1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. एशिया
  5. चीन के खिलाफ 1 लाख लोग सड़क पर उतरे, हांगकांग में विरोध प्रदर्शन जारी

चीन के खिलाफ 1 लाख लोग सड़क पर उतरे, हांगकांग में विरोध प्रदर्शन जारी

बीजिंग की गंभीर चेतावनियों को दरकिनार करते हुए एक लाख से अधिक की संख्या में लोगों ने यहां रविवार को लोकतंत्र समर्थक विरोध प्रदर्शन में हिस्सा लिया। प्रदर्शनकारी काले पहनावे में थे।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: August 18, 2019 23:00 IST
हांगकांग में विरोध प्रदर्शन जारी, 1 लाख लोग सड़क पर उतरे- India TV
हांगकांग में विरोध प्रदर्शन जारी, 1 लाख लोग सड़क पर उतरे

हांगकांग | चीन की गंभीर चेतावनियों को दरकिनार करते हुए एक लाख से अधिक की संख्या में लोगों ने हांगकांग में रविवार को लोकतंत्र समर्थक विरोध प्रदर्शन में हिस्सा लिया। प्रदर्शनकारी काले पहनावे में थे। बारिश के बावजूद विक्टोरिया पार्क प्रदर्शनकारियों से भर गया, और उसके बाद भी लोगों के आने का सिलसिला जारी रहा और इस तरह पार्क के बाहर सभी सड़कें भी प्रदर्शनकारियों से भर गईं। यह विरोध प्रदर्शन एक प्रत्यर्पण विधेयक के खिलाफ शुरू हुआ है, जिसे हांगकांग सरकार ने निलंबित कर दिया है।

रैली में शामिल होने जा रहे प्रदर्शनकारियों से सबवे रेलवे स्टेशन भर गए, जिसके बाद उन्हें बंद कर देना पड़ा। प्रशासन ने हालांकि आयोजक सिविल ह्यूमन राइट फ्रंट को मार्च निकालने की अनुमति नहीं दी थी, लेकिन पार्क में इतनी बड़ी संख्या में प्रदर्शनकारी जमा हो गए कि वहां की सड़कें भी प्रदर्शनकारियों से भर गईं। पुलिस ने हालांकि विक्टोरिया पार्क में प्रदर्शन की अनुमति दी थी।

वांग नामक एक प्रदर्शनकारी ने कहा, "हम दो महीने से अधिक समय से संघर्ष कर रहे हैं, लेकिन सरकार की तरफ से कोई जवाब नहीं आया है। हम बस बार-बार प्रदर्शन कर रहे हैं।" प्रदर्शनकारियों और पुलिस के बीच पिछले 10 सप्ताहों के दौरान संघर्ष हुए हैं, और सुरक्षा बलों ने आंसूगैस के गोले और रबर की गोलियां दागे हैं, लेकिन सप्ताहांत की रैलियां शांतिपूर्ण रही हैं।

चीन ने इन विरोध प्रदर्शनों को आतंकी गतिविधि करार दिया है। उसने शेनझेन के पास सुरक्षा बलों की तैनाती बढ़ा दी है। पिछले सप्ताह प्रदर्शनकारियों ने हवाईअड्डे पर कब्जा कर लिया था, जिसके कारण सैकड़ों उड़ानें रद्द करनी पड़ी थीं। इस घटनाक्रम ने एशिया के एक प्रमुख वित्तीय केंद्र को संकट में डाल दिया है। कई सारे व्यापारिक प्रतिष्ठान हिंसा के डर से रविवार को बंद रहे।  साउथ चाइना मार्निग पोस्ट के अनुसार, हांगकांग सरकार के प्रत्यर्पण विधेयक को लेकर जून में विरोध प्रदर्शन भड़क उठा था। प्रशासन ने मसौदा विधेयक को 15 जून को वापस ले लिया और शहर के नेता कैरी लैम ने बाद में इसे रद्द घोषित कर दिया, तभी से प्रदर्शनकारी इस मुद्दे को लेकर सड़क पर उतर आए हैं।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Write a comment