1. You Are At:
  2. होम
  3. खेल
  4. अन्य खेल
  5. 200 मीटर रेस में इस गलती के चलते बाहर हो गई थी हिमा दास, असम के दो लोग हैं इसके जिम्मेदार

200 मीटर रेस में इस गलती के चलते बाहर हो गई थी हिमा दास, असम के दो लोग हैं इसके जिम्मेदार

हिमा के बाहर जाने से पूरे देश को बड़ा झटका लगा था क्योंकि वह पदक की दावेदार के रूप में जकार्ता गई थी।

Reported by: IANS [Published on:30 Aug 2018, 3:46 PM IST]
हिमा दास- India TV
हिमा दास

नई दिल्ली: उभरती हुई फर्राटा धावक हिमा दास ने इंडोनेशिया के जकार्ता में खेले जा रहे एशियाई खेलों की महिलाओं की 200 मीटर स्पर्धा में किए गए फाउल के लिए 'ज्यादा दबाव' को जिम्मेदार ठहराया है। हिमा ने एशियाई खेलों में मंगलवार को चार गुणा 400 मीटर मिक्स टीम इवेंट में मोहम्मद अनस, राजीव अरोकिया, एम.आर. पूरवाम्मा के साथ मिलकर रजत पदक जीता था, लेकिन इससे पहले 200 मीटर के सेमीफाइनल में हिमा फाउल कर बैठी थीं और रेस शुरू होने से पहले ही बाहर हो गई थीं। 

हिमा के बाहर जाने से पूरे देश को बड़ा झटका लगा था क्योंकि वह पदक की दावेदार के रूप में जकार्ता गई थी। रेस में खिलाड़ी तब दौड़ना शुरू करते हैं जब बंदूक की आवाज आती है, लेकिन हिमा बंदूक की आवाज से पहले ही दौड़ पड़ी और इसी वजह से उन्हें बाहर कर दिया गया था। 

बाहर होने के बाद हिमा ने सोशल मीडिया पर अपना गुस्सा निकाला और अपने घरेलू राज्य असम के दो लोगों को इसका जिम्मेदार ठहराया जिन्होंने हिमा के मुताबिक एक विवाद पैदा किया था। 

हिमा ने कहा, "मैं बहुत ज्यादा दबाव में थी। दो लोग मेरे खिलाफ बयान दे रहे थे। मैं यहां उनका नाम नहीं लेना चाहती, लेकिन उन्हीं के कारण मैं दबाव में आई और मेरा प्रदर्शन प्रभावित हुआ। उन्हीं के कारण मैं 200 मीटर रेस में फाउल कर बैठी।"

उन्होंने कहा, "किसी भी खिलाड़ी को इस तरह के दबाव से नहीं गुजरना चाहिए। मुझे ऐसा लगा कि मैंने कुछ किया है। आपसे प्रार्थना है कि यह सब विवाद बंद कीजिए। भविष्य में कई खिलाड़ी निकलने वाले हैं।"

आईएएएफ विश्व अंडर-20 चैम्पियनशिप में स्वर्ण जीत इतिहास रचने वाली हिमा ने कहा, "मैं असम के लोगों खासकर उन दो लोगों से कहना चाहती हूं कि आप किसी तरह के विवाद में न पड़ें।"

इस पोस्ट में हालांकि हिमा का विरोधाभास भी देखने को मिला। उन्होंने इसी पोस्ट में बाद में एशियाई खेलों के कार्यक्रम को अपनी असफलता का जिम्मेदार बताया। हिमा को एक ही दिन में 200 मीटर और चार गुणा 400 मीटर मिश्रित टीम स्पर्धा में ट्रैक पर उतरना था। 

उन्होंने कहा, "चूंकि मैं नई खिलाड़ी हूं इसलिए मेरे लिए एक ही दिन दो स्पर्धाओं में उतरना मुमकिन नहीं था।"

हिमा की बात पर असम एथलेटिक्स संघ (एएए) के एक अधिकारी ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि उनका यह बयान सिर्फ बहाना है। अधिकारी ने साथ ही कहा कि पेशेवर खिलाड़ियों से इस तरह के बहानों की उम्मीद नहीं की जाती। 

अधिकारी ने हिमा के बहाने पर जवाब देते हुए कहा कि उनका 200 मीटर और 400 मीटर स्पर्धा का चुनाव गलत है। 

उन्होंने कहा, "आमतौर पर एक सही संयोजन जो होते हैं, वो होते हैं 100 मीटर और 200 मीटर, 400 मीटर और 800 मीटर, 800 मीटर और 1500 मीटर, 1500 मीटर और 3,000 मीटर। लेकिन हिमा ने काफी अजीब स्पर्धाएं चुनी हैं। उनकी 200 मीटर में कमजोरी का यह एक कारण हो सकता है।"

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Other Sports News in Hindi के लिए क्लिक करें खेल सेक्‍शन
Web Title: Rising sprinter Hima Das has blamed "tremendous pressure" as the reason behind her false start during the second semi-final
Write a comment

लाइव स्कोरकार्ड