1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. खेल
  4. क्रिकेट
  5. ऑस्ट्रेलिया में डे-नाइट टेस्ट खेलने को तैयार कप्तान कोहली, लेकिन रखी ये बड़ी शर्त

ऑस्ट्रेलिया में डे-नाइट टेस्ट खेलने को तैयार कप्तान कोहली, लेकिन रखी ये बड़ी शर्त

भारतीय कप्तान विराट कोहली ने कहा कि अगले साल ऑस्ट्रेलिया में वह दिन रात का टेस्ट खेलने को तैयार है बशर्ते टीम को एक अभ्यास खेलने को मिले। 

Bhasha Bhasha
Published on: November 21, 2019 14:02 IST
ind vs ban- India TV
Image Source : AP IMAGES ऑस्ट्रेलिया में डे-नाइट टेस्ट खेलने को तैयार कप्तान कोहली, लेकिन रखी ये बड़ी शर्त

कोलकाता। भारतीय कप्तान विराट कोहली ने कहा कि अगले साल ऑस्ट्रेलिया में वह दिन रात का टेस्ट खेलने को तैयार है बशर्ते टीम को एक अभ्यास खेलने को मिले। भारतीय टीम ने 217-18 के आस्ट्रेलिया दौरे पर दिन रात का टेस्ट खेलने से इनकार कर दिया था। अब यहां शुक्रवार से बांग्लादेश के खिलाफ वह पहला दिन रात का टेस्ट खेलने जा रहे हैं।

यह पूछने पर कि क्या अगले साल के दौरे पर वह ऑस्ट्रेलिया में दिन रात का टेस्ट खेलेंगे, कोहली ने हां में जवाब दिया लेकिन कहा कि उनकी एक शर्त है। उन्होंने कहा, ‘‘जब भी यह होगा, इससे पहले एक अभ्यास मैच रखना होगा।’’ उन्होंने कहा कि भारतीय टीम ने 2017-18 में एडीलेड में दिन रात का टेस्ट खेलने से इनकार कर दिया था क्योंकि टीम को अनुकूलन के लिये अभ्यास मैच नहीं मिला था।

उन्होंने कहा, ‘‘हम गुलाबी गेंद से क्रिकेट खेलना चाहते थे। अब ऐसा हो रहा है। एक बड़े दौरे पर अचानक यह नहीं हो सकता कि हम गुलाबी गेंद से खेले बिना ही टेस्ट खेलने को तैयार हो जायें। हमने गुलाबी गेंद से कोई प्रथम श्रेणी मैच भी नहीं खेला था।’’

यह पूछने पर कि उनका इरादा कैसे बदला, उन्होंने कहा कि वह इसलिये तैयार हुए क्योंकि लंबे समय से बातचीत चल रही थी और उन्हें अचानक नहीं बताया गया। कोहली ने कहा, ‘‘आप दो दिन पहले अचानक नहीं कह सकते कि गुलाबी गेंद से खेलना है। इसके लिये तैयारी चाहिये होती है। एक बार आदत बन जाने पर कोई दिक्कत नहीं है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘हम अपने देश में गुलाबी गेंद से टेस्ट खेल रहे हैं। देखना होगा कि यह कैसा रहता है। इसके बाद हम बाहर किसी अहम टेस्ट श्रृंखला में इससे खेल सकते हैं।’’ ओस की भूमिका के बारे में उन्होंने कहा, ‘‘ देर वाले सत्र में ओस की भूमिका होगी। हम उस समय देखेंगे कि कैसे निपटना है। भारत में और दूसरे देश में दिन रात का टेस्ट खेलने में यही फर्क है। इसके अलावा कोई फर्क नहीं दिखता । इसमें हमें फैसले अधिक सटीक लेने होंगे और कहीं कोई कोताही की गुंजाइश नहीं होगी।’’

कोलकाता में गुलाबी गेंद वाले टेस्ट को लेकर बनी हाइप की तुलना उन्होंने टी20 विश्व कप 2016 में भारत पाकिस्तान मैच से की। उन्होंने कहा, ‘‘आखिरी बार इतना उत्साह तभी देखने को मिला था। सभी बड़े सितारे आये थे और उन्हें सम्मानित किया गया था। स्टेडियम खचाखच भरा था। अभी भी ऐसा ही माहौल है।’’ 

India TV Hindi पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Cricket News in Hindi के लिए क्लिक करें खेल सेक्‍शन
Write a comment

लाइव स्कोरकार्ड

bigg-boss-13