1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. एशिया
  5. यदि हांगकांग संकट बढ़ता है, तो ‘‘हाथ पर हाथ धरकर नहीं बैठेगा’’ चीन: चीनी दूत

यदि हांगकांग संकट बढ़ता है, तो ‘‘हाथ पर हाथ धरकर नहीं बैठेगा’’ चीन: चीनी दूत

ब्रिटेन में चीन के राजदूत लियू शिआओमिंग ने कहा कि यदि हांगकांग में संकट ‘‘नियंत्रण से बाहर’’ हो जाता है, तो चीन ‘‘हाथ पर हाथ धरकर नहीं बैठेगा’’और वह ‘‘अशांति को तेजी से दबाने’’ के लिए तैयार है।

Bhasha Bhasha
Published on: August 15, 2019 21:44 IST
 यदि हांगकांग संकट...- India TV
Image Source : AP  यदि हांगकांग संकट बढ़ता है, तो ‘‘हाथ पर हाथ धरकर नहीं बैठेगा’’ चीन: चीनी दूत

लंदन। ब्रिटेन में चीन के राजदूत लियू शिआओमिंग ने कहा कि यदि हांगकांग में संकट ‘‘नियंत्रण से बाहर’’ हो जाता है, तो चीन ‘‘हाथ पर हाथ धरकर नहीं बैठेगा’’और वह ‘‘अशांति को तेजी से दबाने’’ के लिए तैयार है। इस बीच, अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने बृहस्पतिवार को कहा कि चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग और हांगकांग के लोकतंत्र समर्थक कार्यकर्ताओं के बीच बैठक से महीनों से चल रहे प्रदर्शनों का ‘‘सुखद’’ अंत हो सकता है। हांगकांग पुलिस के तीन वरिष्ठ अधिकारियों ने कहा कि उन्हें क्षेत्र में प्रदर्शनों को काबू करने के प्रयासों में चीनी बलों की योजनाओं की कोई जानकारी नहीं है।

राजदूत ने टेलीविजन पर प्रसारित एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘यदि हालात और खराब होते हैं और वे एसएआर (विशेष प्रशासनिक क्षेत्र) सरकार के नियंत्रण से बाहर हो जाते हैं तो केंद्र सरकार हाथ पर हाथ धरकर नहीं बैठेगी।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हमारे पास इस अशांति को तेजी से दबाने के लिए पर्याप्त समाधान और पर्याप्त ताकत है।’’

Hong Kong

 यदि हांगकांग संकट बढ़ता है, तो ‘‘हाथ पर हाथ धरकर नहीं बैठेगा’’ चीन: चीनी दूत

लियू ने कहा, ‘‘हम उम्मीद करते हैं कि यह व्यवस्थित तरीके से समाप्त होगा। इस बीच, हम खराब परिस्थिति के लिए पूरी तरह से तैयार है।’’ उन्होंने हांगकांग प्रदर्शनों में ‘‘विदेशी हस्तक्षेप’’ का विरोध किया और ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जोनसन की सरकार से अपील की कि वह इस मामले से ‘‘बहुत सावधानी’’ से निपटे। लियू ने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि इस देश में कुछ नेता हांगकांग को अब भी ब्रितानी साम्राज्य का हिस्सा मानते हैं।’’

Hong Kong

 यदि हांगकांग संकट बढ़ता है, तो ‘‘हाथ पर हाथ धरकर नहीं बैठेगा’’ चीन: चीनी दूत

ट्रम्प ने कहा, ‘‘यदि चीन के राष्ट्रपति शी प्रदर्शनकारियों से सीधे और निजी तौर पर मुलाकात करेंगे तो हांगकांग समस्या का सुखद अंत होगा। मुझे इस बात में कोई संदेह नहीं है।’’

इस बीच, चीन के हजारों सैन्यकर्मियों ने हांगकांग की सीमा के पास एक शहर के खेल स्टेडियम में लाल झंडा फहराते हुए बृहस्पतिवार को परेड निकाली। शेनजेन के स्टेडियम के भीतर बख्तरबंद वाहन भी नजर आए। यह कार्यक्रम ऐसे समय में आयोजित किया गया है जब इस बात को लेकर चिंताएं बढ़ गई हैं कि हांगकांग में जारी 10 हफ्ते के तनाव को खत्म करने में चीन हस्तक्षेप कर सकता है।

Hong Kong

 यदि हांगकांग संकट बढ़ता है, तो ‘‘हाथ पर हाथ धरकर नहीं बैठेगा’’ चीन: चीनी दूत

सरकारी मीडिया ने इस हफ्ते खबर दी थी कि ‘पीपुल्स आर्म्ड पुलिस’ (पीएपी) से जुड़े लोग शेनजेन में जमा हो रहे हैं। पीएपी केंद्रीय सैन्य आयोग के कमान के तहत आती है। दो सबसे शक्तिशाली मीडिया संगठन, ‘पीपुल्स डेली’ और ‘ग्लोबल टाइम्स’ ने शेनजेन में पीएपी के जवानों के एकत्रित होने के संबंध में सोमवार को वीडियो जारी किए थे। ‘ग्लोबल टाइम्स’ के मुख्य संपादक हू शीजीन ने कहा कि शेनजेन में सेना की मौजूदगी इस बात का संकेत है कि चीन हांगकांग में हस्तक्षेप की तैयारी में है। 

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Write a comment