1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. एशिया
  5. भारत के चंद्रयान-2 पर क्या बोला दुनिया का मीडिया? पढ़िए- पाकिस्तान से लेकर अमेरिकी मीडिया की रिपोर्ट्स

भारत के चंद्रयान-2 पर क्या बोला दुनिया का मीडिया? पढ़िए- पाकिस्तान से लेकर अमेरिकी मीडिया की रिपोर्ट्स

चांद पर भारत के दूसरे महत्वाकांक्षी मिशन चंद्रयान-2 को श्रीहरिकोटा से सबसे शक्तिशाली रॉकेट GSLV-मार्क III-M1 (बाहुबली) के जरिए लॉन्च कर दिया गया है। जिसे लेकर पूरी दुनिया की नजरें भारत पर हैं। ऐसे में जानिए कि चंद्रयान-2 की लॉन्चिंग पर दुनिया का मीडिया क्या कह रहा है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: July 22, 2019 17:50 IST
International Media coverage on Chandrayaan-2 Moon Mission- India TV
NY Times

नई दिल्ली: चांद पर भारत के दूसरे महत्वाकांक्षी मिशन चंद्रयान-2 को श्रीहरिकोटा से सबसे शक्तिशाली रॉकेट GSLV-मार्क III-M1 (बाहुबली) के जरिए लॉन्च कर दिया गया है। चंद्रयान-2 की लॉन्चिंग पर पूरी दुनिया की नजरें थी। पूरी दुनिया की मीडिया ने चंद्रयान-2 की लॉन्चिंग को कवर किया है। लेकिन, करीब-करीब सभी का इसे देखने का नजरिया अलग है। ऐसे में चलिए एक-एक कर अंतरराष्ट्रीय मीडिया की कुछ रिपोर्ट्स पर नजर डालते हैं।

पाकिस्तानी मीडिया क्या कहता है?

पाकिस्तान की न्यूज वेबसाइट डॉन ने लिखा - भारत की अंतरिक्ष एजेंसी सोमवार को चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव क्षेत्र में उतरने के लिए एक मानवरहित अंतरिक्ष यान को लॉन्च किया। यह लॉन्च एक सप्ताह पहले होना था, लेकिन तब इसे एक तकनीकी समस्या की वजह से टाल दिया गया। डॉन ने आगे लिखा, “जैसे ही दोपहर 2 बजकर 43 मिनट पर रॉकेट का सफल लॉन्च हुआ मिशन कंट्रोल संटर वैज्ञानिकों की तालियों की गड़कगड़ाहट से गुंज उठा। डॉन यह भी लिखत है कि यदि भारत का यान चंद्रमा पर  लैंडिंग करता है तो  तो यह अमेरिका, रूस और चीन के बाद ऐसा करने वाला चौथा देश होगा।

DAWN

DAWN

International Media coverage on Chandrayaan-2 Moon Mission

NY Times

अमेरिकी मीडिया क्या कहता है?

अमेरिकी मीडिया ने भी चंद्रयान-2 की लॉन्चिंग को कवर किया है। अमेरिकी के अखबार न्यूयॉर्क टाइम्स की वेबसाइट ने लिखा कि "आखिरी मिनट में पहले प्रयास को रद्द करने के एक हफ्ते बाद चंद्रयान-2 मिशन को सोमवार की शाम 2:43 बजे लॉन्च कर दिया। इसे भारत के दक्षिण-पूर्वी तट पर बने सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से लॉन्च किया गया।" न्यूयॉर्क टाइम्स ने इसे भारत का सपना बताया है।

Xinhua

Xinhua

चीनी मीडिया क्या कहता है?

चीन की न्यूज एजेंसी शिन्हुआ ने लिखा, “भारत ने सोमवार को अपने मून मिशन-2 या चंद्रयान-2 का सफलतापूर्वक प्रक्षेपण किया, जो 15 जुलाई को तकनीकी खराबी के कारण निरस्त हो गया था। करीब 150 मिलियन अमेरिकी डॉलर के इस भारतीय मिशन का लक्ष्य चंद्रमा की सतह पर पानी, खनिज और रॉक संरचनाओं पर डेटा इकट्ठा करना है।”

BBC

BBC

ब्रिटिश मीडिया क्या कहता है?

ब्रिटिश मीडिया में भी चंद्रयान-2 को कवर किया गया है। BBC की वेबसाइट पर चंद्रयान-2 की लॉन्चिंग पर स्टोरी में कहा गया कि "चंद्रयान-2 को श्रीहरिकोटा अंतरिक्ष स्टेशन से सोमवार को स्थानीय समय के अनुसार दोपहर 14:43 बजे (09:13 जीएमटी) लॉन्च किया गया था। भारत को उम्मीद है कि $150 मिलियन (£120 मिलियन) का ये मिशन चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर उतरने वाला पहला मिशन होगा।"

RT

RT

रशियन मीडिया क्या कहता है?

चंद्रयान-2 की लॉन्चिंग पर रशियन मीडिया की भी नजरें थीं। वहां की न्यूज वेबसाइट RT पर लिखा गया कि "भारत की अंतरिक्ष एजेंसी ने पहले एक तकनीकी गड़बड़ के कारण पुनर्निर्धारित किए जाने वाले चंद्र मिशन को सफलतापूर्वक लॉन्च कर दिया है। इसे चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर उतरने के लिए सेट किया गया है। उम्मीद है कि इससे कई खोज सामने आएंगी।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Write a comment