1. You Are At:
  2. होम
  3. विदेश
  4. एशिया
  5. जानें, आखिर क्यों जापानी प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने की उत्तर कोरिया की तारीफ

जानें, आखिर क्यों जापानी प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने की उत्तर कोरिया की तारीफ

गौरतलब है कि गुरुवार को शिंजो आबे ने आगाह करते हुए कहा था कि सिर्फ बातें करने के लिए वार्ता करना ‘अर्थहीन’ है...

Edited by: IndiaTV Hindi Desk [Updated:09 Mar 2018, 5:49 PM IST]
Shinzo Abe | AP Photo- India TV
Shinzo Abe | AP Photo

तोक्यो: जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप एवं उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग-उन के बीच मुलाकात की शुक्रवार को हुई अचानक घोषणा का स्वागत किया। रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस साल मई के आखिर तक दोनों नेताओं के बीच मुलाकात होने की संभावना है। आबे ने कहा, ‘मैं उत्तर कोरिया के रुख में आए बदलाव की बहुत सराहना करता हूं कि वह परमाणु निरस्त्रीकरण के प्रस्ताव पर बातचीत शुरू करेगा।’ उन्होंने कहा कि वह अप्रैल में डोनाल्ड ट्रंप से मुलाकात करने के लिए अमेरिका जाने की योजना बना रहे हैं।

गौरतलब है कि गुरुवार को शिंजो आबे ने आगाह करते हुए कहा था कि सिर्फ बातें करने के लिए वार्ता करना ‘अर्थहीन’ है। हालांकि ट्रंप-किम की मुलाकात को लेकर उन्होंने सकारात्मक प्रतिक्रिया देते हुए इसकी सराहना की और इसे लेकर ‘दबाव बनाने में जापान, अमेरिका एवं दक्षिण कोरिया के बीच सहयोग’ को श्रेय दिया। उन्होंने कहा, ‘जापान एवं अमेरिका की नीति में कोई बदलाव नहीं है।’ आबे ने कहा कि जब तक उत्तर कोरिया परमाणु निरस्त्रीकरण की दिशा में कोई ठोस कार्रवाई नहीं करता तब तक हम लोग अधिक से अधिक दबाव बनाते रहेंगे।

आबे ने बताया कि उन्होंने शुक्रवार सुबह ट्रंप से बात की और अप्रैल तक अमेरिका की अपनी यात्रा पर सहमति जताई। इधर असोसिएटेड प्रेस से मिली खबर के अनुसार दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे-इन ने कहा कि ट्रंप एवं उत्तर कोरियाई नेता किम के बीच मुलाकात ‘ऐतिहासिक’ होगी, जिससे उत्तर कोरियाई प्रायद्वीप वाकई में परमाणु निरस्त्रीकरण की दिशा में आगे बढ़ेगा। ट्रंप किम के साथ मई के आखिर तक मुलाकात पर सहमत हुए हैं।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Web Title: Japanese Prime Minister Shinzo Abe hails North Korea move to invite US for talks
Write a comment