1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. एशिया
  5. मिसाइल सिस्टम का अनावरण कर ईरान के राष्ट्रपति रूहानी ने कहा, अमेरिका के साथ बातचीत बेकार है

मिसाइल सिस्टम का अनावरण कर ईरान के राष्ट्रपति रूहानी ने कहा, अमेरिका के साथ बातचीत बेकार है

अमेरिका के खिलाफ आक्रामक रुख अपनाते हुए ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी ने गुरुवार को कहा कि अमेरिका के साथ ‘बातचीत करना बेकार है’।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: August 23, 2019 9:28 IST
Iran unveils new Missile Defence System, Rouhani says our enemies 'do not accept logic' | AP- India TV
Iran unveils new Missile Defence System, Rouhani says our enemies 'do not accept logic' | AP

तेहरान: अमेरिका के खिलाफ आक्रामक रुख अपनाते हुए ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी ने गुरुवार को कहा कि अमेरिका के साथ ‘बातचीत करना बेकार है’। ईरानी राष्ट्रपति ने कहा कि इससे विश्व शक्तियों के साथ तेहरान का परमाणु समझौता और कमजोर होगा। रूहानी ने सतह से हवा में मार करने वाली लंबी दूरी की मिसाइल प्रणाली बावर-373 के अनावरण के दौरान दिए गए अपने भाषण में यह बात कही। रुहानी ने इस इन नए मिसाइल सिस्टम को रूस की एस-300 का उन्नत रूप बताया। 

‘हमारे दुश्मन तर्क स्वीकार नहीं करते’

रूहानी ने टेलीविजन पर दिए भाषण में कहा, ‘अब जबकि हमारे दुश्मन तर्क स्वीकार नहीं करते तो हम भी तर्क के साथ जवाब नहीं दे सकते। जब कोई दुश्मन हमारे खिलाफ मिसाइल दागता है तो हम भाषण नहीं दे सकते और यह नहीं कह सकते, ‘मिस्टर रॉकेट, कृपया हमारे देश और हमारे निर्दोष लोगों पर निशाना मत साधो। रॉकेट दागने वाले श्रीमान, अगर आप कर सकते हैं तो बटन दबाएं और हवा में मिसाइल को स्वयं नष्ट कर दें।’

बेहद ताकतवर है ईरान का नया मिसाइल सिस्टम
बुधवार को ईरान की सरकारी टीवी ने बताया था कि बावर-373 एक बार में 100 लक्ष्यों को पहचान सकता है और 6 अलग-अलग हथियारों से लक्ष्यों को भेद सकता है। साल 1992 से लेकर अब तक ईरान ने स्वेदशी रक्षा उद्योग विकसित किया जिसके तहत मोर्टार और टॉर्पीडो से लेकर टैंक और पनडुब्बियों तक हल्के और भारी हथियार बनाए गए। ईरान के मिसाइल कार्यक्रम और क्षेत्रीय प्रभाव के बारे में चिंताओं को लेकर ट्रंप प्रशासन के परमाणु समझौते से अलग होने के बाद अमेरिका ने ईरान पर पुन: प्रतिबंध लागू कर दिए। (भाषा)

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Write a comment