1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. खेल
  4. क्रिकेट
  5. ‘हितों के टकराव’ मुद्दे पर चर्चा को तैयार पूर्व भारतीय क्रिकेटर, जानिए क्या है पूरा मामला

‘हितों के टकराव’ मुद्दे पर चर्चा को तैयार पूर्व भारतीय क्रिकेटर, जानिए क्या है पूरा मामला

विनोद राय की अध्यक्षता वाली सीओए में अन्य सदस्य डायना इडुल्जी और सेवानिवृत्त लेफ्टिनेंट जनरल रवि थोडगे शामिल हैं। पूर्व भारतीय बल्लेबाज दिलीप वेंगसरकर और तेज गेंदबाज अजीत अगरकर के बैठक में भाग लेंगे, यह तय है।

Bhasha Bhasha
Published on: August 18, 2019 15:27 IST
‘हितों के टकराव’ मुद्दे पर चर्चा को तैयार पूर्व भारतीय क्रिकेटर, जानिए क्या है पूरा मामला- India TV
Image Source : GETTY IMAGES ‘हितों के टकराव’ मुद्दे पर चर्चा को तैयार पूर्व भारतीय क्रिकेटर, जानिए क्या है पूरा मामला

मुंबई। पूर्व क्रिकेटर सोमवार को यहां बीसीसीआई के मुख्यालय में होने वाली अनौपचारिक बैठक के दौरान विवादास्पद ‘हितों के टकराव’ के मुद्दे पर चर्चा करेंगे। कई शीर्ष क्रिकेटरों के इस बैठक में शिरकत करने की उम्मीद है जिसमें प्रशासकों की समिति (सीओए) का कम से कम एक सदस्य मौजूद होगा। उनके इस मुद्दे पर लंबी चर्चा की उम्मीद है। 

विनोद राय की अध्यक्षता वाली सीओए में अन्य सदस्य डायना इडुल्जी और सेवानिवृत्त लेफ्टिनेंट जनरल रवि थोडगे शामिल हैं। पूर्व भारतीय बल्लेबाज दिलीप वेंगसरकर और तेज गेंदबाज अजीत अगरकर के बैठक में भाग लेंगे, यह तय है। यहां तक कि वीवीएस लक्ष्मण और राहुल द्रविड़ के इसमें शिरकत करने की उम्मीद है। हालांकि पता चला है कि सचिन तेंदुलकर बैठक में हिस्सा नहीं लेंगे। 

पूर्व भारतीय आफ स्पिनर हरभजन सिंह सोमवार को बैठक में शिरकत नहीं करेंगे लेकिन उन्होंने इस मुद्दे पर अपने विचार बोर्ड को पत्र में लिखकर भेज दिये हैं। हाल में ‘हितों के टकराव’ का नोटिस जिसे भेजा गया, वो पूर्व भारतीय कप्तान द्रविड़ हैं और उन्होंने नोटिस का जवाब दे दिया था। मध्य प्रदेश क्रिकेट के मानद सदस्य संजीव गुप्ता द्वारा दायर शिकायत के अनुसार द्रविड़ राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी के सदस्य हैं और वह इंडिया सीमेंट्स ग्रुप में उपाध्यक्ष पद पर भी कार्यरत हैं जिसकी आईपीएल फ्रेंचाइजी चेन्नई सुपरकिंग्स है।

सीओए ने हालांकि द्रविड़ की एनसीए के क्रिकेट प्रमुख के रूप में नियुक्ति स्पष्ट की और उनके खिलाफ ‘हितों के टकराव’ के मामले को खारिज कर दिया। थोडगे ने 13 अगस्त को कहा था कि अब फैसला बीसीसीआई के लोकपाल और आचरण अधिकारी डीके जैन के हाथों में हैं जो इस मामले पर अंतिम निर्णय करेंगे। वहीं भारतीय टीम के सहयोगी स्टाफ को चुनने की प्रक्रिया भी बीसीसीआई के मुख्यालय में सोमवार से शुरू होगी और गुरूवार तक चलेगी। 

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Cricket News in Hindi के लिए क्लिक करें खेल सेक्‍शन
Write a comment

लाइव स्कोरकार्ड