1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. मेरा पैसा
  5. महिलाओं की जरूरत के अनुसार ये कंपनियां देती हैं ये खास Insurance पॉलिसी

महिलाओं की जरूरत के अनुसार ये कंपनियां देती हैं ये खास Insurance पॉलिसी

As Women have special need and liability so they need special treatment. Insurance companies have special products for them which cater their needs

Surbhi Jain Surbhi Jain
Updated on: August 31, 2016 13:21 IST
Especially for Women: महिलाओं की जरूरत के अनुसार ये कंपनियां देती हैं ये खास Insurance पॉलिसी- India TV Paisa
Especially for Women: महिलाओं की जरूरत के अनुसार ये कंपनियां देती हैं ये खास Insurance पॉलिसी

नई दिल्‍ली। Insurance पॉलिसी कोई भी हो, इसका एक मात्र उद्देश्‍य हमारा और हमारे अपनों का भविष्‍य बेहतर और सुरक्षित बनाना होता है। लेकिन यह बात भी सही है कि एक इंश्‍योरेंस पॉलिसी सभी की जरूरतों को पूरा नहीं कर सकती। क्‍योंकि व्‍यक्ति दर व्‍यक्ति जरूरत और जिम्‍मेदारी अलग-अलग होती है। महिलाओं की बात करें तो यह बात और भी जरूरी हो जाती है। आज के तेजी से ग्‍लोबल हो रहे भारत में महिलाएं हाउस वाइफ के दायरे से बाहर निकलकर प्रोफेशनल लाइफ में नए मुकाम हासिल कर रही हैं। यही ध्‍यान में रखते हुए महिलाओं की जरूरत को देखते हुए Insurance कंपनियां दर्जनों बीमा उत्पाद पेश कर चुकी हैं। इंडिया टीवी पैसा की टीम आज अपनी फीमेल रीडर्स के लिए ऐसी पॉलिसी के बारे में जानकारी लेकर आई है जिनकी मदद से महिलाएं आत्मनिर्भर तो बनेंगी साथ ही उनकी भविष्य की आर्थिक सुरक्षा भी सुनिश्चित होगी।

महिलाओं के लिए कौन सी कंपनियों की हैं पॉलिसी

देश की प्रगति में महिलाओं की बढ़ती हिस्‍सेदारी को देखते हुए लगभग सभी Insurance कंपनियों ने वुमन सेंट्रिक प्रोडक्‍ट पेश किए हैं। इन कंपनियों में सरकारी बीमा कंपनी एलआईसी, आईसीआईसीआई प्रू लाइफ, एचडीएफसी लाइफ, एगॉन रेलिगेयर, बजाज अवीवा लाइफ इंश्योरेंस, बिरला सन लाइफ और कई अन्य कंपनियों ने महिला ग्राहकों के लिए बीमा पालिसी पेश की हैं। एलआईसी के कुल ग्राहकों में से करीब 28 फीसद महिला बीमाधारक हैं। इससे पता चलता है कि महिलाएं अपनी आर्थिक मजबूती के लिए कितनी सजग रहती हैं।

वुमेन इंश्योरेंस में क्या है खास

महिला ग्राहकों को केंद्रित कर तैयार की गई बीमा पालिसी में महिलाओं से जुड़े तमाम जोखिम कवर को शामिल किया गया है। इनमें लाइफ कवर के साथ-साथ बीमारियों से जुड़ कवर भी शामिल हैं। इनमें सामान्य अथवा गंभीर बीमारियां शामिल हैं। महिलाओं की बीमा पालिसी में प्रेग्नेंसी कवर को भी शामिल किया गया है। साथ ही इनके भविष्य की आर्थिक सुरक्षा को देखते हुए पेंशन प्लान में भी महिलाओं के लिए प्रीमियम में छूट प्रदान की गई है। कई कंपनियों ने ऐसी व्यवस्था की है कि अगर कोई महिला पूरे परिवार के लिए फैमिली पालिसी का चयन करेगी तो उसको प्रीमियम में ज्यादा छूट दी जाएगी।

सिंगल वुमन के लिए भी हैं स्‍पेशल प्‍लान

महिला एकांकी जीवन व्यतीत कर रही हैं उनके लिए भी भविष्य की आर्थिक सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए कई बीमा कंपनियों ने फ्यूचर प्रोटेक्शन प्लान भी पेश किए हैं। यह प्लान उन महिलाओं लिए भी अच्छे साबित हो सकते हैं जिनके कंधों पर उनके माता-पिता या सास-ससुर के भरण पोषण का दायत्वि भी है।

बच्‍चों की परवरिश के लिए स्‍पेशल पॉलिसी

बच्चों की सुरक्षा और उनकी शिक्षा को ध्यान में रखते हुए कई कंपनियों ने ऐसे प्लान लांच किए हैं जिनमें एक निश्चित अवधि के बाद महिला को इतनी रकम अवश्य मिल जाती है जिसके जरिये वह अपने बच्चे की शिक्षा के लिए अच्छी रकम हासिल कर सकती है। ग्रुप पालिसी के तहत भी महिलाओं के लिए जीवन बीमा निगम ने कुछ पालिसी पेश कर रखी हैं। इनमें आंगनबाड़ी समूह के लिए भी बीमा पालिसी शामिल है।

कैसी पालिसी खरीदें

बीमा कंपनियों ने यूं तो महिलाओं से जुड़ी पालिसी उतारी हैं लेकिन पालिसी लेते वक्त यदि आपको लगता है कि वुमेन स्पेशल पालिसी से ज्यादा बेहतर कोई अन्य पालिसी है तो आप उसको भी खरीद सकती हैं लेकिन प्रीमियम में जो छूट वुमेन स्पेशल पालिसी पर मिलती है वह सामान्य पालिसी पर नहीं मिलती। इसके पालिसी खरीदते वक्त इस बात का ध्यान रखें कि जो पालिसी आप ले रही हैं आवश्यकता पड़ने पर वह आपकी जरूरतों को पूरा कर पाएगी या नहीं। मान लीजिए आपने बच्चे की उच्च शिक्षा को ध्यान में रखकर कोई पालिसी खरीदी है और आपको 15 साल बात पैसों की जरूरत पड़ती है लेकिन पालिसी 18 साल में पूरी होती है तो ऐसे में आप अपनी जरूरतें नहीं पूरी कर पाएंगी। इसलिए आप पालिसी के चयन में आयु, समय और आवश्यकता का ध्यान जरूर रखें।

बनाएं अपने आप को फुली इंश्‍योर्ड, न भूलें पर्सनल एक्‍सीडेंट पॉलिसी लेना

Write a comment
bigg-boss-13