1. You Are At:
  2. होम
  3. विदेश
  4. एशिया
  5. भारत, चीन और नेपाल के रिश्तों पर चीनी विदेश मंत्रालय ने दिया यह बड़ा बयान

भारत, चीन और नेपाल के रिश्तों पर चीनी विदेश मंत्रालय ने दिया यह बड़ा बयान

भारत और चीन के रिश्ते हालिया कुछ समय में खट्टे-मीठे रहे हैं, और इसी क्रम में चीन की तरफ से एक बड़ा बयान आया है...

Edited by: IndiaTV Hindi Desk [Published on:22 Feb 2018, 7:09 PM IST]
Geng Shuang | AP Photo- India TV
Geng Shuang | AP Photo

बीजिंग: भारत और चीन के रिश्ते हालिया कुछ समय में खट्टे-मीठे रहे हैं, और इसी क्रम में चीन की तरफ से एक बड़ा बयान आया है। के. पी. ओली के नेतृत्व वाली नई नेपाली सरकार को बधाई देते हुए चीन ने गुरुवार को कहा कि भारत, चीन और नेपाल को आपसी संपर्क बढ़ाना चाहिए ताकि सब को फायदा हो सके। गौरतलब है कि नेपाल के नए प्रधानमंत्री को चीन का करीबी माना जाता है। हालांकि प्रधानमंत्री बनने के बाद ओली ने कहा था कि वह चीन के साथ संबंधों को प्रगाढ़ कर नए अवसर तलाशेंगे और भारत के साथ समझौतों में अधिक फायदा लेंगे।

हाल ही में संसदीय चुनाव में जीत हासिल करने के बाद ओली ने कहा था कि वह समय को देखते हुए चीन के साथ संबंधों को प्रगाढ़ करने के नए अवसर तलाश करना और भारत के साथ समझौतों में अधिक फायदा लेना चाहते हैं। ओली की टिप्पणियों पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता गेंग शुआंग ने बीजिंग में कहा, ‘चीन ओली को नेपाल का नया प्रधानमंत्री बनने पर बधाई देता है। चीन, नेपाल और भारत एक दूसरे के महत्वपूर्ण पड़ोसी देश हैं। सबके फायदे के लिए तीनों पक्षों को बेहतर संपर्क बढ़ाना चाहिए।’

ओली सरकार को लेकर चीन में काफी उम्मीदें हैं क्योंकि उन्होंने प्रधानमंत्री के रूप में अपने पहले कार्यकाल के दौरान ओली ने चीन के साथ 2015 में पारगमन समझौता किया था। हालिया समय में नेपाल और चीन के बीच संबंधों में नई गर्मजोशी देखने को मिली है। चीन ने नेपाल में कई क्षेत्रों में निवेश करने की बात कही है।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Web Title: India, China, Nepal should step up interaction for win-win outcomes, says Chinese foreign ministry
Write a comment