1. You Are At:
  2. होम
  3. विदेश
  4. यूरोप
  5. रूस में प्लेन क्रैश, 62 मृतकों में 2 भारतीय भी शामिल

रूस में प्लेन क्रैश, 62 मृतकों में 2 भारतीय भी शामिल

मास्को: रूस के रोस्तोव-ऑन-दोन शहर में शनिवार तड़के 'फ्लाईदुबई' का बोइंग 737-800 उतरने के प्रयास में दुर्घटनाग्रस्त हो गया। इसमें विमान में सवार दो भारतीयों समेत सभी 62 यात्री मारे गए। रूस से मिली खबरों

IANS [Updated:19 Mar 2016, 8:52 PM IST]
plane crash- India TV
plane crash

मास्को: रूस के रोस्तोव-ऑन-दोन शहर में शनिवार तड़के 'फ्लाईदुबई' का बोइंग 737-800 उतरने के प्रयास में दुर्घटनाग्रस्त हो गया। इसमें विमान में सवार दो भारतीयों समेत सभी 62 यात्री मारे गए। रूस से मिली खबरों के अनुसार, "दुबई से रूस के रोस्तोव के लिए उड़ान भरने के बाद यह विमान शनिवार को रोस्तोव-ऑन-दोन हवाईअड्डे पर उतरने के प्रयास में नाकाम होने के बाद यह दो घंटे तक चक्कर लगाता रहा। उस समय वहां बहुत तेज हवा चल रही थी।

विमान उतरने के दूसरे प्रयास के दौरान रनवे से करीब 250 मीटर पहले ही जमीन से टकरा गया। जिससे उसके टुकड़े-टुकड़े हो गए और उसमें आग लग गई। बचाव कार्य में करीब 700 लोग तैनात किए गए हैं। मृतकों के परिजनों को 15 हजार डॉलर की सहायता देने की घोषणा की गई है। भारत के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने शनिवार को बताया कि मॉस्को में भारतीय दूतावास के अधिकारियों को रूसी प्रशासन द्वारा सौंपी गई सूची से यह जानकारी मिली है।  स्वरूप ने कहा कि सूची में जिन दो भारतीयों के नाम शामिल हैं, वे अंजू कातिरवल अयाप्पन और मोहन श्याम हैं।

रिपोर्ट के अनुसार, "आपातकालीन सूत्र ने बताया, "विमान में 55 यात्री और चालक दल के सात सदस्य थे। यात्रियों में 33 महिलाएं, चार बच्चे और 18 पुरुष थे।" फ्लाई दुबई ने कहा कि दुर्घटना के शिकार लोगों में 44 रूसी, 8 यूक्रेनी, 2 भारतीय और 1 उजबेकिस्तानी नागरिक थे। चालक दल के सदस्यों सहित 11 विदेशी नागरिक विमान पर सवार थे।

पुलिस अधिकारियों के अनुसार, "प्रतिकूल मौसम, परिस्थितियां और चालक दल की गलतियां दुर्घटना का कारण हो सकती हैं। इन्हीं बिंदुओं को ध्यान में रखकर जांच की जा रही है। हादसे का संबंध आतंकवाद से होने से इनकार किया गया है। क्षेत्र के मौसम आंकड़ों से पता चला है कि विमान के दुर्घटनाग्रस्त होने के दौरान इलाके में 97 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से हवा चल रही थी और हल्की बारिश भी हो रही थी।

दुबई की किफायती किराये वाली विमानन कंपनी 'फ्लाईदुबई' के मुख्य कार्यकारी अधिकारी गैत-अल-गैत ने इस विमान दुर्घटना में जान गंवाने वालों के परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की। गैत-अल-गैत ने एक बयान में कहा, "हमें विमान में सवार यात्रियों और चालक दल के सदस्यों के परिवार वालों की चिंता है। हम पीड़ित परिवारों की हरसंभव मदद मुहैया कराने के प्रयास कर रहे हैं।"

विमानन कंपनी ने ईमेल बयान में कहा, "हम अंतिम पुष्टि का अब भी इंतजार कर रहे हैं। बड़े दुख की बात है कि इस हादसे में कोई जीवित नहीं बचा।" हवाईअड्डे को रविवार तक के लिए बंद किया गया है। चिकित्सकों एवं मनोवैज्ञानिकों के दल को दुर्घटना में मरे परिवारों की सहायता करने के लिए तैयार रखा गया है। अल-गैत ने दुर्घटना के शिकार फ्लाइट संख्या एफजेड981 की दुर्घटना के पीछे आतंकी कार्रवाई की आशंका को खारिज करते हुए कहा कि पायलट द्वारा इस तरह का कोई संकेत नहीं दिया गया था।

उन्होंने यह भी जोर देकर कहा कि विमान 2011 का बना था। यह विमान इस साल 21 जनवरी को हुए ताजा रखरखाव जांच में सफल रहा था। इसके पायलट अरिस्टोस सोक्रेटोस बहुत अनुभवी थे। उन्हें 5700 घंटे विमान उड़ाने का अनुभव था। क्षेत्रीय गवर्नर वासिली गोलूबेव ने रविवार को एक दिन के शोक की घोषणा की है।

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने इस दुर्घटना पर दुख जताते हुए पीड़ितों के परिजनों को अपनी संवेदना व्यक्त की है। रूस की जांच समिति ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Europe News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Web Title: रूस में प्लेन क्रैश, 62 मृतकों में 2 भारतीय भी शामिल
Write a comment