1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. मेरा पैसा
  5. अपनी बेटी के नाम खुलवाएं सुकन्‍या समृद्ध‍ि खाता, जानिए इसके 10 सबसे बड़े फायदे

अपनी बेटी के नाम खुलवाएं सुकन्‍या समृद्ध‍ि खाता, जानिए इसके 10 सबसे बड़े फायदे

खाता खुलने के दिन से 14 साल पूरा होने तक निवेश करना होता है। यह खाता 21 साल पूरा होने पर मेच्योर होता है। खाते के 14 साल पूरा होने के बाद से 21 साल तक खाते में उस समय के तय ब्याज दर के हिसाब से पैसा जुड़ता रहेगा।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: February 19, 2019 9:37 IST
sukanya samriddhi yojna- India TV Paisa
Photo:SUKANYA SAMRIDDHI YOJNA

sukanya samriddhi yojna

नई दिल्‍ली। अगर आप अपनी बेटी के भविष्य के लिए निवेश प्लान तलाश रहे हैं तो सुकन्‍या समृद्धि योजना (Sukanya Samriddhi Yojana) एक अच्छा विकल्प हो सकता है। किसी भी बैंक और पोस्ट ऑफिस में जाकर कोई भी व्यक्ति या कानूनी अभिभावक 10 साल से कम उम्र की बेटियों के लिए यह खाता खुलवा सकता है।

1 जनवरी 2019 से इस योजना में 8.5 प्रतिशत सालाना चक्रवृद्धि ब्याज मिल रहा है। इस योजना में निवेश करने पर आयकर कानून की धारा 80(सी) के तहत टैक्स छूट का भी फायदा मिलता है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस योजना को 22 जनवरी 2015 में शुरू किया था। योजना अवधि पूरी होने पर पूरा फंड उस लड़की को मिलेगी, जिसके नाम पर ये खाता खुलवाया गया हो। आइए जानते हैं इस योजना से जुड़े 10 बड़े फायदों के बारे में:

1. सिर्फ 250 रुपए से कर सकते हैं शुरुआत

सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) में न्यूनतम 250 रुपए सालाना जमा करना होगा। पहले इसमें 1000 रुपए  सालाना निवेश की अनिवार्यता थी। योजना के तहत अधिकतम 1.50 लाख रुपए सालाना जमा किया जा सकता है।

2. मिल सकते हैं 50 लाख रुपए

सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) के तहत अगर आप हर साल 1 लाख रुपए निवेश करते हैं तो आपको अगले 14 सालों में कुल 14 लाख रुपए निवेश करना होगा। इस खाते पर सरकार ने अब 8.5 प्रतिशत सालाना चक्रवृद्धि ब्‍याज तय किया है। ऐसे में 21 साल बाद जब खाता मेच्योर होगा तो आपका निवेश करीब 50 लाख रुपए के आस-पास हो जाएगा।

3. टैक्स छूट का लाभ

सुकन्या समृद्धि योजना के तहत निवेश पर आयकर कानून की धारा 80C के तहत टैक्स छूट का लाभ लिया जा सकता है।

4. बेटी के 18 साल होने पर निकाल सकते हैं पैसा

अगर बेटी की उम्र 18 साल हो जाती है और उसे पढ़ाई या उसकी शादी के लिए पैसों की जरूरत है तो आप जमा राशि का 50 प्रतिशत हिस्‍सा निकाल सकते हैं।

5. एकमुश्त जमा करना जरूरी नहीं

सुकन्या समृद्धि योजना के तहत आप या तो एक बार में या फिर थोड़ा-थोड़ा करके किस्तों में पैसा जमा कर सकते हैं। नंबर ऑफ डिपॉजिट पर कोई सीमा नहीं है, इसका मतलब है या तो आप हर महीने या तिमाही में या जब भी आपके पास पैसे हों, SSY में रकम जमा कर सकते हैं।

6. खाता बंद होने पर आसानी से हो सकता है चालू

अगर आप किसी साल सुकन्या समृद्धि योजना खाते में न्यूनतम राशि जमा करना भूल जाते हैं तो आपका खाता बंद हो जाएगा। लेकिन 50 रुपए की पैनल्टी फीस के साथ यह खाता दोबारा चालू किया जा सकता है। 50 रुपए पैनल्टी फीस के साथ खाताधारक को वह राशि जिससे उसने खाता खुलवाया है, जमा करनी पड़ेगी.

7. बेटी के 21 साल पूरा होने पर योजना बंद

आप इस योजना को अपनी बेटी के 21 साल उम्र पूरा करने पर बंद कर सकते हैं। उसके बाद यह परिपक्व होगा और और उस लड़की को जमा राशि का भुगतान किया जाएगा जिसके नाम पर खाता खोला गया है।

8. 2 बेटियों के लिए खोल सकते हैं खाता

यह खाता कोई भी व्यक्ति अपनी 10 साल से कम उम्र की 2 बेटियों के लिए खुलवा सकता हैं।

9. 14 साल तक करना है निवेश

सुकन्या समृद्धि योजना में खाता खुलने के दिन से 14 साल पूरा होने तक निवेश करना होता है। लेकिन यह खाता 21 साल पूरा होने पर मेच्योर होता है। खाते के 14 साल पूरा होने के बाद से 21 साल तक खाते में उस समय के तय ब्याज दर के हिसाब से पैसा जुड़ता रहेगा।

10. बैंक और पोस्ट ऑफिस में खोल सकते हैं खाता

यह खाता आप अपने किसी भी नजदीकी पोस्ट ऑफिस में खुलवा सकते हैं। यह खाता किसी प्राइवेट या पब्लिक बैंक में भी खुलवाया जा सकता है।

Write a comment
bigg-boss-13