1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. खेल
  4. अन्य खेल
  5. टॉप्स को पुरूष एकल खिलाडि़यों का भी समर्थन करना चाहिए: भूपति

टॉप्स को पुरूष एकल खिलाडि़यों का भी समर्थन करना चाहिए: भूपति

Read In English

भारत के डेविस कप कप्तान महेश भूपति ने शनिवार को कहा कि टेनिस को कभी भी सरकार से ऐसा समर्थन प्राप्त नहीं हुआ जो मुक्केबाजी या कुश्ती को मिला है और उन्होंने टॉप्स की योजना में पुरूष एकल खिलाड़ियों को भी शामिल करने का अनुरोध किया।   

Bhasha Bhasha
Published on: February 02, 2019 20:52 IST
Mahesh Bhupathi- India TV
Image Source : PTI Mahesh Bhupathi

कोलकाता। भारत के डेविस कप कप्तान महेश भूपति ने शनिवार को कहा कि टेनिस को कभी भी सरकार से ऐसा समर्थन प्राप्त नहीं हुआ जो मुक्केबाजी या कुश्ती को मिला है और उन्होंने टॉप्स की योजना में पुरूष एकल खिलाड़ियों को भी शामिल करने का अनुरोध किया। 

वर्ष 2020 तोक्यो ओलंपिक को ध्यान में रखते हुए खेल मंत्रालय ने रोहन बोपन्ना और दिविज शरण की युगल जोड़ी को सरकार की टॉप्स योजना में शामिल किया है जिन्होंने पिछले साल एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीता था। 

भूपति ने कलकत्ता साउथ क्लब में डेविस कप क्वालीफायर में इटली से भारत को मिली 1-3 की हार के बाद पत्रकारों से कहा,‘‘मैं जानता हूं कि रोहन और दिविज को टॉप्स में शामिल कर लिया गया है लेकिन एकल खिलाड़ियों को भी इस तरह के समर्थन की जरूरत है। यही सच्चाई है।’’ 

उन्होंने कहा, ‘‘सरकार को आगे बढ़कर टेनिस खिलाड़ियों की भी मदद करने की जरूरत है। मैं जानता हूं कि वे काफी खेलों का समर्थन कर रहे हैं। वे हाकी, कुश्ती, मुक्केबाजी की मदद कर रहे हैं लेकिन टेनिस को अभी तक ऐसा सहयोग नहीं मिला है।’’ 

भूपति ने कहा, ‘‘एआईटीए (अखिल भारतीय टेनिस संघ) के लिये उनकी मदद करना आसान नहीं है क्योंकि उनके पास धन के राजस्व का कोई जरिया नहीं हैं। मुझे लगता है कि सरकार के पास टॉप्स, एनएसडीएफ जैसी काफी योजनायें हैं।’’ 

उन्होंने कहा, ‘‘रोम का निर्माण एक दिन में नहीं हुआ था। मुझे लगता है कि भारतीय टेनिस में बदलाव हो रहा है। हमारे पास तीन पुरूष खिलाड़ी हैं जो इस स्तर पर खेल सकते हैं, लेकिन लंबे समय तक ऐसा नहीं हुआ था। संभावनायें हैं, विशेषकर एकल वर्ग के पुरूष खिलाड़ियों के लिये।’’ 

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Other Sports News in Hindi के लिए क्लिक करें खेल सेक्‍शन
Write a comment

लाइव स्कोरकार्ड