1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. अन्य देश
  5. इथोपियन विमान हादसा : चीन ने दिया सभी एयरलाइंस को बोईंग 737 मैक्स 8 विमानों की सेवा बंद करने का आदेश

इथोपियन विमान हादसा : चीन ने दिया सभी एयरलाइंस को बोईंग 737 मैक्स 8 विमानों की सेवा बंद करने का आदेश

अफ्रीकी देश इथोपिया में हुए विमान हादसे के बाद एक बार फिर बोईंग 737 मैक्स 8 विमानों पर प्रश्न चिह्न लग गया है। हालांकि अभी तक विमान हादसे के कारणों का पता नहीं चला है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: March 11, 2019 8:51 IST
Boeing 737 MAX 8 Jet- India TV
Boeing 737 MAX 8 Jet

अफ्रीकी देश इथोपिया में हुए विमान हादसे के बाद एक बार फिर बोईंग 737 मैक्‍स 8 विमानों पर प्रश्‍न चिह्न लग गया है। हालांकि अभी तक विमान हादसे के कारणों का पता नहीं चला है। लेकिन एहतियात के रूप में चीन के नागर विमानन प्राधिकरण ने इथोपिया विमान हादसे के बाद अपनी सभी विमानन कंपनियों को बोईंग 737 मैक्स 8 विमानों की सेवा बंद करने का आदेश दिया है। हालांकि चीन के अलावा अन्‍य किसी देश ने अभी तक विमानों पर रोक नहीं लगाई है। इथोपियन एयरलाइंस का विमान दुर्घटनाग्रस्‍त, 4 भारतीय सहित 157 की मौत

बता दें कि इथोपिया की राजधानी अदीस अबाबा के हवाई अड्डे से उड़ान भरने के 6 मिनट के भीतर इथोपियन एयरलाइंस का बोइंग 737 दुर्घटनाग्रस्‍त हो गया।विमान दुर्घटना में 157 यात्रियों की मौत हो गई। मृतकों में 4 भारतीय भी शामिल हैं। संयुक्त राष्ट्र के सूत्रों ने जानकारी दी कि अंदेशा है कि मृतकों में संयुक्त राष्ट्र से सम्बद्ध कम से कम एक दर्जन लोग शामिल हैं। सूत्र ने बताया कि मृतकों में संयुक्त राष्ट्र के पर्यावरण सम्मेलन में जा रहे स्वतंत्र दुभाषिये भी शामिल हो सकते हैं। 

एयरलाइन के सीईओ गेब्रेमरियम ने पत्रकारों को बताया कि पायलट ने परेशानी में होने की सूचना भेजी थी और उसे लौटने की मंजूरी दी गई थी। वरिष्ठ कैप्टन वाई गेटच्वयू को 8,000 घंटे उड़ान भरने का अनुभव था। उन्होंने बताया कि दुर्घटना की जांच इथोपिया और अमेरिकी जांचकर्ता करेंगे। गेब्रेमरियम ने बताया कि यह विमान रविवार को जोहिन्सबर्ग से आया था और तीन घंटे अदीस अबाबा में रहा था और इसमें कोई परेशानी नहीं थी। 

विमान कंपनी ने ट्विटर पर अपना लोगो बदलकर अश्वेत और श्वेत कर लिया है और कहा कि हादसे में कोई जीवित नहीं बचा है। बाद में मृतकों के रिश्तेदारों को एक होटल में ले जाया गया जहां उनसे बातचीत की गई और उन्हें काउंसलिंग की पेशकश की गई। हालांकि पत्रकारों को इसमें जाने की इजाजत नहीं दी गई। इथोपियन एयरलाइन ने बताया कि मृतकों में सर्वाधिक 32 लोग केन्या के हैं । इसके बाद कनाडा के 18, इथोपिया के नौ, इटली, चीन और अमेरिका के आठ-आठ नागरिक शामिल हैं। मृतकों में ब्रिटेन और फ्रांस के सात-सात, मिस्र के छह, जर्मनी के पांच लोग शामिल हैं। इसके अलावा मृतकों में अफ्रीका के 12 देशों और यूरोप के 14 देशों के नागरिक शामिल हैं।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Around the world News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Write a comment