1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. मेरा पैसा
  5. सीनियर सिटीजन के लिए निवेश के ये हैं पांच बेहतर विकल्प, जोखिम है कम और रिटर्न मिलता है ज्‍यादा

सीनियर सिटीजन के लिए निवेश के ये हैं पांच बेहतर विकल्प, जोखिम है कम और रिटर्न मिलता है ज्‍यादा

कल क्या होगा? विशेषकर आर्थिक मामलों में यह चिंता हर किसी को सताती है और यही वजह है कि हर कोई अपना भविष्य आर्थिक रूप से सुरक्षित बनाने के लिए तमाम योजनाओं में निवेश करता है।

Sarabjeet Kaur Sarabjeet Kaur
Updated on: August 26, 2019 10:55 IST
These are the five best investment options for senior citizens- India TV Paisa
Photo:THESE ARE THE FIVE BEST I

These are the five best investment options for senior citizens

कल क्‍या होगा? विशेषकर आर्थिक मामलों में यह चिंता हर किसी को सताती है और यही वजह है कि हर कोई अपना भविष्‍य आर्थिक रूप से सुरक्षित बनाने के लिए तमाम योजनाओं में निवेश करता है। बाजार में निवेश के इतने विकल्‍प मौजूद हैं कि उनमें से अपने लिए उपयुक्‍त विकल्‍प को चुनना बहुत मुश्किल हो जाता है। यह मुश्किल तब और बढ़ जाती है, जब‍ निवेशक कोई सीनियर सिटीजन हो। आज हम सीनियर सिटीजन की मदद करने के लिए यहां उनके निवेश के लिए ऐसी कुछ योजनाओं के बारे में बताने जा रहे हैं, जिनमें जोखिम तो कम है ही साथ ही रिटर्न भी ज्‍यादा मिलता है

सीनियर सिटीजन फ‍िक्‍स्‍ड डिपॉजिट स्‍कीम

  • सामान्य एफडी के मुकाबले सिनियर सिटिज़न फिक्स्ड डिपॉजिट स्कीम में इंटेरेस्ट हमेशा ज़्यादा मिलता है। यह सामान्‍य एफडी की तुलना में आधा से एक फीसदी तक अधिक होता है।  
  • अपनी जरूरतों के हिसाब से आप एफडी में पैसा लगा सकते हैं। सिनियर सिटिज़न फिक्स्ड डिपॉजिट स्‍कीम में 12 से 60 महीने तक के लिए निवेश किया जाता है।
  • यह बचत के लिए सबसे अच्छा विक्लप है क्योंकि इसमें जमा पैसा एकदम सुरक्षित होता है और जरूरत के समय इससे पैसा निकाल सकते हैं।
  • बाजार के उतार-चढ़ाव से यह बिल्कुल दूर है इसलिए इसमें निवेश किया पैसा सुरक्षित होता है और फिक्स्ड रिटर्न भी मिलता है। इस पर लोन भी लिया जा सकता है।
  • एफडी में निवेश करने का एक ये भी फायदा है कि आप क्यूम्यूलेटिव (हर महीने या हर तिमाही में भुगतान) और नॉन क्यूम्यूलेटिव (मैच्यूरेटी के समय कंपाउंडेड इंटेरेस्ट के साथ) एफडी में से किसी को भी अपनी जरूरत के हिसाब से चुन सकते हैं।

सीनियर सिटीजन सेविंग्स स्कीम

  • अपनी बचत के हिसाब से आप 500 रुपए से लेकर 15 लाख रुपए तक का निवेश कर सकते हैं।
  • एससीएसएस स्कीम में पांच साल तक का निवेश किया जाता है, जिसे आप आगे और तीन साल के लिए भी बढ़ा सकते हैं।
  • 9.10 फीसदी तक का रेट ऑफ इंटरेस्‍ट मिल सकता है। यह एक सुरक्षित निवेश करने का विकल्प है।
  • जिसकी उम्र 60 साल से ऊपर है वह इस स्कीम को पोस्ट ऑफिस या बैंक से ले सकता है। इनकम टैक्स की धारा 80सी के तहत टैक्स बचत का भी लाभ मिलता है। जरूरत पड़ने पर स्कीम के मैच्योर होने से पहले भी पैसे निकाले जा सकते हैं।

पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम (पीओएमआईएस)

  • सीनियर सिटीज़न के लिए पीओएमआईएस एक बहुत ही अच्छा निवेश करने का विकल्प है।
  • सिंगल एकाउंट के लिए आप 4.50 लाख तक और ज्वाइंट एकाउंट के लिए 9 लाख तक का निवेश किया जा सकता है।
  • इस स्‍कीम में मिलने वाले इंटरेस्‍ट पर किसी भी तरह की टैक्स छूट नहीं मिलती है।
  • इस योजना में 7.8 फीसदी तक का इंटरेस्ट रेट मिलता है, जिसमें हर तिमाही में सरकार द्वारा संशोधन किया जाता है।
  • इस स्कीम से मिलने वाले रिटर्न को आप सीधे अपने बचत खाते में ट्रांसफर भी कर सकते हैं।

 टैक्स फ्री बॉन्ड्स

  • सार्वजनिक परियोजनाओं के वित्‍त पोषण के लिए सरकार इस तरह के बॉन्‍ड को बाजार में लाती है।
  • सरकारी गारंटी के साथ आने की वजह से इन तरह के बॉन्‍ड में निवेश बहुत अधिक सुरक्षित माना जाता है।
  • इन बॉन्‍ड पर मिलने वाला रिटर्न पूरी तरह से टैक्‍स फ्री होता है। परियोजना की अवधि के मुताबिक इसमें 10 से 30 साल तक के लिए निवेश किया जा सकता है।
  • सरकारी बॉन्ड्स में आमतौर पर सालाना 7.3 फीसदी से लेकर 7.5 फीसदी का इंटरेस्ट रेट लागू होता है।
  • सिनियर सिटीज़न इन बॉन्‍ड्स में 10 लाख रुपए तक का निवेश कर सकते हैं।

डेट फंड्स

  • यह एक सुरक्षित निवेश विकल्प है क्योंकि इस म्यूच्युवल फंड का फोकस फिक्स्ड इनकम इंवेस्टमेंट पर होता है।
  • लंबी अवधि के निवेश से ज़्यादा रिटर्न मिलने की संभावना होती है, जो बाज़ार के परफार्मेंस पर भी निर्भर करता है। इसमें सालना 15 फीसदी तक का रिटर्न मिलने की संभावना होती है।
  • समय से पहले पैसे निकाले पर आपको कुछ शुल्‍क भी देना पड़ सकता है, लोकिन डेट फंड्स में निवेश हाई लिक्विडिटी ऑफर करता है।
  • शेयर बाज़ार में डायरेक्ट निवेश करने से जोखिम अधिक होता है लेकिन डेट फंड्स में निवेश के जरिये आप शेयर बाजार में तेजी का फायदा तो उठा ही सकते हैं साथ ही अपने जोखिम को भी कम कर सकते हैं।
Write a comment