1. You Are At:
  2. होम
  3. विदेश
  4. यूरोप
  5. यौन उत्पीड़ित ऑक्सफैम कर्मचारी को कंपनी छोड़ने पर मजबूर किया गया: रिपोर्ट

यौन उत्पीड़ित ऑक्सफैम कर्मचारी को कंपनी छोड़ने पर मजबूर किया गया: रिपोर्ट

45 वर्षीय सांतोस ने दावा किया कि संस्था ने उसके मामले को गलत तरीके से चलाया और उसे इस्तीफा देने के लिए मजबूर किया गया...

Reported by: IANS [Published on:01 Mar 2018, 7:43 PM IST]
Representational Image | AP Photo- India TV
Representational Image | AP Photo

लंदन: फिलीपींस में साथी कर्मचारी द्वारा यौन उत्पीड़न का शिकार ऑक्सफैम के एक कर्मचारी को एक साल से भी कम समय में कंपनी से 'रचनात्मक रूप से निकाल' (कंस्ट्रकटिवली डिसमिस्ड) दिया गया। एक मीडिया रिपोर्ट में गुरुवार को इस बात का खुलासा हुआ है। एमी सांतोस ने द गार्डियन को बताया कि 2016 में एक महिला साथी ने उसका यौन उत्पीड़न किया था। ऑक्सफैम ने दावे को स्वीकार कर लिया था और कहा था कि उसने अपराधकर्ता को काली सूची में डाल दिया है।

लेकिन, 45 वर्षीय सांतोस ने दावा किया कि संस्था ने उसके मामले को गलत तरीके से चलाया और उसे इस्तीफा देने के लिए मजबूर किया गया। उसने कहा, ‘ऑक्सफैम कंपनी बहुत ही प्रतिशोधी और ईष्यार्लु है। वे मेरे पीछे पड़ गए।’ फिलीपींस के राष्ट्रीय श्रम संबंध आयोग ने अक्टूबर 2017 में कहा था कि सांतोस को 'रचनात्मक रूप से निकाला' गया है। 'रचनात्मक रूप से निकाला जाना' एक तरह की कार्य समाप्ति है जिसमें एक कर्मचारी को इस्तीफा देने के लिए मजबूर किया जाता है।

फैसले में कहा गया कि ऑक्सफैम ने आरोपी के प्रति समर्थन दिखाया। आरोपी की सेवा को प्रबंधन को जरूरत थी और उसने सांतोस के प्रति अकथनीय द्वेष जैसा रवैया अपनाया। ऑक्सफैम ने अक्टूबर में खुलासा किया कि उसने पिछले साल यौन उत्पीड़न के आरोपों में अपने 22 कर्मचारियों को निकाल दिया था। ऑक्सफैम ने इस मामले में गार्डियन से कहा कि यौन उत्पीड़न के आरोप की मुकम्मल जांच की गई थी। जांच पूरी होने से पहले आरोपी का करार कंपनी के साथ खत्म हो गया था। अब आरोपी को कंपनी में कभी भी प्रवेश नहीं दिया जाएगा।

इंडिया टीवी 'फ्री टू एयर' न्यूज चैनल है, चैनल देखने के लिए आपको पैसे नहीं देने होंगे, यदि आप इसे मुफ्त में नहीं देख पा रहे हैं तो अपने सर्विस प्रोवाइडर से संपर्क करें।
Write a comment
pulwama-attack
australia-tour-of-india-2019