1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. एशिया
  5. इंडोनेशिया में भूकंप से कम से कम 82 लोगों की मौत, कई घायल: अधिकारी

इंडोनेशिया में भूकंप से कम से कम 82 लोगों की मौत, कई घायल: अधिकारी

इंडोनेशिया के लोमबोक द्वीप में भूकंप का एक तगड़ा झटका महसूस किया गया जिसमें कम से कम 82 लोगों की मौत हो गई।

India TV News Desk India TV News Desk
Updated on: August 06, 2018 7:33 IST
इंडोनेशिया में भूकंप, लोमबोक द्वीप, लोमबोक- India TV
Image Source : पीटीआई इंडोनेशिया में भूकंप से कम से कम 82 लोगों की मौत, कई घायल: अधिकारी

माताराम (इंडोनेशिया): इंडोनेशिया के लोमबोक द्वीप में भूकंप का एक तगड़ा झटका महसूस किया गया जिसमें कम से कम 82 लोगों की मौत हो गई और कई अन्य घायल हो गए तथा कई इमारतों को नुकसान पहुंचा। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। भूकंप से पर्यटकों और स्थानीय लोगों में दहशत फैल गई।

अमेरिकी भूगर्भीय सर्वेक्षण (यूएसजीएस) के अनुसार इस भूकंप की तीव्रता सात थी और इसका केंद्र लोमबोक के उत्तरी क्षेत्र में जमीन से केवल 10 किलोमीटर नीचे था। सप्ताह भर पहले लोमबोक द्वीप पर आए भूकंप में 12 से अधिक व्यक्तियों की मौत हो गई थी। माताराम तलाशी और बचाव एजेंसी के एक वरिष्ठ अधिकारी अगुंग प्रामुजा ने एएफपी को बताया कि मृतकों की संख्या बढ़कर 82 हो गई है। अधिकारियों ने बताया कि भूकंप के बाद जारी की गई सुनामी की चेतावनी को रद्द कर दिया गया है। 

अधिकारियों ने कहा कि नवीनतम भूकंप में एक संक्षिप्त सुनामी चेतावनी जारी की गई थी। इससे बाली के देनपासार में भी इमारतों को क्षति पहुंची। इन इमारतों में एक डिपार्टमेंटल स्टोर और हवाई अड्डे टर्मिनल की इमारत शामिल है। मौसम विज्ञान, जलवायु विज्ञान और भूभौतिकी एजेंसी के अधिकारी डी कर्नावती ने कहा कि सुनामी की चेतावनी तब वापस ले ली गई जब सुनामी की लहरें तीन गांवों में मात्र 15 सेंटीमीटर ऊंची दर्ज की गई। 

लोमबोक के आपदा अधिकारी इवान अस्मारा ने कहा कि लोग घबराकर अपने घरों से बाहर निकल आये। इंडोनेशिया आपदा शमन एजेंसी के प्रवक्ता सुतोपो पुरवो नुग्रोहो ने बताया कि शहर में क्षतिग्रस्त हुई ज्यादातर इमारतों में घटिया निर्माण सामग्री का इस्तेमाल किया गया था। सुरक्षा सम्मेलन के लिए लोमबोक में मौजूद सिंगापुर के गृह मंत्री के शनमुगम ने फेसबुक पर बताया कि कैसे उनके होटल की दसवीं मंजिल का कमरा हिल रहा था। 

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Write a comment