1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विषय

tension न्यूज़

gold demand surge

6 साल के उच्‍चत स्‍तर पर पहुंचा सोने का भाव, अमेरिका-ईरान के बीच बढ़ते तनाव से बढ़ी गोल्‍ड डिमांड

बाजार | Jun 25, 2019, 07:50 PM IST

मंगलवार को कॉमेक्स पर सोने की कीमतों ने 1442.9 डॉलर प्रति औंस का ऊपरी स्तर छुआ है जो मई 2013 के बाद सबसे ज्यादा भाव है

finance ministry

सरकार ने जारी किया बयान, RBI के संचालन के लिए स्‍वायत्‍तता आवश्‍यक एवं स्‍वीकार्य शर्त

बिज़नेस | Oct 31, 2018, 02:01 PM IST

भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के साथ बढ़ते टकराव की खबरों के बीच वित्त मंत्रालय ने बुधवार को कहा कि सरकार केंद्रीय बैंक की स्वायत्तता की रक्षा और सम्मान करती है और कई मुद्दों पर इसके साथ गहन परामर्श होता है।

CPEC से पाकिस्‍तान को भले कुछ फायदा हो लेकिन यह भारत-पाकिस्तान के बीच तल्खी बढ़ाएगा : अमेरिकी थिंक टैंक

CPEC से पाकिस्‍तान को भले कुछ फायदा हो लेकिन यह भारत-पाकिस्तान के बीच तल्खी बढ़ाएगा : अमेरिकी थिंक टैंक

बिज़नेस | Nov 29, 2017, 03:11 PM IST

अमेरिकी थिंक टैंक के अनुसार, अरबों डॉलर की लागत वाली चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारा (CPEC) भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव को बढ़ाने का काम करेगा।

यूएस-नॉर्थ कोरिया के बीच बढ़ती टेंशन से शेयर बाजार हुए धराशायी, निवेशकों के डूबे 1.38 लाख करोड़ रुपए

यूएस-नॉर्थ कोरिया के बीच बढ़ती टेंशन से शेयर बाजार हुए धराशायी, निवेशकों के डूबे 1.38 लाख करोड़ रुपए

बाजार | Aug 29, 2017, 07:04 PM IST

नॉर्थ कोरिया द्वारा जापान की दिशा में मिसाइल दागने के बाद तनाव बढ़ने से निवेशकों में बेचैनी है। इससे बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स आज 362 अंक टूट गया।

उत्‍तर कोरिया की मिसाइल लॉन्चिंग ने सोने में मचाई खलबली, 550 रुपए बढ़कर हुआ 30,450 रुपए प्रति दस ग्राम

उत्‍तर कोरिया की मिसाइल लॉन्चिंग ने सोने में मचाई खलबली, 550 रुपए बढ़कर हुआ 30,450 रुपए प्रति दस ग्राम

बाजार | Aug 29, 2017, 03:17 PM IST

उत्‍तर कोरिया के इस कदम से अमेरिका और प्‍योंगयांग के बीच तनाव और गहरा होने से आज सोने की कीमत 550 रुपए उछलकर 30,450 रुपए प्रति दस ग्राम हो गई।

सीमा पर तनाव को देखते हुए चीन ने कंपनियों को दी सलाह, भारत में करना पड़ सकता है विरोध का सामना

सीमा पर तनाव को देखते हुए चीन ने कंपनियों को दी सलाह, भारत में करना पड़ सकता है विरोध का सामना

बिज़नेस | Jul 05, 2017, 09:23 AM IST

ग्लोबल टाइम्स के एक लेख में कहा गया है कि दोनों देशों के बीच बढ़ते तनाव के बीच चीन की कंपनियों को वहां चीन विरोधी भावना से निपटने को कदम उठाने चाहिए।