1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. टेक
  4. न्यूज़
  5. लॉन्च हुआ Xploree का स्मार्ट कीबोर्ड ऐप, जानें क्या है खास

लॉन्च हुआ Xploree का स्मार्ट कीबोर्ड ऐप, जानें क्या है खास

‘एक्सप्लोरी’ नाम से एक ऐसा कीबोर्ड ऐप लॉन्च हुआ है जो ऑटो करेक्शन और अगले शब्द की पहचान कहीं बेहतर तरीके से करता है। यही नहीं, यह ऐप स्टीकर्स, इमोजी और थीम्स भी मुहैया कराता है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: April 15, 2017 13:57 IST
Xploree- India TV
Xploree

नई दिल्ली: ‘एक्सप्लोरी’ नाम से एक ऐसा कीबोर्ड ऐप लॉन्च हुआ है जो ऑटो करेक्शन और अगले शब्द की पहचान कहीं बेहतर तरीके से करता है। यही नहीं, यह ऐप स्टीकर्स, इमोजी और थीम्स भी मुहैया कराता है। इसके अलावा भी इस कीबोर्ड ऐप में कई कमाल के फीचर्स हैं। आइए, जानते हैं क्या है एक्सप्लोरी और यह क्यों है खास...

इन्हें भी पढ़ें:

एक्सप्लोरी क्या है?

एक्सप्लोरी क्रांतिकारी और इंडस्ट्री में अपनी तरह का पहला की-बोर्ड ऐप है। यह टेक्स्ट में टाइप किए गए मैटर से यूजर की मंशा को तुरंत पढ़ता और उसकी समीक्षा करता है। वह यूजर्स की जरूरतों को पहचानता है और उन्हें तुरंत उनके लिए जरूरी, उपयोगी, बेहद प्रासंगिक डील, ऑफर्स, प्रॉडक्ट या सर्विस से जोड़ता है। एक्सप्लोरी कई दूसरे फीचर्स, जैसे ऑटो करेक्ट, डिक्शनरी, आपके अक्षरों को पहचानकर आप जो शब्द लिखना चाहते हैं, वह शब्द (प्रेडिक्टिंग टेक्सट), स्टीकर्स, इमोजी और थीम्स मुहैया कराता है। 

इन्हें भी पढ़ें:

एक्सप्लोरी की पहुंच
एक्सप्लोरी का तेजी से बढ़ता हुआ यूजर बेस है, जो भारत में 25 लाख तक पहुंच चुका है। इस ऐप से अनगिनत श्रेणियों में 1 अरब या ज्यादा कंटेंट, तस्वीरों और वीडियोज की तलाश की जा सकती है। एक्सप्लोरी ने कई ब्रैंड्स जैसे जोमाटो, फ्लिपकार्ट, अमेजन, फसर्टक्राई, कूपनदुनिया और इक्सिगो के साथ भागीदारी की है।

एक्सप्लोरी की-बोर्ड के अनोखे फीचर्स
• ऑटो करेक्शन और अगले शब्द की पहचान। 
• आपकी लेखनशैली में घुलमिल जाता है।
• तरह-तरह के इमोशन को पहचान देने वाले 1200 से ज्यादा सिंबल और आपकी बातचीत को जीवंत बनाने के लिए फन स्टिकर्स।
• 50 से ज्यादा एनिमेटेड की-बोर्ड थीम।
• प्रेस्टो नामक डिस्कवरी काडर्स पर यह आपकी लेखन शैली से आपकी मंशा को भांपकर उसी के अनुसार शब्द लिखने का सुझाव देता है।
• आपकी जरूरतों और मंशा के अनुसार तस्वीरें खोजता है या इन्हें खोजने के लिए हिंट देता है।
• प्रॉडक्ट संबंधी सुझाव या दूसरी कंपनी के ऑफर से आप अपने लिए जरूरी या उपयोगी खोज कर सकते हैं।
• आप यहां रोजाना कंटेंट फीड एंजॉय और शेयर कर सकते हैं और लेटेस्ट क्रिकेट स्कोर से अपडेट रह सकते हैं।
 • कंप्यूटर के स्पेस बार पर एक ही बार स्वाइप करने से आपको आसानी से अपनी भाषा बदलने के 110 से ज्यादा विकल्प मिलते हैं।
• आप इसमें नए शब्द जोड़ सकते हैं। यह आपकी निजी डिक्शनरी भी होगी।
• एक्सप्लोरी की-बोर्ड के सभी डिवाइसेज में अपनी जरूरत के हिसाब से किए गए बदलाव को लिए यूनीक यूजर लोगिन होता है।
• पहले से खोजे गए आपके ऐप्स के सहारे यह आपको अपनी जरूरत के हिसाब से ज्यादा से ज्यादा आइटम मुहैया कराता है।
• ऐप्स में किसी तरह का बदलाव किए बिना आप काफी तेज ब्राउजिंग कर सकते हैं, जो आपकी जरूरतों के अनुसार कई प्रासंगिक विकल्प आपके सामने लाती है। हम आपकी निजता को महत्व देते हैं और आपका पर्सनल डाटा या व्यक्तिगत सूचना आपकी सहमति के बिना थर्ड पार्टीज से शेयर नहीं करते।

एक्सप्लोरी की-बोर्ड 3 स्टेप्स में हासिल करें
1. एक्सप्लोरी की-बोर्ड को डाउनलोड कीजिए।
2. इसे अपना डिफॉल्ट की-बोर्ड बनाइए।
3. तरह-तरह की मजेदार खोजों के लिए एक्सप्लोरी की-बोर्ड पर टाइप कीजिए।

की पॉइंट टेक्नॉल्जीज के बारे में
की पॉइंट टेक्नॉलजीज (केपीटी) मोबाइल यूजर्स के लिए नई भाषा तकनीक की खोज में लगी एक ग्लोबल कंपनी है। यह लिंग्विस्टिक्स इनोवेटर और इसके सीईओ सुनील मोटार्पती हैं। 2004 में स्थापित की पॉइंट टेक्नॉलजीज का हेडक्वॉर्टर स्कॉटलैंड के ग्लासगो में है। इसके ऑफिस अमेरिका, जापान, चीन और भारत में हैं। भारत में की पॉइंट टेक्नॉलजीज के दफ्तर हैदराबाद और बेंगलुरु में है। केपीटी ओईएम, प्लैटफॉर्म प्रोवाइडर और डिवेलपरों का एक भरोसेमंद पार्टनर है।

एक्सप्लोरी के लाभ 
यूजर्स के लिए- एक्सप्लोरी यूजर्स के खुद खोजे हुए मजेदार अनुभव सामने लाता है। यह उन्हें सुविधा देता है। किसी खोज में लगने वाले समय और प्रयास की यह बचत करता है। यह यूजर्स की एक ऐप से दूसरे ऐप की ओर भागने की दौड़-धूप खत्म करता है। की-बोर्ड यूजर को बिना किसी अनुचित दखल के उनके काम के कई ऑफर देता है। किसी खोज के लिए टाइप किए गए शब्द को पूरा करने से पहले की-बोर्ड उससे मिलती-जुलते कई कंटेंट को आपके सामने ला देता है। 

एक्सप्लोरी की-बोर्ड के इस्तेमाल से यूजर को होने वाला अनुभव और मजेदार हो जाता है क्योंकि यह उनके रोजमर्रा के काम में वस्तुओं या कॉन्टेंट की तलाश में लगने वाले मानवीय प्रयास या समय को बहुत कम कर देता है। इससे उनका काम काफी तेजी और की-बोर्ड पर बिना ज्यादा मेहनत किए हो जाता है।

India TV Hindi पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Tech News News in Hindi के लिए क्लिक करें टेक सेक्‍शन
Write a comment
bigg-boss-13
plastic-ban