1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. खेल
  4. अन्य खेल
  5. लिएंडप पेस का एशियाई खेलों से हटना कोई मुद्दा नहीं: महेश भूपति

लिएंडप पेस का एशियाई खेलों से हटना कोई मुद्दा नहीं: महेश भूपति

एशियाई खेलों से पहले पेस अमेरिका में टेनिस टूर्नामेंट खेल रहे थे और उस टूर्नामेंट में लगी चोट के कारण उन्होंने अंतिम समय में एशियाई खेलों से नाम वापस ले लिया।

Bhasha Bhasha
Published on: December 05, 2018 8:31 IST
लिएंडर पेस- India TV
Image Source : GETTY IMAGES लिएंडर पेस

नयी दिल्ली: भारतीय डेविस कप टीम के कप्तान महेश भूपति ने एशियाई खेलों की पुरुष युगल स्पर्धा से आखिरी लम्हों में अनुभवी लिएंडर पेस के हटने को ज्यादा तूल नहीं देते हुए कहा कि चोट खिलाड़ी के करियर का हिस्सा होती हैं और कोर्ट पर उतरने के बाद मैच के हटने की जगह वह चाहेंगे कि खिलाड़ी मुकाबले से पहले ही हट जाए। गौरतलब है कि एशियाई खेलों से पहले पेस अमेरिका में टेनिस टूर्नामेंट खेल रहे थे और उस टूर्नामेंट में लगी चोट के कारण उन्होंने आखिरी समय में एशियाई खेलों से नाम वापस ले लिया। 

भूपति ने हालांकि कहा कि पेस के हटने से इंडोनेशिया में एशियाई खेलों में उनका अभियान पर कोई असर नहीं हुआ और वे पुरुष युगल में गोल्ड मेडल जीतने के अपने लक्ष्य को हासिल करने में सफल रहे। पूर्व दिग्गज टेनिस खिलाड़ी भूपति ने कहा, ‘‘मैं यह साफ कर देना चाहता हूं कि हमने गोल्ड मेडल जीता। इससे (पेस के हटने से) हमारा अभियान बिलकुल भी प्रभावित नहीं हुआ।’’ 

उन्होंने कहा, ‘‘मुझे यह सूचना मिली थी कि एशियाई खेलों से पहले टूर्नामेंट में खेलते हुए लिएंडर चोटिल हो गया था। इसके अलावा मुझे कोई जानकारी नहीं है। जहां तक हमारे अभियान के प्रभावित होने का सवाल है तो ऐसा नहीं हुआ। हमारा लक्ष्य युगल गोल्ड मेडल जीतना था और हम इसे जीतने में सफल रहे।’’ 

भूपति ने कहा,‘‘मैं नहीं चाहूंगा कि कोई खिलाड़ी मैच के दौरान मुकाबले से हटे। इससे बेहतर है कि अगर कोई खिलाड़ी चोटिल है तो वह कोर्ट पर उतरने से पहले ही हट जाए।’’ 

गौरतलब है कि रोहन बोपन्ना और दिविज शरण की जोड़ी ने फाइनल में एलेक्जेंडर बुबलिक और डेनिस युवसेयेव की कजाखस्तान की जोड़ी को सीधे सेटों में 6-3, 6-4 से हराकर गोल्ड मेडल जीता था। 

भूपति ने इस सवाल का सीधा जवाब नहीं दिया कि पेस के इस तरह के बर्ताव के कारण आने वाले मुकाबलों में उनके नाम पर विचार नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा, ‘‘मैं इस टीम का कप्तान हूं और मुझे नहीं लगता कि मुझे इस सवाल का जवाब देना चाहिए।’’ 

डेविस कप के बदले हुए फॉर्मेट के क्वालीफायर में भारत को एक और दो फरवरी को इटली की मजबूत टीम का सामना करना है और भूपति ने कहा कि भारत के पास इस मैच में जीत दर्ज करने का अच्छा मौका होगा। 

उन्होंने कहा, ‘‘हमें खुशी है कि हमें अपना मैच स्वदेश में खेलना है। इटली की टीम मजबूत है लेकिन हम स्वदेश में खेल रहे हैं इसलिए हमारे पास अच्छा मौका है।’’ 

इस साल क्वार्टर फाइनल में हारने वाली चार टीमों में क्वालीफायर में जगह मिली है जिसमें इटली भी शामिल था। विश्व ग्रुप प्ले आफ में सर्बिया के खिलाफ शिकस्त झेलने वाले भारत ने एशिया-ओसियाना ग्रुप में बेहतर डेविस कप रैंकिंग के कारण क्वालीफायर में जगह बनाई है। क्वालीफायर की 12 विजेता टीमें 18 टीमों के फाइनल में जगह बनाएंगी जो 18 से 24 नवंबर तक खेला जाएगा। इस साल सेमीफाइनल में जगह बनाने वाली चार टीमें और दो वाइल्ड कार्ड धारक टीमें (अर्जेन्टीना और ब्रिटेन) भी इस टूर्नामेंट का हिस्सा होंगी। 

भारतीय खिलाड़ियों को किसी तरह की चोट से जुड़े सवाल के जवाब में भूपति ने कहा, ‘‘यह आफ सीजन है। कोई भी खिलाड़ी टेनिस नहीं खेल रहा।’’ 

भूपति ने साथ ही कहा कि भारतीय टीम में इससे पहले उन्होंने कभी इतनी गहराई नहीं देखी। उन्होंने कहा,‘‘जहां तक मुझे याद है भारतीय टेनिस में इससे पहले कभी इतनी गहराई नहीं थी। हमारे पास प्रजनेश (गुणेश्वरन), रामकुमार (रामनाथन) जैसे खिलाड़ी हैं जो लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं। पिछले कुछ वर्षों में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर हमने काफी पदक जीते हैं। महिला वर्ग अंकिता रैना और करमन कौर थंडी अच्छा कर रहे हैं।’’ 

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Other Sports News in Hindi के लिए क्लिक करें खेल सेक्‍शन
Write a comment

लाइव स्कोरकार्ड