1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. एशिया
  5. अमेरिका और ईरान के बीच सुलह की कोशिशों में लगा था जापान, खामनेई के जवाब ने दिया झटका

अमेरिका और ईरान के बीच सुलह की कोशिशों में लगा था जापान, खामनेई के जवाब ने दिया झटका

ईरान के सर्वोच्च नेता अयातुल्ला अली खामनेई ने गुरुवार को अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से बातचीत की संभावना को सिरे से खारिज कर दिया।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: June 14, 2019 8:59 IST
Japanese Minister Shinzo Abe with Ayatollah Khamenei | english.khamenei.ir- India TV
Japanese Minister Shinzo Abe with Ayatollah Khamenei | english.khamenei.ir

तेहरान: ईरान के सर्वोच्च नेता अयातुल्ला अली खामनेई ने गुरुवार को अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से बातचीत की संभावना को सिरे से खारिज कर दिया। आपको बता दें कि अमेरिका और ईरान के बीच तनाव को दूर करने के लिए जापान कोशिशों में लगा हुआ है। आधिकारिक वेबसाइट पर प्रकाशित अपने बयान में खामनेई ने कहा कि ईरान का ‘अमेरिका में कोई विश्वास नहीं है और किसी भी तरह से अमेरिका के साथ पूर्व में हुए वार्ता के कटु अनुभवों को दोहराना नहीं चाहेगा।’

खामनेई का यह बयान जापानी प्रधानमंत्री शिंजो आबे के अभूतपूर्व ईरान दौरे के दौरान उनसे मुलाकात के बाद आया है। 1979 की इस्लामी क्रांति के बाद किसी जापानी प्रधानमंत्री का यह पहला ईरान दौरा है। मुलाकात के दौरान खामनेई ने आबे को बताया, ‘आपकी सद्भावना और गंभीरता पर हमें कोई संदेह नहीं है लेकिन अमेरिकी राष्ट्रपति ने आपको जो भी बताया और उसके बारे में आपने जो कहा उसके संदर्भ में, मैं ट्रंप को ऐसा व्यक्ति नहीं मानता जो संदेशों के आदान-प्रदान के योग्य है।’

गौरतलब है कि यह मुलाकात ऐसे समय हुई है जब ओमान के समुद्र में 2 तेल टैंकरों पर संदिग्ध हमला किया गया। इनमें से एक जहाज जापानी कंपनी का है जिससे खाड़ी में एक बार फिर तनाव बढ़ा है। अमेरिका के पिछले साल मई में 2015 के अहम परमाणु करार से पीछे हटने के बाद ईरान का अमेरिका के साथ गतिरोध चल रहा है। बैठक के बाद आबे ने कहा, ‘राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा है कि वह तनाव में इजाफा नहीं देखना चाहते हैं। मैंने अयातुल्ला खामनेई के साथ अपना नजरिया साझा किया और यह भी बताया कि राष्ट्रपति ट्रंप की क्या मंशा है।’

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Write a comment