1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. खेल
  4. क्रिकेट
  5. आईपीएल में चेन्नई सुपर किंग्स क्यों है सबसे सफल, संजय मांजरेकर ने बताई असली वजह

आईपीएल में चेन्नई सुपर किंग्स क्यों है सबसे सफल, संजय मांजरेकर ने बताई असली वजह

पिछले साल 2019 आईपीएल में चेन्नई सुपर किंग्स रनर अप रही थी। जिसमें धोनी के बल्ले से 15 मैचों में 83.20 की औसत से 416 रन निकले थे।

India TV Sports Desk India TV Sports Desk
Published on: December 02, 2019 13:53 IST
Chennai Super Kings- India TV
Image Source : IPLT20.COM Chennai Super Kings

भारतीय टीम के पूर्व खिलाड़ी और वर्तमान कमेंटेटर संजय मांजरेकर का मानना है कि इंडियन प्रीमीयर लीग में चेन्नई की बादशाहत के पीछे महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी का बहुत अहम रोल है। उनका मानना है कि पिछली बार की तरह इस बार भी विकेटकीपर बल्लेबाज धोनी चेन्नई के लिए आगामी सीजन में अच्छा करने वाले हैं। 

पिछले साल 2019 आईपीएल में चेन्नई सुपर किंग्स रनर अप रही थी। जिसमें धोनी के बल्ले से 15 मैचों में 83.20 की औसत से 416 रन निकले थे। इतना ही नहीं चेन्नई की टीम के पास अच्छे खासे अनुभवी खिलाड़ी हैं जिनमें फाफ डु प्लेसिस, शेन वॉटसन और सुरेश रैना शामिल हैं। चेन्नई ने धोनी की कप्तानी में अब तक 2010, 2011 और 2018 में तीन बार खिताब जीता है जिसके चलते वो साल 2020 में चौथी बार ख़िताब पर कब्ज़ा करना चाहेंगे। 

ऐसे में चेन्नई की बल्लेबाजी के बारे में संजय मांजरेकर स्टार स्पोर्ट्स के गेम प्लान में कहा, "सीएसके में हमेशा वरिष्ठ खिलाड़ी होते हैं, उनके पास टॉप आर्डर में फाफ डु प्लेसिस और शेन वाटसन हैं, मध्यक्रम में अंबाती रायुडू और सुरेश रैना जैसे खिलाड़ी हैं, इसलिए उनके लिए एक बैकअप मिडिल ऑर्डर बल्लेबाज एक अच्छा विचार होगा।"

आगे मांजरेकर ने कहा, "धोनी हमेशा से मौकों की तलाश में रहते हैं उन्हें गेम को फिनिश करना अच्छे से आता है। इतना ही नहीं उनकी कप्तानी भी काफी अंतर पैदा करती है। ऐसे में अगर वो पिछले साल के प्रदर्शन को दोहराते हैं तो चेन्नई के लिए ये काफी अच्छा होगा।"

बता दें कि अगले साल के आईपीएल के लिए नीलामी 19 दिसंबर को कोलकाता में आयोजित की जाएगी और इसमें एक युवा विराट सिंह के नाम पर काफी चर्चा होगी। झारखंड के मध्य क्रम के बल्लेबाज़ विराट ने हाल ही में समाप्त हुई सैय्यद मुश्ताक अली टी20 ट्रॉफी के 10 मैचों में 57.17 की औसत से 343 रन बनाए।

इतना ही नहीं विजय हजारे ट्रॉफी में भी विराट का स्ट्राइक रेट 100 से उपर का रहा है। जबकि 21 साल के खिलाड़ी ने देवधर ट्रॉफी में भी कमाल की अक्षर पटेल के साथ 76 रन की पारी इंडिया बी के खिलाफ खेली थी। जिसके चलते इंडिया सी को जीत मिली थी। 

जिसके चलते आकाश चोपड़ा ने इस खिलाड़ी के बारे में कहा, "अगर आप उनकी देवधर ट्रॉफी सीरीज को देखें, तो वह (विराट सिंह) 80 के स्ट्राइक रेट से बल्लेबाजी कर रहे हैं जबकि 101 का स्ट्राइक रेट भी उनका हो सकते है और अगर वह 50 ओवर के प्रारूप में ऐसा करने में सक्षम हैं, तो आप समझ सकते हैं कि वो टी20 में कितना धमाल मचा सकते हैं।"

आकाश चोपड़ा के अनुसार बहुत साड़ी टीमों को नंबर 5, 6 और 7 में बल्लेबाजी करने के लिए खिलाड़ी चाहिए। जिसके लिए झारखण्ड का ये खिलाड़ी फिट बैठता है। ऐसे में देखना दिलचस्प होगा कि कोलकाता में नीलामी के दौरान इसे कौन खरीदता है। 

India TV Hindi पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Cricket News in Hindi के लिए क्लिक करें खेल सेक्‍शन
Write a comment

लाइव स्कोरकार्ड

bigg-boss-13