1. You Are At:
  2. होम
  3. खेल
  4. अन्य खेल
  5. आईएएएफ कांटिनेंटल कप: अरपिंदर सिंह ने इतिहास रचा, नीरज चोपड़ा ने किया निराश

आईएएएफ कांटिनेंटल कप: अरपिंदर सिंह ने इतिहास रचा, नीरज चोपड़ा ने किया निराश

अरपिंदर सिंह ने आईएएएफ कांटिनेंटल कप में ब्रॉन्ज मेडल जीतकर भारतीय खेलों में नया इतिहास रचा, लेकिन भाला फेंक के स्टार एथलीट नीरज चोपड़ा अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाये।

Reported by: Bhasha [Published on:10 Sep 2018, 3:56 PM IST]
अरपिंदर सिंह - India TV
अरपिंदर सिंह 

ओस्ट्रावा (चेक गणराज्य): त्रिकूद के एथलीट अरपिंदर सिंह ने आईएएएफ कांटिनेंटल कप में रविवार को कांस्य पदक जीतकर भारतीय खेलों में नया इतिहास रचा, लेकिन भाला फेंक के स्टार एथलीट नीरज चोपड़ा अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाये और छठे स्थान पर रहे। अरपिंदर इस टूर्नामेंट में पदक जीतने वाले पहले भारतीय बन गये हैं। जकार्ता एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाले अरपिंदर ने अपने पहले प्रयास में 16.59 मीटर कूद लगायी। इसके बाद अगले दो प्रयासों में वह 16.33 मीटर ही कूद लगा पाये और इस तरह से दो एथलीटों के बीच फाइनल कूद में जगह बनाने में नाकाम रहे। यह भारतीय हालांकि कांस्य पदक हासिल करने में सफल रहा।  

26 साल के अरपिंदर साल में एक बार होने वाली इस प्रतियोगिता में एशिया पैसेफिक टीम का प्रतिनिधित्व कर रहे थे। उन्होंने जकार्ता में 16.77 मीटर कूद लगायी थी जबकि उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 17.17 मीटर है जो उन्होंने 2014 में किया था। कोई भी भारतीय अब तक कांटिनेंटल कप में पदक जीत पाया था जिसे 2010 से पहले आईएएएफ विश्व कप के नाम से जाना जाता था। 

अमेरिका के मौजूदा ओलंपिक और विश्व चैंपियन क्रिस्टियन टेलर ने 17.59 मीटर कूद लगाकर आसानी से स्वर्ण पदक जीता। उन्होंने बुर्किन फासो के ह्यूज फैब्राइस जांगो को हराया जिन्होंने 17.02 मीटर कूद लगायी। पुरूषों के भाला फेंक में राष्ट्रमंडल खेल और एशियाई खेलों के मौजूदा चैंपियन चोपड़ा आठ खिलाड़ियों के बीच 80.24 मीटर भाला फेंककर छठे स्थान पर रहे। चोपड़ा ने 80.24 मीटर से शुरुआत की और दूसरे प्रयास में 79.76 मीटर ही भाला फेंक पाये। यह इस सत्र में चोपड़ा का सबसे खराब प्रदर्शन है। उन्होंने डायमंड लीग सीरीज के इयुगेन चरण में 80.81 मीटर भाला फेंका था। 

इसके अलावा अन्य सभी प्रतियोगिताओं में उन्होंने नियमित तौर पर 85 मीटर से अधिक भाला फेंका था। उन्होंने एशियाई खेलों में 88.06 मीटर के राष्ट्रीय रिकॉर्ड के साथ स्वर्ण पदक जीता था। मौजूदा ओलंपिक चैंपियन जर्मनी के थामस रोहलर ने स्वर्ण पदक जीता। उन्होंने दो खिलाड़ियों के फाइनल में चोपड़ा के एशिया पैसेफिक टीम के साथी चाओ सुन चेंग को हराया। चेग ने 81.81 मीटर जबकि रोहलर ने 87.07 मीटर भाला फेंका। 

पुरूषों की 400 मीटर दौड़ में राष्ट्रीय रिकॉर्डधारक मोहम्मद अनस ने 45.72 सेकेंड का अच्छा समय निकाला लेकिन वह पांचवें स्थान पर रहे। एशिया पैसेफिक के उनके साथी कतर के अब्दुल्लाह हारून ने 44.72 सेकेंड के साथ स्वर्ण पदक जीता। हारून ने एशियाई खेलों में स्वर्ण और अनस ने रजत पदक जीता था। 

पुरूषों की 1500 मीटर दौड़ में जिनसन जॉनसन तीन मिनट 41.72 सेकेंड के साथ छठे स्थान पर रहे। उन्होंने शनिवार को 800 मीटर दौड़ में भी भाग लिया था जिसमें वह सातवें स्थान पर रहे थे। 

इस बीच सुधा सिंह 3000 मीटर स्टीपलचेज में अपनी दौड़ पूरी नहीं कर पायी। उन्होंने एशियाई खेलों में रजत पदक जीता था। 

शनिवार को पी यू चित्रा महिलाओं की 1500 मीटर दौड़ में चौथे स्थान पर रही थी। 

इंडिया टीवी 'फ्री टू एयर' न्यूज चैनल है, चैनल देखने के लिए आपको पैसे नहीं देने होंगे, यदि आप इसे मुफ्त में नहीं देख पा रहे हैं तो अपने सर्विस प्रोवाइडर से संपर्क करें।
Write a comment

लाइव स्कोरकार्ड

pulwama-attack
australia-tour-of-india-2019