समेत इससे जुड़े अहम मामलों पर पर्याप्त प्रगति हुई है। ईयू के वार्ता संबंधी दिशानिर्देशों के अनुसार, वे ब्रेक्जिट के बाद हस्तांतरण की प्रक्रिया संबंधी वार्ता जनवरी में आरंभ करेंगे लेकिन मार्च तक व्यापार वार्ता आरंभ नहीं करेंगे। इनमें ब्रिटेन के लक्ष्यों को लेकर अधिक स्पष्टता की अपील की गई है। (नासा ने ढूंढ़ा पृथ्वी के जैसा एक और सौर मंडल )

ब्रिटेन के एक अधिकारी ने कहा कि रात्रिभोज पर नेताओं को संबोधित करते समय टेरेसा मे ‘‘व्यापार वार्ता पर जल्द से जल्द आगे बढ़ाने की इच्छा को लेकर स्पष्ट’’ थीं। टेरेसा मे ने उन्हें बताया कि वह ‘‘आगामी चरण में जाने और महत्वाकांक्षा और कलात्मकता के साथ इस दिशा में आगे बढ़ने की इच्छा को गोपनीय नहीं रखना चाहतीं।’’ उन्होंने कहा कि ‘‘विशेष प्राथमिकता’’ हस्तांतरण अवधि होनी चाहिए।

इससे पहले टेरेसा मे ने उनकी ब्रेक्जिट रणनीति पर संसद में मिली हार को खारिज करने की कोशिश की। कई अन्य ईयू नेताओं ने भी इस मत के प्रभाव को ज्यादा तवज्जो नहीं देने की बात कही है। गौरतलब है कि टेरेसा मे को संसद में ब्रेक्जिट से जुड़े एक महत्वपूर्ण मतदान में हार का सामना करना पड़ा है। उनकी पार्टी के बागियों ने विधेयक में एक ऐसे संशोधन का समर्थन किया है जो यूरोपीय संघ के साथ अलग होने के अंतिम करार में अपनी बात रखने की उन्हें कानूनी गारंटी देता है। हाउस ऑफ कॉमन्स में ब्रिटेन की प्रधानमंत्री को यूरोपीय संघ से बाहर निकलने के विधेयक पर चार वोटों से हार का सामना करना पड़ा है।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Europe News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Write a comment