1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. खेल
  4. क्रिकेट
  5. बांग्लादेश के सीनियर बना रहे हैं टेस्ट मैचों से दूरी, बोर्ड ने कहा- युवाओं को देंगे मौका

बांग्लादेश के सीनियर बना रहे हैं टेस्ट मैचों से दूरी, बोर्ड ने कहा- युवाओं को देंगे मौका

टेस्ट क्रिकेट को भले ही असली क्रिकेट कहा जाता हो। भले ही आईसीसी टेस्ट क्रिकेट को बचाने में जी-जान से जुटी है लेकिन बांग्लादेश से एक ऐसी खबर सामने आ रही है जो टेस्ट क्रिकेट के लिए सही नहीं है। खबरें हैं कि बांग्लादेश की सीनियर खिलाड़ी टेस्ट क्रिकेट नहीं खेलना चाहते।

India TV Sports Desk India TV Sports Desk
Published on: July 21, 2018 19:22 IST
Bangladesh Cricket Team- India TV
Bangladesh Cricket Team

टेस्ट क्रिकेट को भले ही असली क्रिकेट कहा जाता हो। भले ही आईसीसी टेस्ट क्रिकेट को बचाने में जी-जान से जुटी है लेकिन बांग्लादेश से एक ऐसी खबर सामने आ रही है जो टेस्ट क्रिकेट के लिए सही नहीं है। खबरें हैं कि बांग्लादेश की सीनियर खिलाड़ी टेस्ट क्रिकेट नहीं खेलना चाहते। बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड का कहना है कि अब उनकी टीम के कुछ सीनियर खिलाड़ी टेस्ट मैचों में खेलना नहीं चाह रहें हैं। बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष नजमुल हसन ने दो सामने रखीं। उन्होंने एक तरफ टीम के कुछ सीनियर खिलाड़ियों के टेस्ट मैचों दूरी बनाने पर चिंता जाहिर की। तो वहीं, उन्होंने अब टेस्ट मैचों में युवा खिलाड़ियों को मौका देने की बात भी की। बोर्ड अध्यक्ष नजमुल हसन ने कहा कि हमारे कुछ सीनियर खिलाड़ियों को अब टेस्ट मैचों में खेलना पसंद नही आ रहा है। 

टेस्ट कप्तान शाकिब अल हसन के साथ गेंदबाज मुस्ताफिजुर रहमान और रुबेल हुसैन का नाम लेते हुए बोर्ड अध्यक्ष ने कहा कि शाकिब जैसे खिलाड़ी भी अब टेस्ट क्रिकेट खेलना नहीं चाहते हैं। खेल के दौरान अक्सर चोटिल हो जाने वाले बांग्लादेश के गेंदबाज मुस्ताफिजुर रहमान का नाम लेते हुए बोर्ड अध्यक्ष हसन ने कहा कि मुस्ताफिजुर भी टेस्ट नहीं खेलना चाहते। क्योंकि उन्हें लगता होगा कि अगर वो टेस्ट खेलेंगे तो फिर से चोटिल हो जाएंगे। गौरतलब है कि बीसीबी ने रहमान के अगले दो साल तक दुनिया की किसी भी टी20 लीग में खेलने पर रोक लगा दी है। बीसीबी अध्यक्ष हसन ने रुबेल हुसैन का नाम लेते हुए कहा कि रुबेल अपनी टीम के लिए काफी दिनों से खेल रहें हैं और उनका प्रदर्शन टीम के लिए काफी अच्छा भी रहा है, शायद काफी से खेलने के कारण रुबेल का अब टेस्ट मैचों में खेलना मुश्किल हो गया है। बीसीबी अध्यक्ष ने कहा कि अब हमें जरूरत है कि टीम में युवा खिलाड़ियों को मौका दिया जाए। 

बीसीबी अध्यक्ष हसन के अनुसार केवल उनके ही देश के खिलाड़ी टेस्ट मैच में खेलना नहीं चाह रहे हैं बल्कि ऐसे कई देश की टीमें हैं जिनकी टेस्ट मैचों में कोई दिलचस्पी नहीं है। अध्यक्ष हसन ने कहा कि केवल ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड ही ऐसे दो देश हैं जो क्रिकेट के इस सबसे बड़े फॉर्मट में खेलना चाहते हैं। एक और कारण का हवाला देते हुए अध्यक्ष हसन ने कहा कि हमारे ब्रॉडकास्टर्स टेस्ट मैच में दिलचस्पी नहीं दिखा पाते हैं क्योंकि इसमें कम दर्शक आते हैं। 

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Cricket News in Hindi के लिए क्लिक करें खेल सेक्‍शन
Write a comment

लाइव स्कोरकार्ड