1. You Are At:
  2. होम
  3. विदेश
  4. यूरोप
  5. रूस ने अमेरिका से कहा, वेनेजुएला में किसी भी तरह का सैन्य दखल मंजूर नहीं

रूस ने अमेरिका से कहा, वेनेजुएला में किसी भी तरह का सैन्य दखल मंजूर नहीं

वेनेजुएला के राजनीतिक हालात इस समय पूरी दुनिया का ध्यान अपनी तरफ खींच रहे हैं।

Edited by: IndiaTV Hindi Desk [Published on:13 Feb 2019, 10:57 AM IST]
US President Donald Trump and Russian President Vladimir Putin | AP File- India TV
US President Donald Trump and Russian President Vladimir Putin | AP File

मॉस्को: वेनेजुएला के राजनीतिक हालात इस समय पूरी दुनिया का ध्यान अपनी तरफ खींच रहे हैं। अमेरिका भी वहां की राजनीतिक उठापठक में काफी दिलचस्पी ले रहा है और वहां सत्ता परिवर्तन में भूमिका निभाना चाहता है। यहां तक कि अमेरिका ने वेनेजुएला में सैन्य हस्तक्षेप तक की बात कही है। इन सबके बीच रूस के विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने अपने अमेरिकी समकक्ष माइक पोम्पिओ को वेनेजुएला में सेना के इस्तेमाल समेत किसी की भी तरह के अमेरिकी दखल को लेकर आगाह किया है।

रूसी विदेश मंत्रालय की ओर से मंगलवार को जारी बयान में कहा गया, ‘लावरोव ने वेनेजुएला के आंतरिक मामलों में किसी भी तरह के दखल को लेकर आगाह किया है, जिसमें वॉशिंगटन की ओर से सेना के इस्तेमाल की धमकी भी शामिल है।’ बयान में कहा गया है, ‘वह वेनेजुएला के मुद्दों को लेकर संयुक्त राष्ट्र के सिद्धांतों के अनुरूप बातचीत के लिये तैयार हैं।लावरोव का यह बयान अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के इस महीने की शुरुआत में दिए गए उस बयान के बाद आया है जिसमें उन्होंने कहा था कि वेनेजुएला में सैन्य दखल एक विकल्प है। 

आपको बता दें कि वेनेजुएला के राष्ट्रपति निकोलस मादुरो और विपक्ष के नेता जुआन गुइदो के बीच गतिरोध बढ़ने की वजह से वर्तमान राजनीतिक संकट पैदा हुआ है। वेनेजुएला के राष्ट्रपति निकोलस मादुरो पर अमेरिका और कई यूरोपीय देश इस्तीफा देने के का दबाव बना रह हैं। मादुरो को विपक्ष के नेता जुआन गुइदो से चुनौती मिल रही है, जिन्होंने खुद को जनवरी में कार्यवाहक राष्ट्रपति घोषित कर दिया था।

इंडिया टीवी 'फ्री टू एयर' न्यूज चैनल है, चैनल देखने के लिए आपको पैसे नहीं देने होंगे, यदि आप इसे मुफ्त में नहीं देख पा रहे हैं तो अपने सर्विस प्रोवाइडर से संपर्क करें।
Write a comment
pulwama-attack
australia-tour-of-india-2019