1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. मेरा पैसा
  5. बाजार के उतार-चढ़ाव से घबराने की नहीं है जरूरत, ऐसे समय में बेहतर रिटर्न देता है असेट अलोकेशन फंड

बाजार के उतार-चढ़ाव से घबराने की नहीं है जरूरत, ऐसे समय में बेहतर रिटर्न देता है असेट अलोकेशन फंड

आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल बैलेंस्ड एडवांस्ड फंड का एयूएम जनवरी 2013 में 487 करोड़ रुपए था, जो सितंबर 2019 में बढ़कर 27,956 करोड़ रुपए हो गया है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: October 23, 2019 12:59 IST
no need to panic from market fluctuations, Asset Allocation Fund gives better returns- India TV Paisa
Photo:NO NEED TO PANIC FROM MAR

no need to panic from market fluctuations, Asset Allocation Fund gives better returns

मुंबई। इस समय जिस तरह का इक्विटी बाजार का माहौल है, ऐसे में असेट अलोकेशन म्यूचुअल फंड निवेशकों के लिए एक बेहतरीन विकल्प साबित हो रहे हैं। 3 साल, 5 साल और 10 साल की अवधि में असेट अलोकेशन की स्कीमों ने बेहतर रिटर्न दिया है। इसमें देश की अग्रणी म्यूचुअल फंड कंपनी आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल शीर्ष पर रही है।

जब भी बाजार उतार-चढ़ाव में रहा है और उस समय जिन निवेशकों ने असेट अलोकेशन का पालन किया है, वह फायदे में रहे हैं। असेट अलोकेशन कैटेगरी में आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल म्यूचुअल फंड पायोनियर रहा है और पिछले एक दशक से इसने इस कैटेगरी में निवेशकों को बेहतर लाभ दिया है।

अर्थलाभ डॉट कॉम के आंकड़े बताते हैं कि सेबी की कैटेगरी मल्टी अलोकेशन में आईप्रू मल्टी असेट फंड ने 3 साल में 8.36 प्रतिशत, 10 साल में 11.99 प्रतिशत का रिटर्न दिया है। जबकि कंजरवेटिव हाइब्रिड फंड में आईप्रू रेगुलर सेविंग फंड ने 5 साल की अवधि में 9.58 प्रतिशत और  3 साल में 7.87 प्रतिशत का रिटर्न दिया है। अग्रेसिव हाइब्रिड फंड की बात करें तो इसके इक्विटी और डेट फंड ने 5 साल में 9.96 प्रतिशत और 10 साल में 13.07 प्रतिशत का रिटर्न दिया है।

आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल बैलेंस्ड एडवांस्ड फंड का एयूएम जनवरी 2013 में 487 करोड़ रुपए  था, जो सितंबर 2019 में बढ़कर 27,956 करोड़ रुपए हो गया है। यानी 6 सालों में इस फंड के एयूएम में 57 गुना से ज्यादा की वृद्धि देखी गई है। साथ ही इसके असेट अलोकेटर फंड के नए अवतार में आने के बाद फरवरी 2019 से लेकर अब तक 3,659 करोड़ रुपए का एयूएम बढ़ा है।

यह फंड इन हाउस असेट अलोकेशन मॉडल का पालन करता है और इसकी वजह से यह तमाम पैरामीटर जैसे सेंसेक्स, निफ्टी प्राइस टू अर्निंग और प्राइस टू बुक अनुपात पर काम करता है। इस फंड के उपरोक्त फंडों ने अपनी कैटेगरी में बेहतर प्रदर्शन किया है, जो बाजार के सभी चक्रों में अच्छा प्रदर्शन करता है। इसका इक्विटी में शुद्ध एक्सपोजर न्यूनतम 10 प्रतिशत से 80 प्रतिशत तक रहता है।

Write a comment
bigg-boss-13