1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विषय

deals

RCOM ने ऋण लौटाने के लिए बैंकों से मांगा 4 माह का समय, 30 सितंबर तक चुकाएगी 25,000 करोड़ रुपए

RCOM ने ऋण लौटाने के लिए बैंकों से मांगा 4 माह का समय, 30 सितंबर तक चुकाएगी 25,000 करोड़ रुपए

बिज़नेस | May 30, 2017, 04:39 PM IST

भारी ऋण के बोझ से दबी अनिल अंबानी के नेतृत्‍व वाली RCOM ने आज बैंकों और बांड होल्‍डर्स से लोन चुकाने के लिए 30 सितंबर तक का समय मांगा है।

भारतीय कंपनियों ने 2017 की पहली तिमाही में किए 17.9 अरब डॉलर के सौदे, रिपोर्ट में हुआ खुलासा

भारतीय कंपनियों ने 2017 की पहली तिमाही में किए 17.9 अरब डॉलर के सौदे, रिपोर्ट में हुआ खुलासा

बिज़नेस | Apr 19, 2017, 09:11 PM IST

पहली तिमाही में विलय एवं अधिग्रहण गतिविधियों की तेज शुरुआत हुई है। एक रिपोर्ट के अनुसार पहली तिमाही में भारतीय कंपनियों ने कुल 17.9 अरब डॉलर के सौदे किए।

जनवरी-मार्च तिमाही में वैश्विक विलय एवं अधिग्रहण सौदे 678 अरब डॉलर पर पहुंचे

जनवरी-मार्च तिमाही में वैश्विक विलय एवं अधिग्रहण सौदे 678 अरब डॉलर पर पहुंचे

बिज़नेस | Apr 07, 2017, 05:40 PM IST

वर्ष के शुरुआती तीन माह के दौरान दुनियाभर में 678 अरब डॉलर के विलय-अधिग्रहण की घोषणा हुई। इस लिहाज से कैलेंडर वर्ष की शुरुआत अच्छी रही।

कंपनियों में सुदृढ़ीकरण पर जोर, जनवरी में विलय-अधिग्रहण सौदे तीन गुणा बढ़े

कंपनियों में सुदृढ़ीकरण पर जोर, जनवरी में विलय-अधिग्रहण सौदे तीन गुणा बढ़े

बिज़नेस | Feb 12, 2017, 03:44 PM IST

वर्ष की शुरुआत कंपनियों में विलय-अधिग्रहण के मामले में काफी मजबूती के साथ हुई है। जनवरी माह में विलय एवं अधिग्रहण से जुड़े करीब 2.3 अरब डॉलर के सौदे हुए

Year Ender 2016: दुनियाभर में 3,100 अरब डॉलर के हुए विलय- अधिग्रहण सौदे, 22 फीसदी गिरावट दर्ज

दुनियाभर में 3,100 अरब डॉलर के हुए विलय- अधिग्रहण सौदे, 22 फीसदी गिरावट दर्ज

बाजार | Dec 26, 2016, 04:33 PM IST

वैश्विक स्तर पर इस साल अब तक कंपनियों के विलय एवं अधिग्रहण सौदे 3,100 अरब डॉलर मूल्य के रहे। यह आंकड़ा पिछले साल के मुकाबले 22 फीसदी कम है।

Biggest deal in pharma: फाइजर खरीदेगी अलेरगन को, 160 अरब डॉलर में होगा सौदा

Biggest deal in pharma: फाइजर खरीदेगी अलेरगन को, 160 अरब डॉलर में होगा सौदा

बिज़नेस | Nov 23, 2015, 08:09 PM IST

Pharma इंडस्‍ट्री का यह अभी तक का सबसे बड़ा अधिग्रहण सौदा होगा और इसके बाद फाइजर दुनिया की सबसे बड़ी फार्मा कंपनी बन जाएगी।

ipl-2019