1. You Are At:
  2. खबर इंडिया टीवी
  3. पैसा
  4. मेरा पैसा
  5. Get Approval: बार-बार रिजेक्‍ट हो रही है होमलोन की एप्‍लीकेशन? इन बातों का रखें ख्‍याल तो जल्‍दी बनेगा काम

Get Approval: बार-बार रिजेक्‍ट हो रही है होमलोन की एप्‍लीकेशन? इन बातों का रखें ख्‍याल तो जल्‍दी बनेगा काम

अक्‍सर कुछ छोटी-छोटी गलतियों के चलते होम लोन की एप्‍लीकेशन कैंसिल हो जाती है। जिसके बाद होमलोन मिल पाना और भी मुश्किल हो जाता है।

Dharmender Chaudhary [Updated:28 Nov 2015, 9:24 AM IST]
Get Approval: बार-बार रिजेक्‍ट हो रही है होमलोन की एप्‍लीकेशन? इन बातों का रखें ख्‍याल तो जल्‍दी बनेगा काम- India TV Paisa
Get Approval: बार-बार रिजेक्‍ट हो रही है होमलोन की एप्‍लीकेशन? इन बातों का रखें ख्‍याल तो जल्‍दी बनेगा काम

नई दिल्‍ली। घर खरीदना हम सभी का सपना होता है। लेकिन आपका यह सपना होमलोन से ही पूरा होता है। लेकिन अक्‍सर कुछ छोटी-छोटी गलतियों के चलते हमारी होम लोन की एप्‍लीकेशन कैंसिल हो जाती है। जिसके बाद होम लोन मिल पाना और भी मुश्किल हो जाता है क्‍योंकि बैंक आपके ट्रैक रिकॉर्ड को देखकर ही लोन देते हैं, ऐसे में यदि आपकी लोन हिस्‍ट्री में किसी बैंक का कैंसिलेशन जुड़ गया। तो अगली बार लोन मिलना और भी कठिन हो जात है। इंडिया टीवी पैसा की टीम आपको दे रही है कुछ ऐसे टिप्‍स जिन पर चल कर आप आवेदन रद्द होने की स्थिति से बच सकते हैं।

यह भी पढ़ें- TIPS – सिक्योर नेट बैंकिंग के लिए हमेशा याद रखें ये बातें

सोच समझकर चुनें गारंटर

होम लोन लेते वक्‍त अक्‍सर हम गारंटर की भूमिका नजरअंदाज कर देते हैं। लेकिन कई बार आपकी लोन रिक्‍वेस्‍ट गारंटर के कारण भी कैंसिल हो जाती है। ऐसे में गारंटर बनाने वाले व्‍यक्ति को लेकर ध्यान रखना बहुत जरूरी है। आपको यह सुनिश्चित कर लेना होगा कि क्‍या आपका गारंटर इतना सक्षम है कि आपके लोन अदा न कर पाने की स्थिति वह इसकी भरपाई कर सके। साथ ही गारंटर का भी क्रेडिट स्‍कोर आप ही की तरह बेहतर होना चाहिए।

यह भी पढ़ें- Housing for All: 2022 तक सबके पास होगा घर, सरकार कुछ प्रोजेक्‍ट्स को टैक्‍स लाभ देने पर कर रही विचार

बार बार न बदलें जॉब

बैंक होम लोन देने से पहले लोन लेने वाले व्‍यक्ति की जॉब की स्थिरता को देखता है। कुछ बैंक कम से दो से तीन साल तक एक कंपनी में काम को आधार बना कर होम लोन देते हैं। कई दफा बैंक होम लोन देने से इसलिए भी मना कर देता है कि आवेदन ने जॉब में बहुत कम समय में बदला है।

आपके रेजिडेंशियल एड्रेस से भी पड़ता है फर्क

किराए के मकान में रह रहे हैं और होम लोन के लिए आवेदन करने जा रहे हैं तो यह पहले पता कर लें कि इस पते पर रहने वाला व्‍यक्ति मकान छोड़ने से पहले कहीं, अपने लोन और क्रेडिट कार्ड का बिल बकाया तो नहीं छोड़ गया है। ऐसे स्थिति में बैंक उस आवासीय पते को डिफॉल्टर लिस्ट डेटाबेस में डाल देते हैं। इसको लेकर बैंक लोन देने से मना कर सकते है। ऐसे हालात में आप अपने क्रेडिट स्कोर, पहले चुकाए लोन का हवाला दे सकते हैं।

सिबिल स्‍कोर की करें पड़ताल

होम लोन का आवेदन करने से पहले जरूरी है कि आप अपना सिबिल स्‍कोर जांच लें। सिबिल स्कोर में 300 से लेकर 900 तक स्कोर मिलता हैं। 300 से नीचे का स्कोर होने पर क्रेडिट खराब मना जाता है, वहीं 900 स्कोर बहुत अच्‍छा माना जाता हैं। यदि आपका क्रेडिट स्कोर खराब है तो इसको पहले सही करें। इसके लिए पहले से लिए हुए लोन, क्रेडिट कार्ड का बिल चुका दें। आपके द्वारा लोन चुकाने पर सिबिल इसको अपने रिकॉर्ड में अपडेट करता है। इससे आपका सिबिल स्कोर ठीक हो जाता हैं और बैंक से आसानी से होम लोन मिल जाती है।

कोई लोन नहीं लिया हो तो भी रहें सावधान

देश में ज्‍यादातर लोगों का मानना है कि उनका सिबिल स्कोर बेहतर होगा क्‍योंकि उन्‍होंने कोई लोन नहीं लिया है। पर, हकीकत में ऐसा नहीं होता है। फाइनेंशियल कंपनियां इसको लोन लेने की असमर्थता और जिम्मेदारी से नहीं चुकाने को लेकर देखती हैं। लिहाजा, अगर आपने पहले कोई लोन लेकर उसका सही समय में भुगतान कर दिया हो तो आपका क्रेडिट स्कोर अच्छा रहेगा।

Web Title: क्यों बार-बार रिजेक्‍ट हो रही है होमलोन की एप्‍लीकेशन, जानिए
Write a comment