1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. खेल
  4. क्रिकेट
  5. World Cup 2019: बाबर आजम (101*) के शतक और हारिस सोहेल (68) की पारी के दम पर पाकिस्तान ने न्यूजीलैंड को दी मात

World Cup 2019: बाबर आजम (101*) के शतक और हारिस सोहेल (68) की दमदार पारी के दम पर पाकिस्तान ने न्यूजीलैंड को दी मात

पाकिस्तान जब 1992 में चैंपियन बना था तो तब भी उसका अभियान वर्तमान विश्व कप की तरह की आगे बढ़ा था। उसके पास अब अफगानिस्तान (29 जून) और बांग्लादेश (पांच जुलाई) पर जीत दर्ज करके सेमीफाइनल में पहुंचने का अच्छा मौका है।

Bhasha Bhasha
Published on: June 27, 2019 0:09 IST
बाबर आजम, हारिस सोहेल- India TV
Image Source : AP बाबर आजम, हारिस सोहेल, बल्लेबाज पाकिस्तान 

बर्मिंघम। बाएं हाथ के तेज गेंदबाज शाहीन शाह अफरीदी की घातक गेंदबाजी और बाबर आजम के वनडे में दसवें शतक की मदद से पाकिस्तान ने बुधवार को यहां न्यूजीलैंड के विजय अभियान पर रोक लगाकर छह विकेट से जीत दर्ज की और विश्व कप के सेमीफाइनल में पहुंचने की अपनी उम्मीदों को पंख लगाये। 

शाहीन ने दस ओवर में 28 रन देकर तीन विकेट लिये और न्यूजीलैंड को छह विकेट पर 237 रन पर रोकने में अहम भूमिका निभायी। पाकिस्तान ने 49.1 ओवर में चार विकेट पर 241 रन बनाकर अपनी तीसरी जीत दर्ज की। उसके अब सात मैचों में सात अंक हो गये हैं। न्यूजीलैंड के सात मैचों में 11 अंक हैं और वह अभी दूसरे स्थान पर बना हुआ है। 

बाबर ने 38 रन के निजी योग पर जीवनदान मिलने का पूरा फायदा उठाया तथा 127 गेंदों पर नाबाद 101 रन की पारी खेली जिसमें 11 चौके शामिल हैं। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ जीत के नायक हारिस सोहल ने आखिरी क्षणों में रन आउट होने से पहले 76 गेंदों पर पांच चौकों और दो छक्कों की मदद से 68 रन बनाये। इन दोनों ने चौथे विकेट के लिये 126 रन की साझेदारी की। 

न्यूजीलैंड का स्कोर एक समय पांच विकेट पर 83 रन था जिसके बाद जेम्स नीशाम (112 गेंदों पर नाबाद 97) और कोलिन डि ग्रैंडहोम (71 गेंदों पर 64 रन) ने छठे विकेट के लिये 132 रन की महत्वपूर्ण साझेदारी की जिससे न्यूजीलैंड सम्मानजनक स्कोर तक पहुंच पाया। कप्तान केन विलियमसन ने 69 गेंदों पर 41 रन का योगदान दिया। 

पाकिस्तान जब 1992 में चैंपियन बना था तो तब भी उसका अभियान वर्तमान विश्व कप की तरह की आगे बढ़ा था। उसके पास अब अफगानिस्तान (29 जून) और बांग्लादेश (पांच जुलाई) पर जीत दर्ज करके सेमीफाइनल में पहुंचने का अच्छा मौका है। पाकिस्तान की जीत से इंग्लैंड की मुश्किलें भी बढ़ गयी हैं। 

पाकिस्तान की शुरुआत भी अच्छी नहीं रही। फखर जमां (नौ) ने ट्रेंट बोल्ट की गेंद पर लॉफ्टेड शॉट खेलकर अपना विकेट गंवाया। दूसरे सलामी बल्लेबाज इमाम उल हक (19) भी ज्यादा देर तक नहीं टिके। लॉकी फर्गुसन की शार्ट पिच गेंद उनके बल्ले का किनारा लेकर हवा में लहरायी जिसे मार्टिन गुप्टिल ने आगे डाइव लगाकर बड़ी खूबसूरती से कैच किया। 

इसके बाद पाकिस्तानी बल्लेबाजों ने विकेट बचाये रखने पर ध्यान दिया। इस बीच न्यूजीलैंड के खराब क्षेत्ररक्षण का भी उसे फायदा मिला। कीवी टीम ने रन आउट करने के कुछ अच्छे मौके गंवाये जबकि टॉम लैथम ने बाबर का कैच छोड़ा। 

मिशेल सैंटनर को अच्छा टर्न मिल रहा था लेकिन न्यूजीलैंड को दूसरे छोर से अदद स्पिनर की कमी खली। यहां तक कि विलियमसन को अपनी कामचलाऊ आफ स्पिन करने के लिये गेंद संभालनी पड़ी। विलियमसन ने आते ही मोहम्मद हफीज (50 गेंदों पर 32) को चलता किया जिन्होंने लंबा शाट खेलने के प्रयास में डीप मिडविकेट पर कैच दिया। बाबर और हफीज ने तीसरे विकेट के लिये 66 रन जोड़े। 

पाकिस्तान पर हालांकि इसका असर नहीं पड़ा क्योंकि सोहेल ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दिखायी गयी फार्म को जारी रखा और आक्रामक अंदाज में बल्लेबाजी की। बाबर ने एक बार जीवनदान मिलने के बाद कोई गलती नहीं की। उन्होंने 124 गेंदों पर अपना शतक पूरा किया और अपनी इस पारी के दौरान वनडे में 3000 रन भी पूरे किये। कप्तान सरफराज अहमद (नाबाद पांच) ने विजयी चौका लगाया। 

इससे पहले पिच गीली होने के कारण खेल एक घंटे बाद शुरू हुआ और नम परिस्थितियों में विलियमसन का टास जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला उल्टा पड़ गया। पाकिस्तानी तेज गेंदबाजों को अच्छा मूवमेंट मिल रहा था और उन्होंने परिस्थितियों का पूरा फायदा उठाकर न्यूजीलैंड का शीर्ष क्रम झकझोर दिया। 

मोहम्मद आमिर ने अपनी पहली गेंद पर ही मार्टिन गुप्टिल (पांच) को बोल्ड किया। इसके बाद शाहीन ने कहर बरपाया। उन्होंने कोलिन मुनरो (12), रोस टेलर (तीन) और टाम लैथम (एक) को आउट करके स्टेडियम में बड़ी संख्या में मौजूद पाकिस्तानी दर्शकों को मदहोश कर दिया। 

मुनरो ने अतिरिक्त उछाल वाली गेंद पर कदमों का इस्तेमाल किये बिना शाट खेलने की कोशिश में स्लिप में कैच दिया। टेलर का सरफराज अहमद ने दायीं तरफ डाइव लगाकर एक हाथ से बेहतरीन कैच लपका। लैथम रक्षात्मक शॉट खेलना चाहते थे लेकिन गेंद उनके बल्ले का किनारा लेकर विकेटकीपर के पास पहुंची। 

पिछले दो मैचों में शतक जड़ने वाले विलियमसन भी दबाव में बड़ी पारी नहीं खेल पाये। शादाब खान की बेहतरीन लेग ब्रेक उनके बल्ले को चूमकर सरफराज के दस्तानों में समा गयी। 

नीशाम और ग्रैंडहोम ने ऐसी विषम परिस्थितियों में बखूबी जिम्मेदारी संभाली। इन दोनों ने सहजता से रन बटोरे। नीशाम ने 77 गेंदों पर अपना छठा वनडे अर्धशतक पूरा किया। ग्रैंडहोम ने वनडे में अपने तीसरे अर्धशतक के लिये 63 गेंदें खेली। 

आमिर पर टूर्नामेंट में अब तक छक्का नहीं लगा था लेकिन नीशाम ने डेथ ओवरों में उनकी गेंद छह रन के लिये भी भेजी। ग्रैंडहोम हालांकि तेजी से दूसरा रन लेने के प्रयास में रन आउट हो गये जिससे 48वें ओवर जाकर यह साझेदारी टूटी। ग्रैंडहोम ने छह चौके और एक छक्का तथा नीशाम ने पांच चौके और तीन छक्के लगाये। इनमें वहाब रियाज की पारी की आखिरी गेंद पर लगाया गया छक्का भी शामिल है। 

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Cricket News in Hindi के लिए क्लिक करें खेल सेक्‍शन
Write a comment

लाइव स्कोरकार्ड