1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. खेल
  4. क्रिकेट
  5. मिताली राज पर रमेश पोवार ने दिया बड़ा बयान, वो अलग-थलग रहने वाली खिलाड़ी, उन्हें संभालना मुश्किल

मिताली राज पर रमेश पोवार ने दिया बड़ा बयान, वो अलग-थलग रहने वाली खिलाड़ी, उन्हें संभालना मुश्किल

Read In English

भारतीय महिला क्रिकेट टीम के कोच रमेश पोवार ने बुधवार को स्वीकार किया कि उनके सीनियर खिलाड़ी मिताली राज के साथ ‘तनावपूर्ण’ संबंध है।

Bhasha Bhasha
Updated on: November 28, 2018 22:35 IST
मिताली राज और रमेश...- India TV
Image Source : PTI मिताली राज और रमेश पोवार

नयी दिल्ली: भारतीय महिला क्रिकेट टीम के कोच रमेश पोवार ने बुधवार को स्वीकार किया कि उनके सीनियर खिलाड़ी मिताली राज के साथ ‘तनावपूर्ण’ संबंध है लेकिन स्पष्ट किया कि विश्व टी20 सेमीफाइनल में उन्हें बाहर करना पूरी तरह से क्रिकेट से जुड़ा था। पोवार बीसीसीआई सीईओ राहुल जोहरी और महाप्रबंधक (क्रिकेट संचालन) सबा करीम से मिले। इससे एक दिन पहले मिताली ने उन पर पक्षपात का आरोप लगाया था। पोवार ने मुंबई में बीसीसीआई मुख्यालय में बोर्ड के दोनों अधिकारियों से मुलाकात की। 

भारतीय महिला टीम की सबसे सीनियर खिलाड़ी ने जोहरी और करीम को भेजे गये कड़े ईमेल में पोवार पर आरोप लगाया था कि उन्हें वेस्टइंडीज में खेले गये विश्व टी20 के दौरान पोवार ने अपमानित किया था तथा टीम से बाहर किये जाने पर वह रो पड़ी थी। 

बीसीसीआई सूत्रों ने गोपनीयता की शर्त पर कहा, ‘‘रमेश ने स्वीकार किया कि मिताली के साथ उनके पेशेवर रिश्ते तनावपूर्ण है क्योंकि उन्हें हमेशा लगा कि वह अलग थलग रहने वाली खिलाड़ी है और उसे संभालना मुश्किल है।’’ 

हालांकि ​अधिकारी ने कहा कि पोवार ने बताया कि मिताली को सेमीफाइनल से बाहर करना बदले की भावना नहीं बल्कि रणनीति का हिस्सा था। इंग्लैंड ने इस मैच में भारत का आठ विकेट से हराया था। अधिकारी ने कहा, ‘‘उन्होंने कहा कि ​खराब स्ट्राइक रेट के कारण उन्हें इंग्लैंड के खिलाफ मैच से बाहर किया गया। इसके अलावा टीम मैनेजमेंट ने पिछले मैच में जीत दर्ज करने वाली टीम को बरकरार रखना चाहता था। ’’ 

पोवार से पूछा गया कि आयरलैंड और पाकिस्तान के खिलाफ मैचों में मिताली का स्ट्राइक रेट आड़े क्यों नहीं आया तो इसका उनके पास कोई जवाब नहीं था। मिताली ने इन दोनों मैचों में अर्धशतक जमाये और उन्हें प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया। 

इसके अलावा इस पर भी चर्चा हुई कि क्या मिताली को बाहर करने के लिये किसी प्रभावशाली अधिकारी का बाहरी दबाव था। सूत्रों ने बताया कि पोवार ने किसी का फोन आने का खंडन किया लेकिन दावा किया कि वह इससे अवगत थे कि ‘बीसीसीआई का प्रभावशाली व्यक्ति’ टीम मैनेजर (तृप्ति भट्टाचार्य) और दौरे की चयनकर्ता (सुधा शाह) के संपर्क में था। 

मिताली ने बुधवार को प्रशासकों की समिति की सदस्य डायना एडुल्जी पर भी पक्षपातपूर्ण रवैया अपनाने का आरोप लगाया था। वनडे टीम की कप्तान ने कहा कि एडुल्जी ने उनके खिलाफ अपने पद का उपयोग किया। 

एडुल्जी ने अभी तक मिताली के आरोपों पर प्रतिक्रिया नहीं दी है। 40 साल पोवार का अंतरिम कार्यकाल शुक्रवार को खत्म हो जाएगा। 

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Cricket News in Hindi के लिए क्लिक करें खेल सेक्‍शन
Write a comment

लाइव स्कोरकार्ड