1. You Are At:
  2. होम
  3. विदेश
  4. एशिया
  5. यात्रा प्रतिबंध हटते ही मुशर्रफ पाकिस्तान से दुबई रवाना

यात्रा प्रतिबंध हटाए जाने के बाद मुशर्रफ पाकिस्तान से दुबई रवाना

पाकिस्तान के पूर्व सैन्य शासक परवेज मुशर्रफ को सरकार से विदेश जाने की अनुमति मिल जाने के बाद वे चिकित्सकीय उपचार के लिए आज तड़के दुबई रवाना हो गए।

Bhasha [Updated:18 Mar 2016, 9:49 AM IST]
musharraf- India TV
musharraf

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के पूर्व सैन्य शासक परवेज मुशर्रफ को सरकार से विदेश जाने की अनुमति मिल जाने के बाद वे चिकित्सकीय उपचार के लिए आज तड़के दुबई रवाना हो गए। डॉन ने मुशर्रफ के हवाले से कहा, मैं एक कमांडो हूं और अपने देश से प्रेम करता हूं। मैं कुछ सप्ताह या महीनों में वापस आउंगा। मीडिया की एक रिपोर्ट के अनुसार मुशर्रफ तड़के तीन बजकर 55 मिनट पर (4:25 IST) कराची हवाईअड्डे से दुबई जाने वाली अमीरात के एक विमान में सवार हुए। रिपोर्ट में कहा गया है, वह विमान में सवार होने वाले आखिरी यात्री थे और इसके बाद विमान के दरवाजे बंद हो गए। सेवानिवृत्त जनरल निश्चिंत लग रहे थे।

72 वर्षीय मुशर्रफ के खिलाफ वर्ष 2013 से देशद्रोह का मामला चल रहा है और सरकार ने वर्ष 2014 में उनके देश से बाहर जाने पर रोक लगा दी थी। उसी वर्ष सिंध उच्च न्यायालय ने इस आदेश को गैरकानूनी करार दिया था। उच्चतम न्यायालय ने बुधवार को सरकार की अपील खारिज करते हुए सिंध उच्च न्यायालय के निर्णय को बरकरार रखा था लेकिन इसने संघीय सरकार को मुशर्रफ के विदेशी दौरों पर नए प्रतिबंध लगाने से नहीं रोका। गृह मंत्री निसार अली खान ने कल संवाददाता सम्मेलन में कहा कि सरकार ने विचार विमर्श के बाद मुशर्रफ को उपचार के लिए देश से जाने की अनुमति देने का निर्णय लिया है। उन्होंने कहा कि मुशर्रफ के वकीलों ने उन्हें विदेशी दौरों पर जाने की अनुमति देने के लिए सरकार से औपचारिक रूप से पूछा था। खान ने कहा, सरकार ने मुशर्रफ को उपचार के लिए विदेश जाने की अनुमति देने का निर्णय लिया है। उन्होंने यह प्रतिबद्धता भी जताई है कि वह अदालत में उनके खिलाफ चल रहे सभी मामलों का सामना करेंगे।

वह मुशर्रफ पर चल रहे विभिन्न मामलों का हवाला दे रहे थे, जिनमें वर्ष 2007 में संविधान निलंबित करने के कारण विशेष अदालत में उनके खिलाफ चल रहा देशद्रोह का मामला भी शामिल है। अनुच्छेद संख्या छह के तहत इस कृत्य के लिए मौत की सजा का प्रावधान है। उन पर अप्रैल 2014 में अभियोग लगाया गया था लेकिन विभिन्न कारणों से इस मामले में तब से कोई प्रगति नहीं हुई है। मुशर्रफ की ऑल पाकिस्तान मुस्लिम लीग ने कल कहा था कि मुशर्रफ की रीढ की हड्डी में समस्या है और उन्हें स्वयं को डॉक्टर को दिखाने के लिए संयुक्त अरब अमीरात जाने की आवश्यकता है। ऐसा माना जाता है कि मुशर्रफ को देश से बाहर जाने देने की अनुमति देने के निर्णय से शक्तिशाली सेना और सरकार के बीच तनाव कम करने में मदद मिलेगी क्योंकि सेना पूर्व चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ के खिलाफ देशद्रोह का मुकदमा चलाए जाने को लेकर नाखुश है। मुशर्रफ 1999 में तख्तापलट के बाद तत्कालीन प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को हटाकर सत्ता में आए थे। वर्ष 2008 में चुनाव के बाद महाभियोग का सामना करने वाले मुशर्रफ को राष्ट्रपति पद से इस्तीफा देना पड़ा था और वह स्वनिर्वासित होकर दुबई चले गए थे।

इंडिया टीवी 'फ्री टू एयर' न्यूज चैनल है, चैनल देखने के लिए आपको पैसे नहीं देने होंगे, यदि आप इसे मुफ्त में नहीं देख पा रहे हैं तो अपने सर्विस प्रोवाइडर से संपर्क करें।
Write a comment
pulwama-attack
australia-tour-of-india-2019