1. You Are At:
  2. होम
  3. विदेश
  4. एशिया
  5. इस्लामिक स्टेट के आखिरी किले से जान बचाकर भागे 450 से ज्यादा आतंकी

इस्लामिक स्टेट के आखिरी किले से जान बचाकर भागे 450 से ज्यादा आतंकी

किसी जमाने में सीरिया और इराक के एक बड़े हिस्से पर कब्जा कर चुके कुख्यात आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट की हालत बेहद पतली हो गई है।

Edited by: IndiaTV Hindi Desk [Published on:23 Jan 2019, 10:58 AM IST]
Syrian Democratic Forces | AP File Photo- India TV
Syrian Democratic Forces | AP File Photo

बेरूत: किसी जमाने में सीरिया और इराक के एक बड़े हिस्से पर कब्जा कर चुके कुख्यात आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट की हालत बेहद पतली हो गई है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, पूर्वी सीरिया में आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट के अंतिम गढ़ डेर एजोर प्रांत से कम से कम 5,000 लोगों ने पलायन किया हैं। सीरियनल ऑब्जर्वेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स की तरफ से दी गई जानकारी के मुताबिक, यहां से पलायन करने वालों में इस्लामिक स्टेट के लगभग 500 आतंकवादी भी शामिल हैं। 

आपको बता दें कि डेर एजोर प्रांत से आतंकवादियों को खदेड़ने के लिए कुर्द की अगुवाई वाले बल सितंबर से संघर्ष कर रहे हैं। ऑब्जर्वेटरी के प्रमुख रामी अब्देल ने गुरुवार को बताया कि सोमवार से अब तक प्रांत में आईएस के कब्जे वाले क्षेत्र से कम से कम 4,900 लोग जा चुके हैं। इनमें अधिकतर महिलाएं और बच्चे हैं। इन लोगों में 470 जिहादी भी शामिल हैं। संगठन ने बताया कि पलायन करने वालों नागरिकों में अधिकतर जिहादियों के परिजन हैं।

इन्हें सीरियन डेमोक्रेटिक फोर्सेज (SDF) के दर्जनों ट्रकों के जरिए क्षेत्र से बाहर भेजा गया। यह कुर्दों के नेतृत्व वाला एक गठबंधन है जो इस्लामिक स्टेट के खिलाफ संघर्ष कर रहा है। आपको बता दें कि हाल ही में अमेरिका द्वारा सीरिया से अपने सैनिक वापस बुलाने के ऐलान के बाद इस इलाके में हलचल तेज हो गई है। अधिकांश देशों का मानना है कि यदि अमेरिका ऐसा कदम उठाता है तो यहां लड़ रहे कुर्दों और तुर्की की सेना के बीच एक नया संघर्ष जन्म ले सकता है।

इंडिया टीवी 'फ्री टू एयर' न्यूज चैनल है, चैनल देखने के लिए आपको पैसे नहीं देने होंगे, यदि आप इसे मुफ्त में नहीं देख पा रहे हैं तो अपने सर्विस प्रोवाइडर से संपर्क करें।
Web Title: Nearly 5,000 people, including almost 500 terrorists flee last Islamic state enclave in eastern Syria
Write a comment
ipl-2019