1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. खेल
  4. अन्य खेल
  5. Year Ender 2018: फ्रांस के नाम रहा साल 2018, लूका मॉड्रिच ने 'खत्म' किया मेसी- रोनाल्डो का युग

Year Ender 2018: फ्रांस के नाम रहा साल 2018, लूका मॉड्रिच ने 'खत्म' किया मेसी- रोनाल्डो का युग

Year Ender 2018: यहां जानिए फुटबॉल जगत के लिए कैसा रहा साल 2018 और किस टीम में हुए क्या बदलाव। साथ ही जानिए साल 2018 में किस टीम ने मारी बाजी तो कौन ढूंढ़ रहा है अपनी लय।

Amit Kumar Amit Kumar @amitkemit
Updated on: December 31, 2018 16:05 IST
Year Ender 2018: फ्रांस के नाम रहा साल 2018, लूका मोड्रिच ने 'खत्म' किया मेसी- रोनाल्डो का युग- India TV
Image Source : GETTY IMAGES Year Ender 2018: फ्रांस के नाम रहा साल 2018, लूका मोड्रिच ने 'खत्म' किया मेसी- रोनाल्डो का युग

फ्रांस ने 1998 में जब अपना पहला फीफा वर्ल्ड कप जीता था तब उनकी जर्सी पर राष्ट्रीय लोगो के जस्ट ऊपर एक स्टार जोड़ दिया गया था। ठीक 20 साल बाद, उस लोगो के ऊपर एक और स्टार जुड़ गया। फ्रांस की युवा टीम ने 2018 में दूसरा फीफा वर्ल्ड कप अपने नाम किया। फुटबॉल की दुनिया में साल 2018 काफी बड़ा रहा। फ्रांस की इस टीम में एक 19 साल का लड़का हीरो बनकर उभरा जिसने न केवल टीम को जिताने में अहम भूमिका निभाई बल्कि फुटबॉल की दुनिया में एक छाप छोड़ दी। हम बात कर रहे हैं किलियन म्बाप्पे की। फ्रांस ने रूस में हुए फीफा वर्ल्ड कप 2018 के फाइनल में क्रोएशिया को हराकर अपना दूसरा खिताब जीता। फ्रांस ने फाइनल में क्रोएशिया को 4-2 से हराया। हालांकि इस फाइनल को भले ही फ्रेंच टीम ने जीता हो लेकिन अंत में क्रोएशिया के कप्तान लूका मॉड्रिच को फीफा बेस्ट प्लेयर चुना गया। 

इसके अलावा एक बार फिर से लियोनल मेसी का अर्जेंटीना को वर्ल्ड कप जिताने का सपना अधूरा रह गया। इसी साल रियल मैड्रिड प्रसीडेंट फ्लेरेंटीनो परेज के साथ 'अनबन' के चलते क्रिस्टियानो रोनाल्डो ने रियल मैड्रिड को अचानक छोड़ सभी को चौका दिया। रोनाल्डो के बाद कोच जिनेदिन जिदाने ने भी चौंकाने वाला फैसला लेते हुए क्लब छोड़ दिया। रोज की खबरों में मेसी-रोनाल्डो भले ही हावी रहे हों लेकिन इसके बावजूद, क्रोएशिया और रियल मैड्रिड के तिलिस्माई मिडफील्डर लूका मॉड्रिच महफिल अपने नाम कर गए। मॉड्रिच ने मेसी, रोनाल्डो के युग में सेंध लगाते हुए फीफा के सभी व्यक्तिगत अवॉर्ड अपने नाम किए।

 
मॉड्रिच ने फीफा बेस्ट प्लेयर, वर्ल्ड कप में गोल्डन बूट जीता और मेसी व रोनाल्डो के 10 साल से चले आ रहे युग को 'समाप्त' करते हुए प्रतिष्ठित बैलोन डी'ओर भी अपने नाम किया। पिछली बार जब किसी खिलाड़ी ने इन दोनों सुपरस्टार्स के हाथ से ये अवॉर्ड छीना था तो वह कोई और नहीं बल्कि ब्राजील और एसी मिलान के काका थे, जिन्होंने 2007 में बैलोन डी'ओर जीता था। हालांकि कई आलोचकों और फुटबॉल फैंस को लगा कि मॉड्रिच का ये अवॉर्ड जीतना गलत था। 

इसी साल रियल मैड्रिड ने अपना लगातार तीसरा चैंपियंस लीग खिताब जीता, इस बार लिवरपूल उनका शिकार बने, लेकिन तब से उनकी फॉर्म बहुत ही खराब रही है। चूंकि जिदान ने क्लब छोड़ दिया, तो लॉस ब्लैंकोस ने स्पेन के कोच जुलेन लोपेतेगुई को फ्रेंचमैन के उत्तराधिकारी के रूप में नियुक्त किया, लेकिन टीम कभी भी अपने स्टार फारवर्ड और अटैकिंग कोच के बिना वैसी फॉर्म में नहीं दिखी। जिसके बाद कोच के रूप में लोपेतेगुई का कार्यकाल जल्द ही समाप्त हो गया। इसका कारण रहा एल क्लासिको में बार्सिलोना के हाथों 5-1 से मिली करारी हार। इस मैच में रोनाल्डो को छोड़कर उनके सभी रेगुलर स्टार खिलाड़ी शामिल थे। जिसके बाद मैड्रिड ने पूर्व रियल मैड्रिड खिलाड़ी सैंटियागो सोलारी को अपना नया कोच नियुक्त किया है लेकिन बदलाव के बावजूद मैड्रिड अभी भी संघर्ष कर रहा है।

बर्खास्तगी की बात करें तो, तो चेल्सी एफसी ने भी कोच एंटोनियो कॉन्टे को बर्खास्त कर दिया, हालांकि इसके बावजूद वे ब्लूज से एफए कप जीतने में सफल रहे। चेल्सी के साथ दो वर्षों में, कॉन्टे ने अपने डेब्यू सीजन में प्रीमियर लीग जीता था और दूसरे सीजन में एफए कप जीता। मॉरिजियो सर्री को नए कोच के रूप में नियुक्त किया गया है। अटैकिंग स्टाइल वाली चेल्सी प्रीमियर लीग में फॉर्म ढूंढ़ रही है जिसकी अगुआई ईडन हैजर्ड फ्रंट से कर रहे हैं। 

चेल्सी के पड़ोसी आर्सेनल ने भी 22 साल बाद बदलाव देखा, आर्सेन वेंगर ने क्लब छोड़ दिया। फैंस, प्लेयर्स और मैनेजमेंट के साथ खराब होते रिश्तों के चलते आखिरकार वेंगर ने क्लब छोड़ने का फैसला किया। पूर्व पीएसजी कोच उनाई एमरी, को वेंगर के उत्तराधिकारी के रूप में नियुक्त किया गया। एमरी के अंडर में आर्सेनल ने साउथेम्प्टन के हाथों हारने से पहले सभी फॉर्मट में लगातार 22 मैच जीते थे। हालांकि साउथेम्प्टन के बाद टोटेनहम हॉटस्पर के हाथों काराबाओ कप में भी उन्हें बाहर का रास्ता देखने को मिला। 

इसके अलावा मैनचेस्टर यूनाइटेड को क्रिसमस से पहले 'तोहफा' मिला। सीजन में खराब प्रदर्शन के बाद बोर्ड ने जोस मोरिन्हो को निकाल दिया। जोस मोरिन्हो का ये युनाइटेड के साथ तीसरा सीजन था। पुर्तगाली कोच जोस मोरिन्हो के खिलाड़ियों और प्रबंधन के साथ संबंध काफी कड़वे हो रहे थे। खबरें यहां तक आईं कि बहुत से खिलाड़ी क्लब छोड़ने तक की धमकी दे रहे थे, जिसमें टीम के सबसे महंगे प्लेयर्स में के एक पॉल पोग्बा का नाम भी शामिल था। हालांकि अब पूर्व मैनचेस्टर यूनाइटेड खिलाड़ी ओले गनर सोल्स्कयार को यूनाइटेड का केयरटेकर मैनेजर नियुक्त किया गया है। ऐसा माना जा रहा है कि सीजन में अगर युनाइटेड अच्छा कर गई तो उन्हें स्थायी भी किया जा सकता है। वैसे साल 2018 का अंत यूनाइटेड ने ओले गनर सोल्स्कयार के अंडर में जीत के साथ ही किया है। 

अर्जेंटीना के लिए विश्व कप में 'फ्लॉप' होने के बावजूद, मेसी अपनी क्लब टीम एफसी बार्सिलोना के लिए एक बार फिर से एक सीजन में सबसे अधिक गोल करने साथ रिकॉर्ड 5वीं बार गोल्डन शू जीतने की रेस में सबसे आगे हैं। इस दौरान मेसी ने कुछ रिकॉर्ड भी तोड़े हैं। जिसमें किसी भी बार्सिलोना खिलाड़ी द्वारा सर्वाधिक ला लीगा जीत (323) शामिल हैं। इसके अलावा मेसी इकलौते ऐसे खिलाड़ी बने जिसने 13 लगातार ला लीगा सीजन में 10 या उससे ज्यादा गोल किए हैं। चैंपियंस लीग में किसी एक क्लब के लिए सबसे अधिक गोल (106), सबसे ज्यादा चैंपियंस लीग हैट-ट्रिक्स (8), पिछले नौ कैलेंडर सालों में 50+ गोल भी मेसी के ही नाम हैं। 

इसी साल फुटबॉल की दुनिया ने वर्ल्ड कप विजेताओं में 20 वर्षीय नया स्टार भी देखा किलियन म्बाप्पे। 2016 में मोनाको को फ्रेंच लीग (फ्रेंच लीग 1) जिताने के बाद पेरिस सेंट जर्मेन (पीएसजी) के साथ किलियन म्बाप्पे नए मुकाम हासिल कर रहे हैं। मोनाको के साथ अच्छा प्रदर्शन करने के बाद म्बाप्पे को पेरिस सेंट जर्मेन ने तुरंत खरीद लिया था। उसी साल फ्रांस जाएंट ने एफसी बार्सिलोना से ब्राजीली सुपरस्टार को वर्ल्ड रिकॉर्ड साइनिंग के तहत नेमार को अपने साथ जोड़ा था। म्बाप्पे हाल ही में पहली बार कोपा ट्रॉफी जीतने वाले खिलाड़ी बने। उन्हें दो बार (2017,18) के लिए Ligue 1 प्लेयर ऑफ द इयर चुना गया। म्बाप्पे फीफा प्रो वर्ल्ड इलेवन का हिस्सा बनने वाले दुनिया के पहले टीनेजर खिलाड़ी बने। इसके अलावा म्बाप्पे को रूस में हुए वर्ल्ड कप में भी सर्वश्रेष्ठ युवा खिलाड़ी चुना गया। 

इसी साल की ट्रांसफर विंडो में साइनिंग की बात करें तो, साल का सबसे बड़ा झटका तब लगा जब 5 बार के बैलन डी'ओर विजेता क्रिस्टियानो रोनाल्डो ने दुनिया चौंकाते हुए मैड्रिड से तूरिन में शिफ्ट हो गए। जुवेंटस ने 100 मिलियन पाउंड के लिए पुर्तगाली खिलाड़ी को साइन किया। हालांकि तूरिन में पूर्व रियल खिलाड़ी के लिए एक अब तक कठिन दौर रहा है, लेकिन टीम लीग में शीर्ष पर है और चैंपियंस लीग में उनकी जगह भी पक्की है, जिसमें फिलहाल ये स्टार स्ट्राइकर फ्रंट से लीड कर रहा है।

इसी साल लिवरपूल ने (झॉर्डर शकीरी) Xherdan Shaqiri को खरीदा जिन्होंने नैबी काइटा (Naby Keita) के साथ मिलकर काफी अच्छा प्रभाव छोड़ा है। आर्सेनल ने लुकास टोरेरिया को खरीदा, जो उनाई एमरी के अंडर में न्यू गनर्स के लिए रीढ़ की हड्डी रहे हैं। वहीं सार्री जोर्जिन्हो को चेल्सी में लेकर आए, जो एंगोलो कांटे के साथ ब्लूज के लिए मिडफील्ड में शानदार कर रहे हैं। दूसरी ओर बोरुसिया डॉर्टमंड इस समय जादोन सांचो और ऑन-लोन पाको अल्केजर के साथ तहलका मचाए हुए हैं। डॉर्टमंड के साथ इस जोड़ी ने माहौल को बदल दिया है, जिससे वे लीग खिताब पर कब्जा जमाने के उद्देश्य से तालिका में शीर्ष पर पहुंच गए हैं। उन्होंने आखिरी बार 2011-2012 में सीजन जीता था।

साल खत्म होने के साथ, इस सीज़न में काफी फुटबॉल बाकी है, जिसमें प्रीमीयर लीग, ला लीगा और बुंडेसलीगा की रेस अभी भी खुली हुई है। चैंपियंस लीग में यूरोप के सभी दिग्गज क्लब शामिल हैं, जो कि अंतिम 16 में भिड़ने के लिए तैयार हैं, जैसे मैनचेस्टर यूनाइटेड का सामना पीएसजी, लिवरपूल के साथ बायर्न म्यूनिख, टोटेनहम बनाम बोरुसिया डॉर्टमंड जैसे धमाकेदार मुकाबले होने हैं। साल 2019 में इन यूरोपियन लीग के विजेता तय होंगे। इसके अलावा भी फुटबॉल की दुनिया में बहुत कुछ होगा। जिसकी जानकारी इंडिया टीवी हिंदी आपको देता रहेगा। 

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Other Sports News in Hindi के लिए क्लिक करें खेल सेक्‍शन
Write a comment

लाइव स्कोरकार्ड