1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. एशिया
  5. दक्षिण कोरिया की सीमा में घुसे रूसी और चीनी लड़ाकू विमान, इधर से चलीं ताबड़तोड़ गोलियां

दक्षिण कोरिया की सीमा में घुसे रूसी और चीनी लड़ाकू विमान, इधर से चलीं ताबड़तोड़ गोलियां

कोरियाई प्रायद्वीप में कुछ समय के लिए उस समय तनाव पैदा हो गया जब दक्षिण कोरियाई सेना ने रूसी लड़ाकू विमानों पर गोलियों की बौछार कर दी।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: July 23, 2019 9:52 IST
South Korean jets fire warning shots at Russian fighter planes after airspace violation- India TV
South Korean jets fire warning shots at Russian fighter planes after airspace violation | South Korean Defense Ministry

सियोल: कोरियाई प्रायद्वीप में कुछ समय के लिए उस समय तनाव पैदा हो गया जब दक्षिण कोरियाई सेना ने रूसी लड़ाकू विमानों पर गोलियों की बौछार कर दी। रिपोर्ट्स के मुताबिक, दक्षिण कोरिया का कहना है कि उसने देश की हवाई सीमा में घुस आए रूसी लड़ाकू विमानों को चेतावनी देते हुए गोलियां चलाईं। दोनों देशों के बीच इस तरह का यह पहला मामला है। वहीं, विदेश मंत्रालय ने यह भी कहा कि मंगलवार को ही दक्षिण कोरिया की सीमा में एक चीनी लड़ाकू विमान भी घुस गया था। 

दक्षिण कोरिया ने कहा, चेतावनी के लिए चलाईं गोलियां

दक्षिण कोरिया के रक्षा मंत्रालय का कहना है कि रूस के कई लड़ाकू विमान मंगलवार को देश के पूर्वी हिस्से में प्रवेश कर गए। मंत्रालय ने कहा कि दक्षिण कोरिया के लड़ाकू विमानों ने भी उड़ान भरी और चेतावनी के लिए रूसी विमानों पर गोलियां चलाईं। उसका कहना है कि मंगलवार को ही चीन के लड़ाकू विमानों ने भी देश की हवाई सीमा का उल्लंघन किया। बताया जाता है कि रूसी विमान एक बार की चेतावनी के बाद दक्षिण कोरिया की वायु सीमा के बाहर चले गए थे, लेकिन वे फिर वापस आए और फिर उन्हें उसी तरह खदेड़ना पड़ा।

पहली बार दक्षिण कोरिया की सीमा में घुसा रूसी लड़ाकू विमान
दक्षिण कोरियाई अधिकारियों के मुताबिक, यह पहली ऐसी घटना है जिसमें रूसी लड़ाकू विमानों ने उनके देश की वायु सीमा का उल्लंघन किया हो। रिपोर्ट्स के मुताबिक, रूस के 3 और चीन के 2 लड़ाकू विमानों ने दक्षिण कोरिया की वायुसीमा का उल्लंघन किया। हालांकि यह पता नहीं चल पाया है कि इन विमानों ने ऐसा जानबूझकर किया या गलती से। दक्षिण कोरिया ने कहा है कि वह इस संबंध में अपना विरोध दर्ज कराने के लिए मंगलवार को रूसी और चीनी दूतावास के अधिकारियों को तलब करेगा।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Write a comment