1. You Are At:
  2. होम
  3. विदेश
  4. अन्य देश
  5. चीन ने आस्ट्रेलियाई प्रसारणकर्ता की वेबसाइट पर रोक लगाई: एबीसी

चीन ने आस्ट्रेलियाई प्रसारणकर्ता की वेबसाइट पर रोक लगाई: एबीसी

चीन ने आस्ट्रेलिया के राष्ट्रीय प्रसारणकर्ता की वेबसाइट तक पहुंच पर रोक लगा दी है। आस्ट्रेलिया के राष्ट्रीय प्रसारणकर्ता ‘एबीसी’ ने सोमवार को बताया कि चीन ने उसकी वेबसाइट तक पहुंच पर यह रोक बीजिंग के इंटरनेट नियमों का उल्लंघन करने के लिए लगाई है।

Edited by: India TV News Desk [Updated:03 Sep 2018, 10:19 AM IST]
China, ABC website- India TV
China officially bans ABC website

सिडनी: चीन ने आस्ट्रेलिया के राष्ट्रीय प्रसारणकर्ता की वेबसाइट तक पहुंच पर रोक लगा दी है। आस्ट्रेलिया के राष्ट्रीय प्रसारणकर्ता ‘एबीसी’ ने सोमवार को बताया कि चीन ने उसकी वेबसाइट तक पहुंच पर यह रोक बीजिंग के इंटरनेट नियमों का उल्लंघन करने के लिए लगाई है। ऑस्ट्रेलियन ब्रॉडकास्टिंग कॉर्पोरेशन ने एक साल पहले ही चीनी भाषा सेवा शुरू की थी।

एबीसी ने कहा कि उसकी वेबसाइट एवं ऐप तक पहुंच पर यह रोक गत 22 अगस्त को लगाई गई और वह उसके बाद से यह पता लगाने का प्रयास कर रहा है कि ऐसा क्यों किया गया है। स्पष्टीकरण के लिए बार-बार के अनुरोध के बाद चीन के ऑफिस ऑफ सेंट्रल साइबरस्पेस अफेयर्स कमीशन ने प्रसारणकर्ता को एक बयान जारी किया। 

एबीसी के अनुसार उक्त अधिकारी ने अपना नाम बताने से इनकार करते हुए कहा कि हम पूरे विश्व से इंटरनेट उद्यमों का स्वागत करते हैं कि वे चीन के नागरिकों को अच्छी सूचना मुहैया कराए। अधिकारी ने कहा कि यद्यपि चीन के नियम एवं कानूनों का उल्लंघन करने वाली कुछ विदेशी वेबसाइटों से देश की साइबर संप्रभुता अधिकार को बचा कर रखा जाएगा।

अधिकारी ने कहा कि इन वेबसाइटों में अफवाह, पोर्न सामग्री, जुआ, हिंसक आतंकवाद और कुछ अवैध हानिकारक सूचना फैलाने वाली वेबसाइट शामिल हैं जिससे देश की सुरक्षा और देश का गौरव खतरे में पड़ सकता है। एबीसी ने कहा कि उसे यह नहीं बताया गया कि उसने किस कानून का उल्लंघन किया है या किस सामग्री के चलते यह प्रतिबंध लगाया गया है। 

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Around the world News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Web Title: चीन ने आस्ट्रेलियाई प्रसारणकर्ता की वेबसाइट पर रोक लगाई: एबीसी
Write a comment